बाढ़ से जम्मू में फसलें नेस्तनाबूद, अनुमानित 365 करोड़ रूपए का नुकसान

By: | Last Updated: Friday, 19 September 2014 8:29 AM

नई दिल्ली: हाल की बाढ़ का पानी घटने के बाद अब जम्मू में कृषि क्षेत्र पर इसकी विभीषिका साफ दिख रही है. जहां 365 करोड़ रूपए की फसल और 13,000 हेक्टेयर खेती योग्य जमीन नष्ट हो गई.

 

अधिकारियों के अनुसार बाढ़ ने 248 करोड़ रूपए की मक्के की फसल नष्ट हो गयी है. इसी तरह 48 करोड़ रूपए के धान और करीब 40 करोड़ रूपए की सब्जी, दलहन एवं केसर की खेती प्रभावित हुई है.

 

कृषि निदेशक (जम्मू) एस एस जामवाल ने प्रेट्र ने कहा ‘‘अचानक आई बाढ़ में जम्मू क्षेत्र की करीब 365 करोड़ रूपए की फसल को नुकसान हुआ है.’’ उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में प्राथमिक आकलन के आधार पर सरकार को विस्तृत रपट सौंपी गई है.

 

जामवाल ने स्वयं फसल और कृषि भूमि को हुए नुकसान का आकलन करने वाले कृषि विभाग के दल का नेतृत्व किया था. उन्होंने कहा कि बाढ़ ने 13,000 हेक्टेयर कृषि भूमि लील ली.

 

तवी, बसंतर और देवक नदी ने कई जगहों पर अपना मार्ग बदल दिया है जिससे जम्मू और सांबा जिलों के निकी तवी एवं रामगढ़ क्षेत्रों में कृषि भूमि के बड़े हिस्से को नुकसान पहुंचा है.

 

जामवाल ने कहा ‘‘सरकार की सबसे बड़ी चुनौती यह सुनिश्चित करना है कि कृषि भूमिका को सुरक्षित किया जाए और फिर इनका उपयोग कृषि के लिए किया जाए.’’ कृषि विभाग ने इस बात पर जोर दिया है कि 14 सितंबर से जम्मू क्षेत्र के विभिन्न जिलों में आई बाढ़ और भारी बारिश से सब्जी, धान, मक्का, दलहन और चारे की फसल को हुए नुकसान का मौके पर आकलन करने के लिए जांच दल दल बनाये जाएं.

 

जामवाल ने कुक्रियान, कोठे मनहासन, हरिपुर, चाक जग्गर, थुब, महावीर बस्ती, कोठे पुराण, घो मनहासन, संदावन, भगतपुर, सुहागनी, चक्राली, नई बस्ती, माढ़, कना चक, कयनपुर, पंजोर ओर पास से माढ़ सब-डिविजन के क्षेत्रों के किसानों के साथ विस्तृत बातचीत की.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: kashmir_floods
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Jammu Kashmir kashmir floods
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017