कौशांबी : खुले में शौच के खिलाफ मुहिम, लोटे के साथ महिलाओं की ली तस्वीरें

By: | Last Updated: Wednesday, 16 March 2016 9:45 AM
Kaushambi : District Administration’s clean drive

नई दिल्ली/लखनऊ : यूपी के कौशाम्बी में लोगों को खुले में शौच करने से रोकने और घरों में शौचालय बनवाने को मजबूर करने के लिए ज़िले के डीएम ने अनूठी पहल की है. डीएम अखंड प्रताप सिंह अपनी टीम के साथ खुद ही गांवों में छापेमारी कर खुले में शौच करने वालों को रंगे हाथ पकड़ रहे हैं. सीटियां बजाकर पहले उन पर फूल बरसा रहे है, फिर ताने मारते और शर्मसार करते हुए उनसे गंदगी पर मिट्टी डलवाई जा रही है.

kaushambhi dm muhim 2

नंगे हालत में पकड़े जा रहे लोगों की फोटो व वीडियो भी बनवाई जा रही है. हालांकि गांधीगिरी के नाम पर गरीबों और महिलाओं को बेइज़्ज़त करने के डीएम के इस अनूठे तरीके पर सवाल भी उठ रहे हैं. चौंकाने वाली ये घटना यूपी के कौशाम्बी ज़िले के बबुरा गाँव की हैं. मंगलवार की सुबह गाँव के जुम्मन चाचा शौच करने के लिए बैठे ही थे कि दर्जनों लोगों ने सीटियां बजाते हुए उन्हें घेर लिया.

उन्हें कुछ समझ आता इससे पहले ही नंगी हालत में ही उनके फोटो व वीडियो बनाए जाने लगे. हड़बड़ाकर पैंट सही करते हुए वह उठ खड़े हुए तो डीएम अखंड प्रताप सिंह ने गांधीगिरी दिखाते उन्हें फूल भेंट किये. जुम्मन चाचा कुछ समझ पाते, इससे पहले ही उन पर फूलों की बारिश भी शुरू हो गई. 65 बरस के जुम्मन मियां शर्म के मारे निगाह नीची कर सिर झुकाए अपनी तकदीर को कोसते रहे.

kaushambhi dm muhim 3

डीएम व साथ आई छापेमारी टीम ने उन्हें आइंदा खुले में शौच नहीं करने और घर में जल्द से जल्द शौचालय बनवाने की नसीहत दी. जुम्मन चाचा को अपनी गंदगी पर मिट्टी डालने को कहा. जुम्मन चाचा जैसी ही हालत उन दर्जनों लोगों की भी हुई, जो खुले में शौच करते हुए पकड़े गए. सीटियों के शोर के साथ गाँव में पहुँची डीएम की टीम ने महिलाओं को भी नहीं छोड़ा. उठकर खड़े होने के बाद लोटे के साथ उनकी भी तस्वीरें खिंचवाई और ताने मारते हुए उन्हें घर के मर्दों से घर में ही शौचालय बनवाने की ज़िद करने को कहा.

इस दौरान फोटो खिंचवाने में आनाकानी करने वाली महिलाओं को फटकार भी लगाई गई. सरकारी अमले का कहना है कि लोगों को स्वच्छता अभियान से जोड़ने और घर में शौचालय बनवाने के लिए प्रेरित करने के मकसद से गांधीगिरी अंदाज़ में यह विशेष सीटीमार अभियान चलाया गया है. मातहत भले ही सफाई का संदेश दे रहे हों कि यह अनूठी कार्यवाही गांधीगिरी है.

kaushambhi dm muhim 3

लेकिन अभियान की अगुवाई करने वाले डीएम अखंड प्रताप सिंह का साफ़ तौर पर कहना है कि वह लोगों को शर्मसार कर उन्हें घर में शौचालय बनवाने के लिए ख़ास अंदाज़ में प्रेरित कर रहे हैं. बहरहाल दर्जनों लोगों को रंगे हाथ पकड़कर उनके साथ जुम्मन चाचा जैसा सलूक करने के बाद डीएम ने गाँव में ही चौपाल लगाई. गाँव वालों के साथ खुद भी ज़मीन पर बैठे.

लोगों को घर में शौचालय के फायदे बताए और उन्हें जल्द से जल्द यह काम शुरू करने का संकल्प भी दिलाया. डीएम अखंड प्रताप सिंह का कहना है कि मंगलवार से शुरू हुआ यह विशेष अभियान अब लगातार आगे भी जारी रहेगा. बेशक घरों में शौचालय बनवाने के लिए लोगों को प्रेरित करने का कौशाम्बी के डीएम का यह अभियान तारीफे काबिल है.

लेकिन, इसके लिए उन्होंने जो तरीका अपनाया है, वह न सिर्फ विवादित है बल्कि कई सवाल भी खड़े करता है. नंगी हालत में किसी की फोटो खिंचवाने, उसके वीडियो बनवाने और मीडिया में बांटकर उन्हें सार्वजनिक करने व महिलाओं को ताने मारते हुए उन्हें लोटे के साथ फोटो खिंचाने के लिए मजबूर करने की कार्यवाही लोगों की समझ के परे है. डीएम के रसूख के चलते लोग भले ही खुलकर इस कार्यवाही का विरोध न कर रहे हों, लेकिन लोगों को उनका यह तरीका कतई रास नहीं आ रहा है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Kaushambi : District Administration’s clean drive
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017