प्रेस कॉन्फ्रेंस में कपिल शर्मा: जानें, मोदी-केजरीवाल पर क्या है उनकी राय?

By: | Last Updated: Saturday, 26 September 2015 2:51 PM
Kapil sharma in press confrence

एबीपी न्यूज के खास कार्यक्रम में मशहूर कॉमेडियन कपिल शर्मा. उन्होंने हर तीखे सवाल का जवाब दिया.

 

दिबांग- अगर आप को अपने आप को इन्ट्रोड्यूज करना हो तो कैसे कराएंगे.

 

कपिल- सर मैं यहां आकर वैसे ही डर गया हूं पता है आप लोग एक-एक आदमी दस-दस नेताओं को संभाल लेते हो, आप इकट्ठे दस बैठ गए हो आज, मेरा खून सूख गया है सर मेरा हीमोग्लोबिन कम हो रहा है. पता नहीं आप मेरे बारे जब बोल रहे थे कि हंसी का काम संभाल रखा है तो मुझे लग रहा था कि आप मेरे ऊपर कोई मर्डर चार्ज लगाने वाले हैं. एक्चुली सर मैं आप को न्यूज पढ़ते हुए या ऐसे कोई न्यूज सुनाते हुए देखता हूं ना तो आज आप को देख के ऐसे ही लग रहा था कि आज आप ऐसे ही दो-तीन इल्जाम लगाने वाले हो लेकिन शुक्र है आज अच्छे मूड में हैं.

 

दिबांग- कैमरा आपका इधर लगा हुआ है और आप को सीधे बैठ कर अपना परिचय देना है.

 

कपिल- प्रेसकॉन्फ्रेंस में आप स्वागत कर सकते हैं के नए हीरो जिसका नाम है कपिल शर्मा.

 

दिबांग- आप पहले से काफी बदल गए हैं. क्या-क्या बदला है.

 

कपिल- बटुआ थोड़ा मोटा हो गया है. पर एक्चुली सर कहूं तो बदला कुछ भी नहीं है, वही है सबकुछ पर ये है कि अब जब बाहर जाते हैं तो लोगों का बहुत प्यार मिलता है और ये जो न्यूज चैनल हम देखते थे आज वहां पर आने का मौका मिलता है. बदलाव तो हुए हैं. थोड़ा व्यस्त हो गया हूं. पर मुझे ऐसा नहीं लगता कि पर्सनली मुझमें कोई बदलाव आया है.

दिबांग- आप ने कभी सोचा कि आप फिल्म स्टार भी बनेंगे. ये सारे दरवाजे अपने-आप खुलते चले गए या आप ने धक्का लगाया.

 

यहां देखें पूरा एपिसोड-

प्रेस कॉन्फ्रेंस: पीएम मोदी से पर्सनली मिलना चाहता हूं- कपिल शर्मा 

 

कपिल- सर मैंने कभी धक्का नहीं लगाया. मैं एक टाइम पर एक चीज पर फोकस करता हूं, जैसे आप ने दिखाया लाफ्टर चैलेंज का मुद्दा तो उसमें रिजेक्ट हुआ था तो मेरा एक ही फोकस था कि मुझे इसमें सलेक्ट होना है. पहले रिजेक्ट हुआ, फिर सलेक्ट हुआ और बाद में विनर भी बना मैं शो का. उसके बाद मैं अपने एफर्ट करता गया. थोड़े बहुत टीवी शो करता गया. उसके बाद मेरे मन में एक चीज थी कि मुझे अपना शो प्रोड्यूस करना है. अभी तक मैं जिन भी शो में काम करता हूं,उनके हिसाब से करता हूं, उनके फॉर्मेट में काम करता हूं. मुझे लगता है कि एक इंसान से बेहतर कोई नहीं जान सकता कि वो कितना बेहतर काम कर सकता है.

 

सवाल- एक सर्वे हुआ और उसमें पता चला कि सबसे चर्चित चेहरे को मुख्यमंत्री बनाया जाए और उसके बाद हमने सुना कि पूरी बीजेपी पार्टी आप के पीछे पड़ गई है.

 

कपिल- ये लाइन आप रिपीट करेंगी जरा. आप ने ये मजाक में पूछा या सीरियसली बोल रही हैं आप.

