किरन बेदी पर दिल्ली बीजेपी में नाराजगी, जगदीश मुखी ने कहा- हमसे नहीं की गई किरऩ पर बात

By: | Last Updated: Monday, 19 January 2015 4:42 AM
jagdish_mukhi_on_kiran_bedi

नई दिल्ली: दिल्ली चुनाव के वक्त किरन बेदी के बीजेपी में आने से सनसनी मच गई है. ऐसा लग रहा है कि दिल्ली में बीजेपी पूरा चुनाव ही किरऩ बेदी के नाम पर लड़ रही है. किरऩ बेदी की सीएम उम्मीदवार बनाने की भी चर्चा शुरू हुई है. दिल्ली बीजेपी के तमाम नेताओं को परे रखकर बीजेपी ने किरऩ बेदी को आगे बढ़ाया है. इसका दर्द छलकना भी शुरू हो गया है.

 

दिल्ली बीजेपी के वरिष्ठ नेता जगदीश मुखी ने इंडियन एक्सप्रेस से कहा है कि किरऩ बेदी के बारे में राज्य पार्टी से ज्यादा सलाह मशविरा नहीं किया गया. मुखी के मुताबिक पार्टी की प्राथमिकताएं बदल गई है. बीजेपी को दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी बनाने के लिए 10 करोड़ सदस्य बनाने हैं. इसलिए कोई भी बीजेपी में शामिल हो सकता है. जगदीश मुखी वही नेता हैं जिनको बीजेपी का सीएम उम्मीदवार प्रोजेक्ट करने के लिए केजरीवाल की पार्टी ने पोस्टर तक छपवा दिए थे.

 

दिल्ली बीजेपी के वरिष्ठ नेता जगदीश मुखी ये कह रहे हैं कि पार्टी तो पहले भी सीएम घोषित करके या बिना घोषित किए भी चुनाव लड़ चुकी है. हालांकि कैमरे पर मुखी ने कहा है कि वो पार्टी के हर फैसले के साथ हैं.

मनोज तिवारी किरन को नहीं मानते अपना नेता

कल किरन बेदी के घर चाय पार्टी में नहीं पहुंचने वाले दिल्ली से बीजेपी सांसद मनोज तिवारी ने कहा है कि किरन बेदी को पार्टी ने मुख्यमंत्री का उम्मीदवार नहीं बनाया है, वो पार्टी की महज एक सदस्य भर हैं और उन्हें उसी रूप में देखा जाना चाहिए.

 

दिल्ली चुनाव के वक्त किरन बेदी के बीजेपी में आने और सीएम उम्मीदवार बनाने की चर्चा से सनसनी मच गई है. पहले जगदीश मुखी की दबी-छुपी नाराजगी सामने आई थी लेकिन बीजेपी सांसद मनोज तिवारी ने तो किरन बेदी के खिलाफ खुलकर मोर्चा खोल दिया है.

मनोज तिवारी ने किरन बेदी को नेता मानने से भी इनकार कर दिया. उन्होने ये साफ कह दिया है कि किरन बेदी उनकी नेता नहीं है इसलिए वो कल उनकी चाय पार्टी में नहीं गए थे.

 

हर्षवर्धन से नहीं मिलीं किरन बेदी

कल किरन बेदी के घर चाय से चूके केंद्रीय मंत्री हर्ष वर्धन से जब पूछा गया कि क्या किरन बेदी दिल्ली में बीजेपी का चेहरा है तो फिर हर्ष वर्धन ने कहा कि, ”पार्टी में हर कोई चेहरा है और चेहरे से ज्यादा हमारे लिए नीति सिद्धांत और कार्यकर्ता जरूरी है.”

 

रविवार को बेदी ने दिल्ली के सभी सांसदों की भी मीटिंग अपने घर पर बुलाई थी। सूत्रों के मुताबिक सांसदों को मीटिंग के लिए बीजेपी ऑफिस से बाकायदा सूचना दी गई थी। इस मीटिंग में चांदनी चौक से सांसद और केंद्रीय मंत्री डॉ. हर्षवर्धन देर से पहुंचे। जब तक वह पहुंचे, तब तक किरन बेदी वहां से जा चुकी थीं

सीएम पद पर आखिरी फैसला संसदीय बोर्ड का

वहीं कल राजनाथ सिंह ने भी कहा था कि, ”पार्टी ने अभी तक सीएम पद के लिए किसी को प्रोजेक्ट नहीं किया. दिल्ली में सीएम पद के उम्मीदवार के लिए कोई भी फैसला पार्टी का संसदीय बोर्ड लेगा.”

