मुख्य बातें: कांग्रेस और जयंती नटराजन का पूरा विवाद

By: | Last Updated: Friday, 30 January 2015 8:24 AM
key accusations of former upa environment minister jayanthi natarajan on rahul gandhi, sonia gandhi and congress

फ़ाइल फ़ोटो: पूर्व पर्यावरण मंत्री जयंती नटराजन

नई दिल्ली: कांग्रेस की वरिष्ठ नेता औरपूर्व पर्यावरण मंत्री जयंती नटराजन ने कांग्रेस छोड़ दी है. चेन्नई में प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए जयंती ने साफ साफ कहा कि वो सोनिया गांधी औऱ राहुल गांधी से नाराज होकर कांग्रेस छोड़ रही है. कांग्रेस ने लोकतंत्र नहीं रहा, इसकी शिकायत करते हुए जयंती ने बताए कि कैसे पर्यावरण मंत्री से हटाने और उसके बाद वो कैसे परेशान रहीं. जयंती ने खुलकर राहुल गांधी और उनके ऑफिस पर गंभीर आरोप लगाए. जयंती नटराजन ने ये साफ नहीं किया कि वो किस पार्टी में जाएंगी

 

मुख्य बातें:

 

1. नटराजन ने कहा कि उन्हें स्नूपगेट मामले में संवाददाता सम्मेलन करने को मजबूर किया गया. उनका मानना था कि इस विषय पर सरकार की जगह पार्टी के किसी व्यक्ति को बात करनी चाहिए थी, इसपर अजय माकन का जवाब था कि यह फ़ैसला पार्टी आलाकमान द्वारा लिया गया है. फिर जयंती को इसपर एक संवाददाता सम्मेलन करना पड़ा. स्नूपगेट मामले में कांग्रेस ने बीजेपी के बड़े नेताओं पर गंभीर आरोप लगाए थे.

 

2. नटराजन ने कहा कि उन्हें इस्तीफा देने को मजबूर किया गया. पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने 20 दिसंबर 2013 को उनसे कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के अनुसार जयंती की पार्टी को जरूरत हैं, इसलिए वे इस्तीफ़ा दे दें. इसके बाद उन्होंने मंत्री पद से इस्तीफ़ा दे दिया. इस्तीफ़े के बाद पूर्व पीएम ने उन्हें पत्र लिखाकर मंत्री के रूप में उनके काम की तारीफ़ की.

 

3. नटराजन ने बताया कि राहुल गांधी के कार्यालय से किसी व्यक्ति ने मीडिया में उनके खिलाफ प्रचार किया और यह बात फैलाई कि उनका इस्तीफ़ा पार्टी कार्यों के लिए नहीं था. उसी दिन राहुल गांधी ने फिक्की के एक कार्यक्रम में औद्योगिक परियोजनाओं को पर्यावरण मंत्रालय की मंजूरी मिलने में हो रही देरी की बात कही. उन्होंने उद्योगपतियों इस बात का आश्वासन दिया कि सरकार अब उन्हें दिक्कत (पर्यावरण मंत्रालय की मंजूरी मिलने में) नहीं होगी.

 

4. नटराजन ने आगे बताया कि गांधी परिवार की पुरानी सहयोगी होने के बाद भी राहुल गांधी ने उनके सवालों का जवाब नहीं दिया. उन्होंने मंत्रालय से हटाए जाने और फ़िक्की में उनके भाषण में कही गई (उधोगपतियों को परेशानी नहीं होने वाली बात) को लेकर एक संदेश राहुल को भेजा और इसका कारण जानना चाहा. इस पर राहुल का जवाब आया कि वे व्यस्त हैं और बाद में जवाब देंगे. लेकिन कई बार अनुरोध के बावजूद उन्होंने आजतक कोई जवाब नहीं दिया.

 

5. नटराजन ने आगे बताया कि जनवरी 2014 में उनकी मुलाकात सोनिया गांधी से हुई. इस दौरान सोनिया ने कहा कि आने वाले चुनावों के लिए पार्टी को नटराजन की ज़रूरत है. पर जनवरी में ही उन्हें कांग्रेस मीडिया सेल के प्रमुख अजय माकन ने सूचना दी कि उन्हें कांग्रेस के प्रवक्ता पद से हटा दिया गया है, जिसका हिस्सा वो पिछले दस साल से थीं.

 

6. नटराजन ने आगे बताया कि पिछले लंबे वे मानसिक और शारीरिक यंत्रणा से गुजरी हैं. तनाव और अपमानित किए जाने की वजह से उन्हें गंभीर स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ा है. अब उन्हें अपना भविष्य निराशजनक दिखाई दे रहा है. सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि उन्हें अपने परिवार की पंरपरा और सम्मान को बचाना है.

 

7. नटराजन ने आगे बताया कि कांग्रेस में अब लोकतंत्र नहीं बचा है और ऐसी स्थिति में उनके लिए काम करना कठिन है.

 

यह भी पढ़ें-

सोनिया, राहुल से नाराज जयंती नटराजन ने कांग्रेस छोड़ी 

बीजेपी ने केजरीवाल और कांग्रेस पर फोड़ा ‘कार्टून बम’

साल के पहले टूर्नामेंट में वुड्स की खराब शुरूआत

विदर्भ: किसानों की आत्महत्या को लेकर शिवसेना ने बीजेपी पर हमला किया  

कालाधन तो लाए नहीं मोदी, 10 लाख का सूट जरूर मंगा लिया: राहुल गांधी 

मैं छोटी ड्रेस में सेक्सी नहीं लगती: हनी सिंह को करारा जवाब 

मूवी रिव्यू: बोरियत की उड़ान है ‘हवाईज़ादा’  

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: key accusations of former upa environment minister jayanthi natarajan on rahul gandhi, sonia gandhi and congress
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017