कश्मीर में मुठभेड़ खत्म,आतंकियों के कमांडर सहित 3 आतंकवादी ढेर

By: | Last Updated: Tuesday, 2 September 2014 5:12 PM

श्रीनगर: दक्षिणी कश्मीर के पुलवामा जिले में सोमवार रात सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच शुरू हुई मुठभेड़ में जैश-ए-मुहम्मद (जेईएम) के कमांडर सहित तीन आतंकवादियों को मार गिराया गया.

 

भारतीय सेना ने नियंत्रण रेखा पर भारतीय क्षेत्र में आतंकवादियों को भेजने के उद्देश्य से बनाई गई सुरंग का उद्भेदन किया. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने मंगलवार को यहां बताया, “पुलवामा जिले के हजनबाला गांव (राजपुरा) में सुरक्षाबलों और छिपकर बैठे आतंकवादियों के बीच हुई मुठभेड़ में जेईएम के तीन आतंकवादी मारे गए.

 

इनमों आतंकवादियों का जिला कमांडर और हाल ही में आतंकवादी संगठन में शामिल हुआ एक किशोर शामिल है.”

 

उन्होंने बताया, “तीनों आतंकवादियों के शव बरामद कर लिए गए हैं. मुठभेड़ स्थल से एक एके-47 राइफल और एक स्वचालित राइफल बरामद हुई है.”

 

पुलिस ने आतंकवादियों के जेईएम से जुड़े होने की पुष्टि की है, उनकी पहचान जेश के जिला कमांडर अल्ताफ अहमद राथर, फारूक अहमद लावे और शौकत अहमद डार (19) के रूप मों हुई है. शौकत के बारे में बताया जा रहा है किोवह पिछले ही महीने ने जैश में शामिल हुआ था.

 

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने आईएएनएस को बताया कि सुरक्षाबलों को सूचना मिली थी कि पुलवामा के हजनबाला गांव में एक घर के अंदर तीन आतंकवादी छिपे बैठे हैं. सूचना के आधार पर पुलिस के विशेष दस्ते और राष्ट्रीय राइफल्स व केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल ने सोमवार रात उस घर पर धावा बोला.

 

अधिकारी ने कहा, “जब आतंकवादियों को आत्मसमर्पण करने के लिए कहा गया था, तो उन्होंने सुरक्षाबलों पर गोलीबारी शुरू कर दी, जिस पर उन्होंने जवाबी कार्रवाई की. इसके बाद शुरू हुई मुठभेड़ मंगलवार दोपहर तक चली.”

 

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि सबसे पहले शौकत मारा गया.

 

ग्रामीणों ने कहा कि सुरक्षा बलों ने बाद में घर को उड़ाने के लिए विस्फोटकों का इस्तेमाला किया जिससे बाकी के दो आतंकवादी उसी में दफन हो गए.

 

आतंकवादियों को दफन करने के लिए शव ग्रामीणों को सौंप दिए गए.

 

मुठभेड़ खत्म होने के बाद ग्रामीणों ने पुलिस के साथ संघर्ष किया. इस संघर्ष में नागरिकों और पुलिसकर्मियों सहित 12 लोग घायल हुए.

 

मुठभेड़ शुरू होने पर किशोर आतंकवादी के पिता गुलाम अहमद डार को सुरक्षा बलों ने बुलाया ताकि वे अपने बेटे से समर्पण की अपील कर सकें.

 

एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि लेकिन आतंकवादी कमांडर ने उसे पिता की अपील नहीं सुनने के लिए पकड़े रखा.

 

पुलिस ने कहा कि जैश के कमांडर का मारा जाना एक बहुत बड़ी सफलता है.

 

इस बीच सेना ने नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान से भारतीय क्षेत्र में बनाई गई सुरंग का उद्भेदन किया. इस सुरंग का इस्तेमाल आतंकवादियों को भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ कराना था. यह सुरंग अखनूर सेक्टर में पाई गई. यह जानकारी सेना के एक प्रवक्ता ने दी है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Kashmir_Army_terrorist_Commander_
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017