 

दिल्ली में तीन दिन पहले बीजेपी में आई किरऩ बेदी को पार्टी ऐसे पेश कर रहीं है जैसे वही सीएम की उम्मीदवार बनने जा रही हैं. अभी साफ नहीं है कि किरऩ बेदी को सीएम उम्मीदवार बनाने पर कब फैसला सुनाया जाएगा लेकिन इससे पहले बीजेपी के भीतर से जो आवाजें उठ रही हैं, उससे ऐसा नहीं लगता है कि सब कुछ किरन बेदी के लिए ठीक है.

दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी अपने उम्मीदवारों की सूची आज जारी कर सकती है. आज पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक में संभावित उम्मीदवारों पर चर्चा के बाद प्रत्याशियों की घोषणा की जा सकती है.

 

आपको बता दें कि दिल्ली में 7 फरवरी को वोटिंग होगी तो 10 फरवरी को वोटों की गिनती होगी. साल 2013 में दिल्ली में हुए विधानसभा  चुनाव में बीजेपी को 32,आप को 28, कांग्रेस को आठ और अन्य के खाते में दो सीटें गई थीं. उस समय कांग्रेस के समर्थन से आप ने सरकार ने बनाई थी जो 49 दिनों तक चली और फिर दिल्ली में राष्ट्रपति शासन लागू हो गया.

 

कौन हैं किरन बेदी

पंजाब के अमृतसर में जन्मी किरन बेदी को दिल्ली के अखाड़े में उतारकर बीजेपी ने केजरीवाल के सामने नई चुनौती खड़ी कर दी है.  9 जून 1949 को जन्मी किरन बेदी देश की पहली महिला आईपीएस हैं. 1972 में उन्होंने पुलिस सेवा ज्वाइन की थी.

 

क्रेन बेदी के नाम से मशहूर रहीं किरन बेदी ने पार्किंग का उल्लंघन करने पर प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की गाड़ी को भी उठवा लिया था और जुर्माना भी लगाया था.

साल 1972 से लेकर 2007 तक. पूरे 35 साल तक किरन बेदी पुलिस महकमे में अपनी सेवा देती रहीं. 2007 में किरन बेदी ने रिटायरमेंट ले लिया था. अब किरन ने राजनीति में दूसरी पारी शुरू की हैं.

 

चार साल पहले  2011 में जब दिल्ली के जंतर-मंतर से जनलोकपाल को लेकर आंदोलन खड़ा हुआ था तब अन्ना हज़ारे के मंच पर किरन बेदी नजर आती थीं. उस वक्त अन्ना के एक तरफ अरविंद केजरीवाल नजर आया करते थे और दूसरी तरफ किरन बेदी.

 

हालांकि राजनीति के सवाल पर ही उन्होंने केजरीवाल का साथ छोड़ दिया था. अब बीजेपी में शामिल होकर उन्होंने दिल्ली के तामम सियासी समीकरण उलट पुलट दिये हैं.

 

संबंधित खबरें-

दिल्ली चुनाव एक परीक्षा की तरह है, इसे हल्के में मत लीजिये : अमित शाह  

दिल्ली चुनाव के लिए आज आ सकती है बीजेपी की लिस्ट

राजनीति की वे पत्नियां जिन्होंने अपने पति के सरनेम को दिया मुकाम 

मोदी सूरज हैं, बीजेपी के वे ही चेहरा हैं: किरन बेदी 

बेदी को बाहरवाली मानता है बीजेपी का एक धड़ा 

दिल्ली प्लान: सभी 70 सीटों पर प्रचार करेंगी किरन बेदी, कल रोहिणी में रोड शो 

किरन बेदी ने कुमार विश्वास पर किया हमला, कहा-कवि हैं तो कविता ही करें

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: jagdish_mukhi_on_kiran_bedi
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ????? ????? ???? ?????? BJP Delhi election
First Published:

Related Stories

गोरखपुर ट्रेजडी: राहुल ने की मृतक बच्चों के परिजनों से मुलाकात, BRD अस्पताल भी जाएंगे
गोरखपुर ट्रेजडी: राहुल ने की मृतक बच्चों के परिजनों से मुलाकात, BRD अस्पताल भी...

