आंतकी हमले में पैरों को खोया, लेकिन संवार रहे हैं इतनी जिन्दगियां

By: | Last Updated: Thursday, 4 September 2014 3:54 PM
javed teach challenged students

नई दिल्ली : 5 सितंबर को देश में शिक्षक दिवस मनाया जाएगा. देश भर में 3 करोड़ से ज्यादा शारीरिक रूप से कमजोर बच्चे हैं लेकिन इनमें से कुछ ही बच्चे बाकी बच्चों के साथ स्कूल में पढ़ पाते हैं. कश्मीर के जावेद टाक ने ऐसे ही बच्चों को पढ़ाने का बीडा उठाया है. जावेद आतंकी हमले में अपने पैरों पर खड़े होने की शक्ति खो चुके हैं लेकिन उनका हौसला पहले से ज्यादा मजबूत हो चुका है.

 

हम आपको शिक्षकों के जज्बे की कहानियां सुना रहे हैं लेकिन ये कहानी स्कूल में बच्चों के शोर से शुरू नहीं हो रही. ये कहानी जावेद अहमद टाक के घर से शुरू हो रही है. श्रीनगर से 50 किमी दूर अनंतनाग जिले के बिजबेहरा कस्बे में जावेद का घर है. जावेद या तो इस बिस्तर पर होते हैं या फिर इस व्हीलचेयर पर. स्कूल के जाने का वक्त होता है तो जावेद तैयार होते हैं. फिर व्हीलचेयर से गाड़ी तक जाते हैं गाड़ी उन्हें स्कूल लेकर जाती है और जावेद यहां किसी ना किसी शारीरिक कमजोरी से लड़ रहे बच्चों को शिक्षा के जरिए मजबूत बनाने की कोशिश करते हैं.

 

बीएसएफ जवानों की इस नेक कोशिश को सलाम

वाराणसी के बच्चों के हीरो हैं 72 साल के शिक्षक चंद्रशेखर सिंह

 सालों से बिना थके सिखाने का जारी है ये सिलसिला

 

39 साल के जावेद साल 1997 आतंकी हमले का शिकार हुए थे. गोली रीढ़ की हड्डी में लगी थी. अस्पताल में जब होश आया तो पता चला कि जावेद अब कभी चल नहीं पाएंगे. फाइनल ईयर की परीक्षा दे चुके जावेद पास तो हो चुके थे. लेकिन जिंदगी बिस्तर पर सिमट गई थी. जावेद ने हार नहीं मानी. वह खुद भी आगे बढ़े औऱ अपने साथ तमाम बच्चों का हाथ पकड़कर उन्हें भी आगे ले जाने का फैसला किया.

 

पहले घर में बच्चों को ट्यूशन दी. फिर इन बच्चों की बात समझ सकें इसके लिए तमाम तरह के कोर्स भी किए. कोर्स के बाद साल 2004 में बिजबेहरा में शारीरिक रूप से कमजोर बच्चों के लिए ये स्कूल शुरू किया. जावेद का ये हौसला औरों के लिए भी प्रेरणा बन चुका है.

 

जावेद को राज्य सरकार ने स्टेट अवार्ड से नवाज़ा और केंद्र सरकार ने जावेद की हिम्मत और हौसले के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार दिया. जावेद को सरकारी नौकरी के ऑफर मिले लेकिन जावेद ने इन बच्चों को चुना.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: javed teach challenged students
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017