वायरल सच: क्या योगी के इशारे पर मुस्लिमों की दुकान खाली हुईं?

By: | Last Updated: Tuesday, 28 March 2017 9:55 PM
वायरल सच: क्या योगी के इशारे पर मुस्लिमों की दुकान खाली हुईं?

नई दिल्ली: सोशल मीडिया पर तमाम फोटो, मैसेज और वीडियो वायरल होते हैं. इन फोटो, मैसेज और वीडियो के जरिए कई चौंकाने वाले दावे भी किए जाते हैं. ऐसा ही एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसका सच जानना आपके लिए बेहद जरूरी है.

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जब सत्ता संभाली तो वादा किया कि चाहे हिंदू हो या मुसलमान वो कोई पक्षपात नहीं करेंगे. सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो के जरिए दावा है कि योगी के इशारे पर मुस्लिमों की दुकानें जबरन खाली करवाई जा रही हैं.

इस दावे पर लोग यकीन कर सकें इसके लिए सबूत के तौर पर कई वीडियो भी पेश किए जा रहे हैं. वीडियो एक तरह का है पर वीडियो के साथ दावे अपने अपने तरीके के हैं. कुछ योगी को मुस्लिम विरोधी साबित करते हैं तो कुछ योगी को हिन्दू समर्थक बता रहे हैं.

चार वीडियो मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का नाम लेकर फैलाए जा रहे हैं

पहला वायरल वीडियो
योगी का नाम लेकर सबूत के तौर पर 29 सेकेंड का पेश किया जा रहा है. इस वीडियो पुलिस बल किसी बाजार जैसी जगह में दाखिल होता हुआ दिखाई दे रहा है. पुलिस वालों ने हेल्मेट और जैकेट पहन रखी है मीडिया के कैमरे भी मौजूद हैं.

दूसरा वायरल वीडियो
50 सेकेंड का एक और वीडियो भी वायरल हो रहा है. इस वीडियो को दूसरा सबूत बताया जा रहा है. बंद दुकान पर ताला पड़ा हुआ है जिसे हथौड़े के वार से तोड़ने की कोशिश की जा रही है. आसपास पुलिस भी दिखाई दे रही है. 33 वें सेकेंड पर पुलिस ये बताते हुए दिखती है कि दुकान का ताला आखिर तोड़ना कैसे है?

तीसरा वायरल वीडियो
इसके बाद 46 सेकेंड का तीसरा वायरल वीडियो शुरू होता है. इस वीडियो में भारी पुलिस बल दिखाई दे रहा है. तीन महिलाओं के बीच कुछ बहस होती दिखाई देती है. एक महिला बाकी दो मुस्लिम महिलाओं को कुछ समझाती और मनाती हुई दिख रही है.

चौथा वायरल वीडियो

इसके बाद आखिरी यानी चौथा आता है जो 40 सेकेंड का है. इस वीडियो में भी वही दोनों महिलाएं दुकान के आगे खड़ी हो गई हैं और पुलिस को ताला तोड़ने से मना कर रही हैं. बुर्का पहने महिला पैर पटक रही है उंगली दिखा रही है. महिला पुलिस कर्मी उसे समझा बुझा कर नीचे उतारने की कोशिश में लगी हैं लेकिन जब महिलाएं नहीं मानती तो उन्हें जबरन नीचे उतारा जाता है

दावा है कि यूपी के एटा में 20 मार्च यानि योगी आदित्यनाथ के सीएम पद की शपथ लेने के ठीक एक दिन बाद मुसलमानों की दुकानें इसी तरह पुलिस ने खाली करवा लीं. पुलिस कार्रवाई के इस वीडियो को दिखा कर लोगों के बीच ये संदेश फैलाने की कोशिश है कि योगी के इशारे पर ही ये सबकुछ हो रहा है.

एबीपी न्यूज ने वीडियो की पड़ताल की

सोशल मीडिया के संदेश से ही हमें पहला सुराग मिला. एक मैसेज में इन वीडियो को यूपी के एटा का बताया गया है. सच जानने के लिए एबीपी न्यूज़ उत्तर प्रदेश के एटा शहर पहुंचा.

हमने यूपी के एटा जिले में पड़ताल शुरू की तो कुछ अलग तस्वीर सामने आयी. ये पूरा मामला 20 मार्च को एटा कोतवाली नगर के मेहता पार्क इलाके का है. जहां 20 साल से अमित पचौरी की 7 दुकानों पर अवैध कब्जा था. मामला न्यायालय पहुंचा और न्यायालय ने एटा पुलिस को दुकानों पर से अवैध कब्जा खाली करने के आदेश दिए थे.

इन सात दुकानों के मालिक अमित पचौरी हैं और ये पूरा मामला कोर्ट में है. अमित पचौरी के मुताबिक ये उनकी पैतृक संपत्ति थी. इस पर अहमद हुसैन, राजा राम और 2-3 अन्य व्यक्तिओं ने अवैध कब्जा कर लिया था. इस मामले में और मेरी जीत हुई.

