‘सुरक्षा में चूक’ के कारण पंजाब में हुआ आतंकी हमला: रिजिजू

By: | Last Updated: Tuesday, 2 February 2016 9:21 AM
Kiren Rijiju Reviews Situation Along Indo-Pak Border

अमृतसर: केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री किरेन रिजिजू ने आज कहा कि ‘सुरक्षा में कुछ चूक’ के कारण पंजाब में पठानकोट और दीना नगर आतंकी हमले हुए.

रिजिजू ने कहा, ‘‘सुरक्षा में कुछ चूक रह गयी थी, जिससे पंजाब में आतंकी हमले हुए.’’ उन्होंने हालांकि कहा कि पंजाब सरकार और केन्द्र दोहरे आतंकी हमलों के बाद सुरक्षा पहलुओं पर मिलकर काम कर रहे हैं.

दो दिन के पंजाब दौरे पर आए रिजिजू ने आतंकवादियों की घुसपैठ के मुद्दे पर कहा कि बहुत सी दरारें थीं कहीं कांटेदार दार टूटी थी और कुछ जगहों पर बाड़ थी ही नहीं.

इसी तरह नदी वाले इलाकों में भी कुछ समस्याएं थीं, जिनपर तत्काल ध्यान देने की जरूरत है. रिजिजू ने कहा कि केन्द्र सरकार शांति और सौहार्द बनाए रखने के लिए पंजाब में सुरक्षा के तमाम उपायों पर विशेष ध्यान देगी.

उन्होंने कहा कि कुछ तत्व पंजाब में 1980 के दशक जैसी अशांति पैदा करने का प्रयास कर रहे है. लेकिन हर कीमत पर शांति बनाए रखी जाएगी और सुरक्षा के साथ कोई समझौता नहीं किया जाएगा यहां तक कि अन्तरराष्ट्रीय सीमाओं पर भी जहां सीमा सुरक्षा बल को जरूरत के अनुसार सुसज्जित किया जाएगा.

भारत-पाक वार्ता के बारे में उन्होंने कहा कि अगर पाकिस्तान के साथ बातचीत होगी तो आतंकवाद उसका हिस्सा होगा. उन्होंने कहा कि जहां तक सुरक्षा मामलों का सवाल है, केन्द्र सरकार पंजाब को हर संभव सहायता प्रदान करेगी.

उन किसानों की समस्याओं का जिक्र करते हुए जिनके खेत सीमा के निकट हैं, रिजिजू ने कहा कि उनकी समस्याओं का प्राथमिकता के आधार पर समाधान किया जाएगा. अफगानिस्तान और पाकिस्तान के यहां रहने वाले और भारत की नागरिकता चाहने वाले लोगों के बारे में पूछे गए सवालों के जवाब में रिजिजू ने कहा कि भारत सरकार ने इस मामले को अधिकारियों के एक दल के सुपुर्द किया है.

रिजिजू ने भारत-पाकिस्तान सीमा का दौरा किया और अग्रिम इलाकों में हालात की समीक्षा की.

अमृतसर में माहवा सीमा चौकी पर अपनी यात्रा के दौरान रिजिजू ने अन्तरराष्ट्रीय सीमा के आसपास के हालात और सीमा की चौकसी करने वाले सीमा सुरक्षा बल कर्मियों के कामकाज के बारे में जानकारी हासिल की.

उन्होंने अर्धसैनिक बल के जवानों को सीमावर्ती इलाकों पर प्रभावी वर्चस्व स्थापित करने में आने वाली किसी भी तरह की बाधा को दूर करने में सरकार की तरफ से तमाम मदद का आश्वासन दिया.

अग्रिम इलाकों में सीमा सुरक्षा बल के जवानों द्वारा किए जा रहे कठिन परिश्रम की सराहना करते हुए गृह राज्य मंत्री ने कहा कि यह बल अपनी संस्कृति और कर्तव्यपरायणता के लिए विख्यात है.

उन्होंने कहा, ‘‘मैं उन परेशानियों से भली भांति परिचित हूं, जिनका सीमा सुरक्षा बल के जवानों को अपने दायित्वों के निर्वहन के दौरान सामना करना पड़ता है और मैं उनके सामने आने वाली कठिनाइयों को कम करने के लिए उन्हें हर तरह की सहायता प्रदान करने का यथासंभव प्रयास करूंगा.’’

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Kiren Rijiju Reviews Situation Along Indo-Pak Border
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017