गोरखपुर: उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में पिछले दिनों बीआरडी अस्पताल में हुई बच्चों की मौत से मचे...

बड़ी खबर: जल्द बीजेपी में शामिल हो सकते हैं कांग्रेस के बड़े नेता नारायण राणे
बड़ी खबर: जल्द बीजेपी में शामिल हो सकते हैं कांग्रेस के बड़े नेता नारायण...

मुंबई: महाराष्ट्र की राजनीति में एक बड़ा भूकंप आने की तैयारी में है. महाराष्ट्र में कांग्रेस...

JDU की बैठक में बड़ा फैसला, चार साल बाद फिर NDA में शामिल हुई नीतीश की पार्टी
JDU की बैठक में बड़ा फैसला, चार साल बाद फिर NDA में शामिल हुई नीतीश की पार्टी

पटना: बिहार की राजनीति में आज का दिन बेहद अहम माना जा रहा है. पटना में नीतीश की पार्टी की जेडीयू...

यूपी: मदरसों को लेकर योगी सरकार का दूसरा बड़ा फैसला, अब जरुरी होगा रजिस्ट्रेशन
यूपी: मदरसों को लेकर योगी सरकार का दूसरा बड़ा फैसला, अब जरुरी होगा...

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने एक अहम फैसले के तहत शुक्रवार से प्रदेश के सभी...

बाढ़ का कहर जारी: बिहार में अबतक 153  तो असम में 140 से ज्यादा की मौत
बाढ़ का कहर जारी: बिहार में अबतक 153 तो असम में 140 से ज्यादा की मौत

पटना/गुवाहाटी: बाढ़ ने देश के कई राज्यों में अपना कहर बरपा रखा है. बाढ़ से सबसे ज्यादा बर्बादी...

CM योगी का राहुल गांधी पर निशाना, बोले- 'गोरखपुर को पिकनिक स्पॉट न बनाएं'
CM योगी का राहुल गांधी पर निशाना, बोले- 'गोरखपुर को पिकनिक स्पॉट न बनाएं'

गोरखपुर: उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज स्वच्छ यूपी-स्वस्थ...

नेपाल, भारत और बांग्लादेश में बाढ़ से ‘डेढ़ करोड़’ से अधिक लोग प्रभावित: रेड क्रॉस
नेपाल, भारत और बांग्लादेश में बाढ़ से ‘डेढ़ करोड़’ से अधिक लोग प्रभावित: रेड...

जिनेवा: आईएफआरसी यानी   ‘इंटरनेशनल फेडरेशन आफ रेड क्रॉस एंड रेड क्रीसेंट सोसाइटीज’ ने...

‘डोकलाम’ पर जापान ने किया था भारत का समर्थन, चीन ने लगाई फटकार
‘डोकलाम’ पर जापान ने किया था भारत का समर्थन, चीन ने लगाई फटकार

बीजिंग:  चीन ने शुक्रवार को जापान को फटकार लगाते हुए कहा कि वह चीन, भारत सीमा विवाद पर ‘बिना...

यूपी: मथुरा में कर्जमाफी के लिए घूस लेता लेखपाल कैमरे में कैद, सस्पेंड
यूपी: मथुरा में कर्जमाफी के लिए घूस लेता लेखपाल कैमरे में कैद, सस्पेंड

मथुरा: योगी सरकार ने साढ़े 7 हजार किसानों को बड़ी राहत देते हुए उनका कर्जमाफ किया है. सीएम योगी...

बिहार: सृजन घोटाले में बड़ा खुलासा, सामाजिक कार्यकर्ता का दावा- ‘नीतीश को सब पता था’
बिहार: सृजन घोटाले में बड़ा खुलासा, सामाजिक कार्यकर्ता का दावा- ‘नीतीश को सब...

पटना:  बिहार में सबसे बड़ा घोटाला करने वाले सृजन एनजीओ में मोटा पैसा गैरकानूनी तरीके से सरकारी...