‘आगे है कठिन डगर’, मेरे पिता ने कहा मुझसे: शर्मिष्ठा

By: | Last Updated: Saturday, 24 January 2015 10:41 AM
‘It’s a tough road ahead’, my father told me: Sharmistha Mukherjee

नई दिल्ली: प्रतिष्ठित ग्रेटर कैलाश विधानसभा सीट से अपना पहला चुनाव जीतने को लेकर विश्वास से लबरेज राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की बेटी शर्मिष्ठा कठिन मेहनत और धीरजशील होने की अपने पिता की कीमती सलाह पर चल रही हैं.

कांग्रेस के टिकट पर चुनाव मैदान में उतरीं शर्मिष्ठा ने पीटीआई भाषा से कहा, ‘‘मेरे पिता ने मुझसे बस इतना कहा कि तुम जब भी राजनीति में आओ, :तो समझ लो कि: आगे का रास्ता बड़ा कठिन है और वाकई में तुम्हें कठिन परिश्रम करना होगा और धीरजशील बनना होगा. मैं दिमाग में बस इन्हीं शब्दों को रख रही हूं. ’’

 

उनचास वर्षीय शर्मिष्ठा राष्ट्रपति की तीन संतानों में राजनीति में जुड़ने वाली दूसरी संतान हैं. पहले उनके भाई अभिजीत कांग्रेस में शामिल हुए थे, 2011 में पश्चिम बंगाल की नालहाटी विधानसभा सीट से चुनाव लड़ा था. बाद में वह जांगीपुर लोकसभा सीट से सांसद निर्वाचित हुए थे. प्रणब मुखर्जी के राष्ट्रपति निर्वाचित होने के बाद यह सीट खाली हुई थी.

 

ग्रेटर कैलाश सीट से 2013 के विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी :आप: के सौरव भारद्वाज जीते थे. उस चुनाव में कांग्रेस तीसरे स्थान पर रही थी. हालांकि शर्मिष्ठा मानती हैं कि इस बार उनकी पार्टी और भाजपा के बीच दोकोणीय मुकाबला होगा.

 

उन्होंने कहा, ‘‘आप जानते हैं, मैं जहां कहीं जा रही हूं, लोग मुझसे पूछ रहे हैं कि आप कैसे मोदी लहर का मुकाबला करने जा रही है. किसी ने मुझसे यह नहीं कहा कि आप कैसे सौरव भारद्वाज का मुकाबला करने जा रही हैं.’’

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: ‘It’s a tough road ahead’, my father told me: Sharmistha Mukherjee
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017