जम्मू-कश्मीर के कई जिले बाढ़ की चपेट में, बडगाम में मकान धंसने से 10 लोगों की मौत

By: | Last Updated: Monday, 30 March 2015 2:09 AM
JAMMU_KASHMIR_RAIN

नई दिल्ली/श्रीनगर: जम्मू कश्मीर सरकार ने लगातार हो रही बारिश से झेलम नदी में पानी का स्तर बढ़ने के बाद आज रात बाढ़ का अलर्ट जारी कर दिया. मौसम विभाग ने भी घाटी में भारी बर्फबारी की आशंका जताई है और कहा कि 72 घंटों तक मौसम सुधरने वाला नहीं है.

 

श्रीनगर से 20 किलोमीटर दूर बडगाम में बांध टूटने से निचले इलाकों में पानी घुस गया है. बडगाम के छादूरा इलाके में दो घर जमीन में धंस गए हैं जिसमें 10 लोगों की मौत हो गई है और 13 लोग लापता हैं.

 

जम्मू-कश्मीर के उप-मुख्य मंत्री निर्मल सिंह ने जम्मू में आज विधानसभा को हालात से अवगत कराया. उन्होंने बताया कि घाटी में ज्यादातर नाले उफान पर हैं और उनमें पानी का प्रवाह बढ़ रहा है. सिंह ने बताया कि मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद मंत्रियों के एक समूह के साथ घाटी के पूरे हालात की निगरानी कर रहे हैं और जनधन की सुरक्षा के लिए प्रशासकीय प्रयासों पर नजर बनाए हुए हैं. इस दौरान तीन नियंत्रण कक्ष स्थापित किए गए हैं.

 

बाढ़ के कारण अपने घरबार छोड़ने को मजबूर लोगों के लिए कई सरकारी इमारतों में अस्थायी शिविर स्थापित किए गए हैं. घाटी के बाढ़ से घिरे इलाकों से करीब 250 परिवारों को कल सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया. बदगाम जिले के चरारे शरीफ इलाके में शुक्रवार को भूस्खलन के कारण 40 ढांचों को नुकसान पहुंचा था. मुख्यमंत्री ने आज शहर के कुछ इलाकों का दौरा किया.

 

भारी बारिश और भूस्खलन के बाद जम्मू-श्रीनगर हाईवे फिर बंद हो गया है.

 

पीएम मोदी ने अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी को बाढ़ का जायजा लेने के लिए श्रीनगर जाने के लिए कहा है. नकवी दोपहर 12.30 बजे श्रीनगर पहुचेंगे. राज्य प्रशासन ने सेना से मदद मांगी है. रेस्क्यू ऑपरेशन में स्पेशलिस्ट एनडीआऱएफ के 100 जवान भी जम्मू कश्मीर पहुंच रहे हैं.

 

श्रीनगर में झेलम नदी का जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर पहुंच गया है. हालांकि पानी अभी शहर में घुसा नहीं है. पानी का स्तर 23 फीट है. 24 फीट जलस्तर होने पर शहर में पानी घुसता है. पिछले साल पानी का स्तर 32 फीट हो गया था.

 

लोगों को अलर्ट किया गया

सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि झेलम नदी के किनारे रहने वाले लोगों से सतर्क और चौकन्ना रहने को कहा गया है. बुजुर्ग लोगों और बच्चों को भी सुरक्षित स्थानों या घाटी में स्थापित शिविरों में जाने की सलाह दी गई है.

 

उन्होंने बताया कि बाढ़ नियंत्रण ड्यूटी के लिए तैनात सभी कर्मियों से तत्काल ड्यूटी पर रिपोर्ट करने के लिए कहा गया है. यदि जल स्तर 23 फुट से उपर जाता है तो राज्य में जबर्दस्त राहत अभियान चलाना होगा और लोगों को नदी के आसपास के क्षेत्रों से निकालना पड़ेगा.

 

स्कूल बंद रखने के निर्देश

वहीं मौसम विभाग के मुताबिक अगले 72 घंटों में जम्मू-कश्मीर में मौसम सुधरने की कोई गुंजाइश नहीं है. घाटी में भारी बर्फवारी की आशंका भी बनी हुई है. बाढ़ की आशंका को देखते हुए जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने 30 और 31 मार्च को आठवीं कक्षा तक स्कूल बंद रखने के निर्देश जारी किया है.

 

दो दिनों से हो रही जोरदार बारिश के कारण जम्मू-कश्मीर के पूंछ में निचले इलाकों में नदी का पानी घुस गया है. कलई गांव में करीब चार दर्जन लोगों के फंसने की आशंका है.

 

लगातार हो रही बारिश के कारण जम्मू कश्मीर के पुलवामा में बाढ़ जैसे हालात बन गए है और लोग घर छोड़ कर सुरक्षित जगहों पर जाने की तैयारी में जुट गए है.

 

आपको बता दें कि मौसम विभाग ने भी कुलगाम, पुलवामा, बारामूला, कुपपवारा, बांदीपोरा, गांदरबल और करगिल में भूस्खलन की चेतावनी जारी कर दी है.

 

100 एनडीआरएफ कर्मी रवाना, अतिरिक्त चार टीमें तैयार

एनडीआरएफ की 100 सुरक्षाकर्मियों की दो टीमों को जम्मू कश्मीर के लिए रवाना किया गया है.

पंजाब के बठिंडा से 50-50 कर्मियों वाले राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) की दो टीमें भारतीय वायुसेना के विमान से श्रीनगर के लिए रवाना हुईं.

 

एनडीआरएफ के महानिदेशक (डीजी) ओ. पी. सिंह ने यहां पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘कश्मीर घाटी में बाढ़ की आशंका को देखते हुए किसी भी प्रकार की स्थिति से निपटने के लिए हमने पहले से ही हमारी दो टीमें तैनात कर दी हैं.

 

उन्होंने कहा, ‘‘गाजियाबाद और बठिंडा में चार अन्य टीमों को भी तैयार रखा गया है.’’ डीजी ने कहा कि घबराने की जरूरत नहीं है और राज्य सरकार बाढ़ की संभावित स्थिति से निपटने के लिए सुरक्षा बलों की तैनाती सहित सारे प्रयास कर रही है.

 

पिछले साल बाढ़ से जलमग्न हुए कश्मीर घाटी में बड़े पैमाने पर हुए राहत और बचाव अभियानों में अन्य सुरक्षा बलों के साथ एनडीआरएफ ने अहम भूमिका निभाई थी. राज्य के इतिहास में यह अब तक की सबसे भीषण बाढ़ थी.

 

बाढ़ की चपेट में जम्मू-कश्मीर, PM चिंतित 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: JAMMU_KASHMIR_RAIN
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: flood government High-Alert Jammu Kashmir rain
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017