संचार उपग्रह जीसैट-6 आज होगा प्रक्षेपित, उल्टी गिनती शुरू

By: | Last Updated: Thursday, 27 August 2015 2:25 AM
ISRO to launch GSat-6 communication satellite today

नई दिल्ली: अत्याधुनिक संचार उपग्रह जीसैट-6 को आज प्रक्षेपित किया जाएगा. इसके लिए बुधवार को सुबह 11:52 बजे उलटी गिनती शुरू हो गयी थी. जीसैट-6 से संचार सेवाओं में सकारात्मक सुधार होने की संभावना है.

 

आंध्र प्रदेश के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से बृहस्पतिवार 27 अगस्त को शाम 4:52 पर जीएसएलवी डी6 के साथ यह उपग्रह अंतरिक्ष में भेजा जाएगा. इसरो ने कहा कि जीसैट-6 एस बैंड और सी बैंड के माध्यम से संचार मुहैया कराएगा.

 

उपग्रह की जीवन अवधि नौ वर्ष है. जीसैट-6 2,117 किलोग्राम वजन ले जाने में सक्षम है. जीसेट-6 का वजन 2117 किलोग्राम है. इसमें प्रोपेलेटों का वजन 1132 किलोग्राम और उपग्रह का शुद्ध भार 985 किलोग्राम है. इसरो द्वारा निर्मित जीसेट-6 भारत का 25वां संचार उपग्रह है जबकि जीसैट शृंखला में इसका स्थान 12वां है.

 

इसमें इसरो द्वारा संपादित अब तक का सबसे बड़ा 6 मीटर ब्यास का नहीं मुडऩे वाला एस-बैंड एंटीना लगा है. इस एंटीना का इस्तेमाल भारतीय मुख्य भूमि के ऊपर पांच स्पाट बीम के लिए किया जाएगा.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: ISRO to launch GSat-6 communication satellite today
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: communication GSLV isro satalite Space
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017