नीतीश के मुकाबले बीजेपी को बिहार में किसी ‘किरण बेदी’ की तलाश: जेडीयू

By: | Last Updated: Sunday, 14 June 2015 9:11 AM

नई दिल्ली: बिहार विधानसभा चुनाव के लिए ‘धर्मनिरपेक्ष गठबंधन’ की ओर से नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किए जाने के बाद जनता दल (यू) ने आज बीजेपी को अपना मुख्यमंत्री का उम्मीदवार बताने की चुनौती देते हुए कहा कि भगवा पार्टी के पास नीतीश के मुकाबले कोई चेहरा नहीं है और वह दिल्ली की तर्ज पर बिहार में भी ‘किसी किरण बेदी’ की तलाश में है.

 

जेडीयू महासचिव और प्रवक्ता केसी त्यागी ने कहा, ‘‘बीजेपी के पास बिहार में नीतीश कुमार का मुकाबला करने के लिए कोई चेहरा इस समय नहीं है. अब वह दिल्ली की तर्ज पर वहां भी किसी किरण बेदी की तलाश में है. परंतु इतना कहना चाहता हूं कि जो हाल दिल्ली में किरण बेदी का हुआ वही हाल बिहार में बीजेपी की किसी दूसरी ‘किरण बेदी’ का भी होगा.’’ गौरतलब है कि इस साल की शुरूआत में दिल्ली विधानसभा चुनाव से ऐन पहले बीजेपी ने आम आदमी पार्टी के अरविंद केजरीवाल के मुकाबले पूर्व आईपीएस अधिकारी किरण बेदी को मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किया था, हालांकि उस चुनाव में उसे करारी हार का सामना करना पड़ा.

 

त्यागी ने अभिनेता और बीजेपी नेता शत्रुघ्न सिन्हा के हालिया बयान का हवाला देते हुए बीजेपी को चुनौती दी कि इस साल बिहार में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए मुख्यमंत्री पद का अपना उम्मीदवार घोषित करे.

 

उन्होंने कहा, ‘‘बीजेपी हमसे हर चीज के लिए रोजाना सवाल करती है. मैं उनके ‘बयानबाजी के बादशाह’ सुशील मोदी से पूछना चाहता हूं कि बिहार में उनका चेहरा कौन होगा. अब तो बीजेपी के सांसद शत्रुघ्न सिन्हा भी पूछ चुके हैं कि विधानसभा चुनाव में पार्टी का चेहरा कौन होने वाला है.’’

 

त्यागी ने कहा, ‘‘बीजेपी के पास नीतीश के मुकाबले कोई चेहरा नहीं है इसलिए वह बार-बार कह रही है कि मोदी के चेहरे पर चुनाव लड़ेगी. यह पहला मौका होगा जब विधानसभा चुनाव प्रधानमंत्री के नेतृत्व में लड़ा जाएगा. मेरा सवाल बीजेपी से यह है कि क्या नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा देकर बिहार का मुख्यमंत्री बनेंगे?’’ हाल ही में ‘धर्मनिरपेक्ष गठबंधन’ के दलों जेडीयू, राजद, कांग्रेस और राकांपा की ओर से नीतीश कुमार को औपचारिक रूप से मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किया गया.

 

त्यागी ने दावा किया कि यह गठबंधन बिहार विधानसभा चुनाव में बीजेपी का रथ रोकने में कामयाब होगा और वहीं से देश में ‘गैरबीजेपीवाद’ की शुरूआत होगी.

 

उन्होंने कहा, ‘‘हम बिहार में बीजेपी का रथ रोकेंगे. बिहार से गैरबीजेपीवाद की राजनीति की शुरूआत होगी. जैसे 1970 के दशक में जेपी के नेतृत्व में गैरकांग्रेसवाद शुरू हुआ था उसी तरह से अब गैरबीजेपीवाद की शुरूआत होगी. अब गैरकांग्रेसवाद खत्म हो चुका हैं और यह दौर गैरबीजेपीवाद का है.’’ जेडीयू नेता ने कहा, ‘‘इस गठबंधन की परीक्षा लोकसभा चुनाव के ठीक बाद बिहार में 10 विधानसभा सीटों पर हुए उप चुनाव में हो चुकी है. उस उप चुनाव में इस गठगंधन ने बीजेपी नेताओं द्वारा खाली की गई 10 में से छह सीटें जीती थीं. उसके बाद से अब नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता में बहुत कमी आई है और अब हमारा गठबंधन पहले से अधिक मजबूत हो चुका है.’’ त्यागी ने सीटों के बंटवारें के मुद्दे पर कुछ भी बोलने से इंकार कर दिया.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: kctyagi_bj_bihar_cm_face
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Bihar BJP JDU Kiran Bedi Nitish Kumar
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017