बाहरी दिल्ली के किसानों को नहीं मिला केजरीवाल सरकार से कोई मुआवजा!

By: | Last Updated: Tuesday, 5 May 2015 6:34 AM
kejriwal_farmers_compensation

नई दिल्ली: अरविंद केजरीवाल सरकार ने दिल्ली में किसानों को मुआवजा देने का ऐलान किया था. बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि से प्रभावित दिल्ली के किसानों को राहत देने के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रति हेक्टेयर फसल के नुकसान के लिए 50,000 रुपये के मुआवजे की घोषणा की थी और कहा था कि उनकी सरकार किसानों के साथ डटकर खड़ी रहेगी.

लेकिन बाहरी दिल्ली के बख्तावरपुर और ताजपुर गाँव के किसानों से एबीपी न्यूज़ ने  बात की तो उन्होंने किसी भी तरह के मुआवजे मिलने से इनकार किया.

 

बख्तावरपुर के किसान बताते हैं कि उनके 80 एकड़ खेत में गेहूं की फसल थी. लेकिन बेमौसम बारिश और ओला वृष्टि के बाद खड़ी फसल ख़राब हो गयी. लेकिन दिल्ली सरकार की तरफ से कोई सर्वे नहीं हुआ. मुआवजा तो दूर की बात है.

अब किसानों के सामने दिक्कत ये है कि उन्हें धान की बुआई की तैयारी करनी है ऐसे में किसानों ने ख़राब गेहूं को खेतों में जला कर जुताई कर दी है. ऐसे में मुआवजे के ऐलान के इतने दिनों बाद भी कोई सर्वे नहीं हुआ है.

 

अब सवाल ये है कि अन्नदाता को राहत देने के लिए बड़ी बड़ी घोषणाएं तो हो जाती हैं लेकिन उन्हें अमली जामा पहनाने की ओर कोई तत्परता नहीं दिखाई जाती है.

इसी को लेकर दिल्ली बीजेपी के लोग गाँव-गाँव जाकर इस पर परिचर्चा कर रहे है. कल दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष  सतीश उपाध्याय ने दिल्ली के 10 गाँव में जाकर मुआवजा के आकलन पर कार्यक्रम किया था. इस मुआवजा आकलन की शुरुआत बाहरी दिल्ली के खेड़ा कलां गाँव से शुरू की. वहां किसानों के साथ चौपाल लगाकर उनकी समस्याएं सुनी.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: kejriwal_farmers_compensation
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017