मतदान के दौरान झारखंड में हिंसा, जम्‍मू-कश्‍मीर में ग्रेनेड हमला

By: | Last Updated: Tuesday, 25 November 2014 12:56 AM
jammu_kashmir_jharkhand_voting

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर और झारखंड में पहले दौर की वोटिंग शुरू हो चुकी है. दोनों ही राज्यों में बूथों पर वोटरों की लंबी कतार दिख रही है. जम्मू-कश्मीर में लोग बड़ी संख्या में वोट देने घरों से निकले हैं.

 

LIVE UPDATE:

 

# जम्मू-कश्मीर के बांदीपुरा विधानसभा क्षेत्र में एक पोलिंग स्टेशन के पास धमाका, किसी के हताहत की खबर नहीं

 

# जम्मू-कश्मीर के 15 सीटों पर जबरदस्त वोटिंग

 

# सुबह 11 बजे तक झारखंड में 27 फीसद वोटिंग

 

# श्रीनगर के जहांगीर चौक पर फायरिंग. सोनवार से पीडीपी उम्मीदवार मोहम्मद अशरफ मीर के काफिले में तैनात सुरक्षा गार्ड ने तीन-चार राउंड गोलियां हवा में चलाईं. पुलिस ने मामला दर्ज कर गिरफ्तार किया.

 

# सुबह दस बजे तक गुरेज़ में 24 %, बांदीपुरा 15.44%, सोनावरी   16.70%, कंगन 18.49% और गंदेरबल 13.69 % वोटिंग.

 

# झारखंड में हिंसा की खबरें हैं

 

# जम्मू-कश्मीर में ग्रेनेड हमले की खबर है.

 

जम्मू कश्मीर की 15 विधानसभा सीटों पर वोटिंग हो रही है. यहां शाम 4 बजे तक वोट डाले जाएंगे. झारखंड में 3 बजे तक वोट डाले जाएंगे. यहां की 13 विधानसभा सीटों पर वोटिंग हो रही है. झारखंड में नक्सल प्रभावित इलाकों में वोट डाले जा रहे हैं.

 

झारखंड के नक्सल प्रभावित इलाकों में आज विधानसभा चुनावों के पहले चरण के तहत तीस लाख से अधिक मतदाता 199 उम्मीदवारों के भविष्य का फैसला करेंगे. पहले चरण में राज्य की 81 में से 13 सीटों पर चुनाव होंगे, जहां नक्सली हमले की आशंका के मद्देनजर भारी सुरक्षा के बीच मतदान कार्य होगा.

पुलिस के मुताबिक “सुरक्षा के तमाम बंदोबस्त पूरे कर लिए गए हैं. हवाई निगरानी के लिए चार हेलीकॉप्टरों का इस्तेमाल किया जाएगा. भारी संख्या में राज्य तथा केंद्रीय सुरक्षा बलों की तैनाती की गई है.”

पहले चरण में 3,939 मतदान केंद्रों पर कुल 32,59,536 मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे. कुल 1,612 मतदान केंद्रों को आदर्श मतदान केंद्र घोषित किया गया है, जबकि 263 मतदान केंद्रों से वेबकास्टिंग की जाएगी. इसके अलावा, लगभग 1,752 मतदान केंद्रों को अंति संवेदनशील तथा 1,104 को संवेदनशील घोषित किया गया है.

 

मंगलवार को सुबह सात बजे से मतदान शुरू होगा, जो शाम तीन बजे तक चलेगा. भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी), झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) तथा बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) 12-12 सीटों पर ताल ठोंक रही है, जबकि कांग्रेस सात तथा इसका गठबंधन साझीदार राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) छह सीटों पर चुनाव लड़ रही है.

प्रथम चरण के तहत होने वाले चुनाव के प्रमुख उम्मीदवारों में राज्य में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सुखदेव भगत, कांग्रेस से भाजपा में शामिल हुए अनंत प्रताप देव तथा पूर्व मंत्री एवं जनता दल-यूनाइटेड (जेडीयू) उम्मीदवार सुधा चौधरी हैं.

