कैलाश मानसरोवर के श्रद्धालुओं के लिए आज नाथूला दर्रा खोलेगा चीन

By: | Last Updated: Monday, 22 June 2015 1:20 AM
kailash_mansarovar_nathula_way_to_open_today

नई दिल्ली: श्रद्धालुओं के लिए चीन और भारत सीमा से बस के जरिये कैलाश मानसरोवर की यात्रा को सुगम बनाने हेतु आज सिक्किम की नाथूला सीमा बिंदु खोली जायेगी. इससे पहाड़ी रास्तों पर चलकर और घोड़े पर बैठकर सफर करने की मुश्किलों से बचा जा सकेगा.

 

44 श्रद्धालुओं और सहायता कर्मियों का पहला जत्था कल इस बिंदु से चीन में प्रवेश करेगा. यह जगह यहां से करीब 31 किलोमीटर दूर है.

 

श्रद्धालुओं के स्वागत के लिए एक बड़े समारोह की योजना बनायी गयी है जिसमें भारत में चीन के राजदूत ली यूचेंग और बीजिंग स्थित भारतीय दूतावास के राजनयिक हिस्सा लेंगे.

 

पिछले साल चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग की भारत यात्रा के दौरान दूसरे रास्ते को खोलने से जुड़ा समझौता किया गया था.

 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पूर्व में शी से श्रद्धालुओं की मुश्किलें कम करने के लिए इस रास्ते को खोलने का अनुरोध किया था.

 

मोदी उत्तराखंड और नेपाल के पारंपरिक दुर्गम रास्तों को ध्यान में रखते हुए कैलाश मानसरोवर यात्रा के लिए दूसरा रास्ता चाहते थे.

 

विदेश मंत्रालय द्वारा आयोजित की जाने वाली यात्रा पूर्व में हिमालय के लिपू र्दे से होते हुए पूरी होती थी. लिपू दर्रा उत्तराखंड के कुमाउं से तिब्बत के तकलाकोट शहर को जोड़ता है.

 

विदेश मंत्रालय 22 दिनों की यात्रा के लिए 18 जत्थों में 1,000 से अधिक लोगों को यात्रा की मंजूरी देता है.

 

नाथूला के रास्ते से श्रद्धालु बस के सहारे कैलाश की 1,500 किलोमीटर लंबी यात्रा पूरी करेंगे.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: kailash_mansarovar_nathula_way_to_open_today
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017