सवाल- आप सीरियसली चाहते हैं कि आप मुख्यमंत्री बन जाएं बिहार के

 

कपिल- मैं आप को साफ-साफ बताऊं कि मुझे लोग बहुत प्यार करते हैं. मैं कहीं पर जाऊं चाहे बिहार जाऊं, चाहे झारखंड जाऊं, चाहे असम जाऊं. मैं नहीं चाहता कि मैं पॉलिटिक्स में घूस जाऊं और जो दूसरी पार्टी के लोग हैं जो मेरा शो देखते हैं, अचानक से मेरे विरोध में हो जाएं और कहें कि इसका वो एपिसोड देखिए उसमें ये गलत कर रहा था. और मैं समझता भी नहीं हूं इस लायक, मुझे राजनीति का A,B,C,D भी नहीं पता है. पर ऐसा कुछ है तो I am filling very proud.

 

दिबांग- बीच-बीच में अंग्रेजी क्यों बोलने लग जाते हैं.

 

कपिल- सर I’m trying to improve my english actually. पता है अपने लोगों के साथ बोलता नहीं था, जो अमृतसर में अंग्रेज लोग आते थे उनके साथ मैं बोलता था क्योंकि पता है सर अंग्रेज लोग ना गलती नहीं निकालते  हैं वो थॉट पकड़ते हैं. उनको बोल दो tea तो वो समझ जाते हैं कि चाय पूछ रहा है आप को. यहां पर पूरा पूछना पड़ता है यार ठीक है थॉट समझो आदमी का,अंग्रेजी क्यों झाड़ते हो तो आजकल मैं थोड़ा इप्रूव कर रहा हूं सर. मेरी एक विदेशी गर्लफ्रैंड है फिल्म में तो मुझे ये है कि मैं उसे भी थॉट अच्छे से समझा दिया करूंगा.

 

दिबांग- कभी कोई गलतफहमी हुई इस थॉट पकड़ने के चक्कर में

कपिल- सर बहुत बार होता है ऐसा. हमारे डायरेक्टर जो हैं उन्हीं के साथ हुआ था ऐसा कि ये रूस में कहीं शूट कर रहे थे. तो अब्बास भाई औप मस्तान भाई को तो वो समझा रहे हैं गोरी को कि tea, can we have some tea उसको समझ में ना आए. दो घंटे लग गए और उसको समझ में ना आए और ये परेशान कि उसको कैसे बताएं. बाद में कोई प्रोडक्शन वाला आदमी था जिसको इंग्लिश भी आए और रशियन भी आए तो उसने बोला आप को क्या चाहिए. What do u want तो अब्बास भाई ने बोला कि हमें चाय चाहिए. तो उसने बोला बोलिए ना चाय चाहिए. यहां रशिया में चाय को चाय ही कहते हैं. तो ऐसा भी होता है और मेरे साथ तो बहुत होता रहा है सर. पर अब मैं सुधर गया हूं. मेरी अंग्रेजी पहले से अच्छी हो गई.

 

सवाल- पीएम मोदी आप की तुलना अक्सर राहुल गांधी से करते रहे हैं. अपनी पिछली चुनाव रैली में तो उन्होंने ये भी कह दिया कि अब कपिल शर्मा का टीवी शो जल्द ही बंद हो जाएगा क्योंकि राहुल गांधी के भाषण ही काफी हैं, उनको देखने के बाद मनोरंजन की आवश्यकता नहीं पड़ती है. तो इतने बड़े नेता मोदी जी आप की तुलना कांग्रेस के इतने बड़े नेता से करते हैं तो आप को कैसा लगता है.

 

कपिल- सर और सब छोड़िए मुझे ये ही बहुत अच्छा लगता है कि जो तुलना कर रहे हैं और जिनसे कर रहे हैं वो दोनों बहुत बड़े लोग हैं  और पीएम कैंडिडेड के लिए आपस में इनकी जंग थी. तो अगर मेरा नाम आता है तो मैं इन्जॉय करता हूं कि बड़ी-बड़ी हस्तियां मेरा नाम ले रही हैं. मुझे तो खुशी होती है पर वो किस तरीके से लेते हैं वो उनका नजरिया है. मेरी राजनीति में बहुत कम रूचि रही है लेकिन मैं मोदी साहब को मैं फॉलो करता रहा हूं क्योंकि उनसे भी एक प्रेरणा मिलती है मुझे. क्योंकि वो एक छोटी से जगह से उठ कर देश के प्रधानमंत्री बन गए.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Kapil sharma in press confrence
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ABP News Kapil Sharma press confrence
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017