 

झारखंड में विधानसभा चुनाव पांच चरणों में संपन्न होंगे, जो 25 नवंबर से 20 दिसंबर तक चलेगा.

जम्मू-कश्मीर में चुनाव

 

जम्मू एवं कश्मीर में विधानसभा चुनाव के पहले चरण में आज 10 लाख से अधिक मतदाता 123 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला करेंगे.

 

पहले चरण का प्रचार अभियान रविवार को थम चुका है. आज होने वाले मतदान के लिए हजारों सुरक्षाकर्मी और सैकड़ों निर्वाचन अधिकारी सात जिलों के निर्वाचन केंद्रों पर पहुंचने शुरू हो गए हैं.

 

मंगलवार 25 नवंबर यानी आज होने वाले विधानसभा चुनाव के पहले चरण में कश्मीर घाटी के दो जिलों- बांदीपुरा और गंदेरबल, लद्दाख क्षेत्र के दो जिलों- कारगिल और लेह और जम्मू क्षेत्र के तीन जिलों- रामबन, डोडा और किश्तवाड़ में मतदान होगा.

इस चरण में राज्य में सत्तारूढ़ कांग्रेस-नेशनल कांफ्रेंस (एनसी) गठबंधन के लेह, कनगन, सोनवाड़ी, गुरेज, बनिहाल और किश्तवाड़ से सात मंत्री फिर से चुनाव के मैदान में हैं.

 

चुनाव के इस चरण में मात्र दो महिला उम्मीदवार मैदान में हैं. मंगलवार के मतदान में 5,49,696 पुरुष और 5,00,539 महिला मतदाताओं सहित 10,50,250 मतदाता 15 विधानसभा सीटों के लिए 1,787 मतदान केंद्रों पर मतदान करेंगे.

 

राज्य में भदेरवा विधानसभा क्षेत्र में सबसे ज्यादा 1,04,354 मतदाता हैं, जबकि सबसे कम 13,054 मतदाता नुबा विधानसभा क्षेत्र में हैं.

 

भदेवरा और बांदीपुरा निर्वाचन क्षेत्र से सबसे ज्यादा 13-13 उम्मीदवार चुनावी जंग में हैं, जबकि लेह निर्वाचन क्षेत्र से केवल दो उम्मीदवार मैदान में हैं.

 

मतदान प्रक्रिया सुबह आठ बजे से शाम चार बजे तक चलेगी. शांतिपूर्ण और निष्पक्ष चुनाव एवं मतदाताओं की सुरक्षा के लिए राज्य में केंद्रीय अर्धसैनिकों की 275 कंपनियां और राज्य पुलिस के कर्मचारी तैनात किए गए हैं.

 

राज्य की दो प्रमुख क्षेत्रीय पार्टियों- एनसी और पीपल्स डेमोकेट्रिक पार्टी (पीडीपी) ने चुनाव प्रचार में पूरा दमखम लगाया है, जबकि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और कांग्रेस ने भी बेहतर चुनाव प्रचार किया है.

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को किश्तवाड़ में चुनावी रैली को संबोधित किया था, जिसे सुनने के लिए 30,000 से ज्यादा लोग वहां जुटे थे.

 

मोदी ने राज्य के लोगों से 50 से भी ज्यादा दिनों से चले आ रहे वंशवादी शासन को खत्म करने की अपील की. राज्य में लगभग आधे दशक से कांग्रेस-एनसी गठबंधन की सरकार है.

 

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी रामबन और बांदीपुरा में दो चुनावी रैलियों को संबोधित किया था. जम्मू क्षेत्र और कश्मीर घाटी दोनों जगह एनसी और पीडीपी का चुनाव प्रचार जोरों पर रहा. दोनों पार्टियों के वरिष्ठ नेताओं ने आम आदमी की समस्या, धारा 370, भ्रष्टाचार और राज्य की उदार संस्कृति के संरक्षण जैसे मुद्दों को अपना चुनावी हथियार बनाया है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: jammu_kashmir_jharkhand_voting
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017