MP के मंत्री और विधायक नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी को नहीं पहचानते

By: | Last Updated: Thursday, 11 December 2014 1:00 AM
kailash satyarthi_Nobel Prize Winner_

भोपाल: मध्य प्रदेश के विदिशा में जन्मे कैलाश सत्यार्थी को शांति का नोबेल पुरस्कार मिलने पर भले ही पूरी दुनिया जान गई हो मगर उनके ही गृह प्रदेश के कई मंत्री और विधायक ऐसे हैं जो उनके बारे में जानते तक नहीं हैं.

 

वे तो सिर्फ एक ही कैलाश को जानते है वह हैं राज्य के कद्दावर मंत्री कैलाश विजयवर्गीय. कैलाश सत्यार्थी को नोबेल पुरस्कार मिलने के बाद कुछ पत्रकारों ने सरकार के मंत्रियों और विधायकों से प्रतिक्रिया लेनी चाही.

 

मंत्री कुसुम महदेले से जब सवाल किया गया कि नोबेल पुरस्कार मिला है कैलाश को, तो वे पहले तो कुछ अटकी और प्रतिप्रश्न करते हुए बोली कि क्या अपने कैलाश को, वाह क्या बात है.

 

कुसुम महदेले ने आगे कहा ”हमारे साथी है…बहुत बड़ी बात है जी…हमारे लिए गर्व की बात है जी…पूरे सदन के लिए पूरे मध्य प्रदेश के लिए गर्व की बात है.”  इसी तरह राजस्व राज्यमंत्री ज्ञान सिंह तो विजयवर्गीय की कार्यशैली का बखान करने में पीछे नहीं रहे.

 

एमपी बीजेपी के विधायकों और मंत्रियों ने तो यहां तक कह दिया कि मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने इंदौर में काफी अच्छा काम किया है, जिसकी बदौलत उन्हें नोबेल पुरस्कार मिला.

 

यही हाल बीजेपी के विधायक दिलीप सिंह परिहार व रंजीत सिंह का रहा. जिन्होंने विजयवर्गीय के पिछले कार्यकाल से लेकर इस बार के उनके विभाग द्वारा किए गए कामों का ब्यौरा दे डाला.

 

वीडियो देखने के लिए नीचे क्लिक करें-