‘अगर मालूम होता कि वे जिंदा नहीं लौटेंगे तो जाने नहीं देती’

By: | Last Updated: Friday, 28 November 2014 1:40 AM
jammu, arnia sector encounter

फ़ाइल

जम्मू: जम्मू-कश्मीर के अरनिया सेक्टर में आतंकवादी के हमले में अपना प्राण न्योछावर करने वाले जवान सुनील सबरवाल आज सुबह अपनी पत्नी से यह कहकर निकले थे कि वह दोपहर के भोजन के लिए घर लौटेंगे और फिर वे दोनों अपने बेटे के लिए नए कपड़े खरीदने जम्मू चलेंगे. इस सप्ताह उनका बेटा प्रफुल्ल दो साल का हो जाएगा.

 

किस्मत को शायद कुछ और मंजूर था और 30 साल के सुनील अपनी पत्नी से कहे के मुताबिक घर नहीं लौट पाए क्योंकि आतंकवादियों ने हमला कर दिया था. इस हमले में उनकी मौत हो गई.

 

सुनील की पत्नी मीना ने कहा, ‘‘अगर मुझे पता होता कि वह जिंदा नहीं लौटेंगे तो मैं आज उन्हें उधर नहीं जाने देती.’’

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: jammu, arnia sector encounter
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017