वहीं दूसरे पक्ष की सादाब बेगम का कहना है कि ये गलत काम हुआ है. मेरे जेठ की दुकान थी. उनको, उनके बेटे को और मेरी कुंवारी बेटी को कोतवाली भेज दिया. हम कैसे जिएंगे, कानून को तो दोनों पार्टी की सुननी चाहिए.

एबीपी न्यूज की पड़ताल में सामने आया है कि एटा में 7 दुकानें खाली करवाई गई. इन दुकानों पर अवैध कब्जा था. पुलिस को दुकान खाली करवाने का आदेश कोर्ट ने दिया था. दुकान खाली करवाने से सीएम योगी का कोई लेना-देना नहीं है.

इसलिए इस पूरे मामले को सीएम योगी के नाम से जिस तरह जोड़कर पेश किया जा रहा है वो गलत है. हमारी पड़ताल में योगी के इशारे पर मुस्लिमों की दुकानें खाली करवाने वाला दावा झूठा साबित हुआ है.

First Published:

Related Stories

सुशील मोदी ने की मांग, बिहार के किसानों का 'कर्ज' माफ करें CM नीतीश
सुशील मोदी ने की मांग, बिहार के किसानों का 'कर्ज' माफ करें CM नीतीश

पटना: बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने राज्य सरकार से दूसरे राज्यों की तर्ज पर बिहार...

पुंछ: BAT के हमले में दो जवान शहीद, एक बैट कमांडो भी मारा गया, एक जख्मी
पुंछ: BAT के हमले में दो जवान शहीद, एक बैट कमांडो भी मारा गया, एक जख्मी

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर के पुंछ सेक्टर में पाकिस्तानी BAT कमांडो ने एक बार फि नापाक हरकत को अंजाम...

यहां पढ़ें: कभी रामविलास पासवान और मायावती को हराने वाली मीरा कुमार का सियासी सफर!
यहां पढ़ें: कभी रामविलास पासवान और मायावती को हराने वाली मीरा कुमार का...

नई दिल्ली: बीजेपी के रामनाथ कोविंद से मुकाबले के लिए विपक्ष ने मीरा कुमार को मैदान में उतार...

कोविंद का समर्थन करना अलग बात, NDA में जाने का सवाल ही नहीं उठता: जेडीयू
कोविंद का समर्थन करना अलग बात, NDA में जाने का सवाल ही नहीं उठता: जेडीयू

पटना: रामनाथ कोविंद का राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के तौर पर समर्थन करने के एक दिन बाद जेडीयू ने...

सोनिया गांधी ने चली ऐसी चाल कि अब इन चार सवालों का जवाब नहीं दे पाएंगे नीतीश कुमार!
सोनिया गांधी ने चली ऐसी चाल कि अब इन चार सवालों का जवाब नहीं दे पाएंगे नीतीश...

नई दिल्ली: आखिरकार काफी माथापच्ची के बाद विपक्ष ने पूर्व लोकसभा स्पीकर मीरा कुमार को अपना...

कर्ज माफी की मांग करना बन गया है फैशन : वेंकैया नायडू
कर्ज माफी की मांग करना बन गया है फैशन : वेंकैया नायडू

मुंबई: केंद्रीय शहरी विकास मंत्री वेंकैया नायडू ने आज कहा कि कर्ज माफी की मांग करना अब फैशन बन...

राष्ट्रपति चुनाव: मीरा कुमार बनीं विपक्ष की उम्मीदवार, मायावती समेत 17 दलों का समर्थन मिला
राष्ट्रपति चुनाव: मीरा कुमार बनीं विपक्ष की उम्मीदवार, मायावती समेत 17 दलों...

नई दिल्ली: 17 दलों की बैठक के बाद विपक्ष ने पूर्व लोकसभा स्पीकर मीरा कुमार को राष्ट्रपति चुनाव...

बिहार: पूर्व जेडीयू नेता की हत्या के मामले में छह को उम्रकैद
बिहार: पूर्व जेडीयू नेता की हत्या के मामले में छह को उम्रकैद

शेखपुरा: बिहार के शेखपुरा जिला की एक कोर्ट ने जेडीयू के पूर्व लोकल नेता संजीत कुमार की हत्या के...

गुजरात विधान सभा चुनाव में 'तुरूप का इक्का' साबित होंगे कोविंद?
गुजरात विधान सभा चुनाव में 'तुरूप का इक्का' साबित होंगे कोविंद?

नई दिल्ली: केन्द्रीय संस्कृति मंत्री महेश शर्मा के अकबर रोड वाला आवास एनडीए के राष्ट्रपति पद...

योगी फॉर्मूला : अब यूपी में 'बिजली बनाओ और पैसा कमाओ' योजना
योगी फॉर्मूला : अब यूपी में 'बिजली बनाओ और पैसा कमाओ' योजना

नई दिल्ली: योगी सरकार ने सौ दिन पूरे होने पर बिजली बनाओ और पैसा कमाओ का फार्मूला तैयार किया है....

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017