जाट आंदोलन: हाइवे जाम, सैकड़ों ट्रेनें निरस्त, कई शहरों में कर्फ्यू, 10 की मौत

By: | Last Updated: Sunday, 21 February 2016 1:42 PM
jat agitation turns into unruly violence, 10 killed

सोमवार को जाट समुदाय के आंदोलन का दूसरा दिन है. आज से दिल्ली और यूपी समेत 13 राज्यों में भी धरना शुरू किया जाएगा. दिल्ली के कई इलाकों में धारा 144 लगा दी गई है. पुलिस आंदोलनकारियों पर कड़ी नजर रख रही है. आंदोलन की शुरूआत रविवार को हरियाणा के जींद से हुई थी. इससे पहले जाट आंदोलन की आग में हरियाणा ऐसा जला था कि लोग उन घटनाओं को याद कर आज भी सिहर उठते हैं...आगे पढ़िए...

नई दिल्ली: हरियाणा में ओबीसी कोटे के तहत आरक्षण की मांग कर रहे जाट प्रदर्शनकारियों के आंदोलन के चलते लगातार हिंसा बढ़ रही है. कहीं बाजार में आग लगाने की घटना सामने आ रही है तो कहीं रेलवे स्टेशन को ही फूंक दिया गया है. पुलिस प्रदर्शनकारियों की झड़प में अब तक 10 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 150 से ज्यादा घायल हैं.

हरियाणा के 6 जिलों रोहतक, झज्जर, सोनीपत, भिवानी, जींद, हिसार में कर्फ्यू लगा हुआ है. रोहतक, झज्जर, सोनीपत, पानीपत, भिवानी, जींद, हिसार, कैथल, करनाल जिलों में आंदोलन जारी है.

इन आंदोलन के कारण राज्य में हाइवे जाम है, सैकड़ों ट्रेनें रद्द की गई हैं, कई शहरों में कर्फ्यू लागू है.

अब तक हिंसा के आरोप में 45 लोग गिरफ्तार किए गए हैं. हिंसा पर काबू पाने के लिए पैरा मिलिट्री फोर्स की 24 कंपनियां तैनात की गई हैं.

राजनाथ सिंह के साथ बैठक

जाट आंदोलन को लेकर बिगड़े हालात को लेकर दोपहर साढ़े तीन बजे केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह के घर पर जाट और हरियाणा के मंत्रियों के साथ बैठक होगी.

इससे पहले, आंदोनकारियों को मनाने की रणनीति के तहत दिल्ली में कल यानी शनिवार को गृह मंत्री राजनाथ सिंह के घर जाट नेताओं की बैठक हुई. सूत्रों के मुताबिक इस बैठक में शामिल जाट नेताओं के साथ गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने आंदोलन से जुडे तमाम पहुलओं पर चर्चा की. इससे पहले सीएम खट्टर ने आंदोलनकारियों की बात मानने का भरोसा दिया था लेकिन उसका आंदोलनकारियों पर असर नहीं हुआ.

800 से ज्यादा ट्रेंने प्रभावित
शनिवार को राज्य में रेल और सड़क परिवहन प्रभावित रहा जिस कारण दिल्ली, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, जम्मू और कश्मीर और चंडीगढ़ के लिए विभिन्न राष्ट्रीय राजमार्गों से सेवा बाधित रही. आंदोलन के कारण करीब 800 ट्रेनों की आवाजाही पर असर पड़ा. आंदोलन का सबसे अधिक प्रभाव रोहतक में है. पूरे मामले को लेकर ‘जाट आरक्षण बचाओ महा आंदोलन’ के चीफ कॉर्डिनेटर सुबह 11 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे.

आज जंतर मंतर पर प्रदर्शन
जाट समुदाय के लोग आरक्षण की मांग को लेकर आज दोपहर 12 बजे विरोध प्रर्दशन करेंगे. इसके साथ ही जाट समुदाय के लोगों ने आज सुबह 11 बजे से दोपहर 1 बजे तक पश्चिमी यूपी बंद का एलान किया है.

मानेसर और गुड़गांव में मारुति प्लांट में काम ठप
गुड़गांव में भी जाट समुदाय के लोगों का विरोध प्रदर्शन जारी है और मानेसर में स्थित मारुति प्लांट में भी जाट आरक्षण के कारण काम ठप हो गया है. प्रदर्शनकारियों के उग्र रूप के कारण और जाम के प्रभाव से फैक्टरी तक माल नहीं पहुंच पा रहा है.

5500 स्थाई कर्मचारी और 8 हजार अस्थाई कर्मचारियों को मारूति ने जाट आंदोलन के चलते छुट्टी पर भेज दिया है. मानेसर और गुडगांव के प्लांट बंद कर दिये गये है. दोनों प्लांटों मे रोजाना 5 हजार कारों का उत्पादन होता है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: jat agitation turns into unruly violence, 10 killed
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Haryana Jat agitation
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017