‘पिंजरा तोड़’ आंदोलन में शामिल लड़कियों का जामिया पर भेदभाव का आरोप

By: | Last Updated: Friday, 29 January 2016 9:14 AM
jamia conducts student elections for men hostels only alleges pinjara tod andolan girls

नई दिल्ली: ‘पिंजरा तोड़’ आंदोलन के सदस्यों ने आरोप लगाया है कि जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय सिर्फ लड़कों के छात्रावास के लिए समिति चुनाव करा कर लड़कियों के भेदभाव कर रहा है. हालांकि यूनिवर्सिटी का कहना है कि कोई भेदभाव नहीं हुआ है और लड़कियों के छात्रावास के लिए भी चुनाव जल्दी ही होंगे.

आंदोलन में भाग ले रही एक लड़की ने पहचान गोपनीय रखने की शर्त पर कहा कि चुनाव इस साल फिर से लड़कों के छात्रावास से शुरू हो रहे हैं. हालांकि लड़कियों के छात्रावास में कोई चुनाव नहीं हो रहा है और ‘मेस के अलावा सांस्कृतिक’ दोनों ही समितियां सिर्फ नाम के लिए हैं और काम नहीं कर रहीं.

जामिया के प्रवक्ता मुकेश रंजन ने कहा, ‘‘यूनिवर्सिटी की ओर से कोई भेदभाव नहीं किया जा रहा है और लड़कियों के छात्रावास के लिए चुनाव भी जल्दी ही होंगे.’’

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: jamia conducts student elections for men hostels only alleges pinjara tod andolan girls
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: election hostel jamia pinjara tod andolan
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017