जानें- गोबर के गोदाम वाले अस्पताल का वायरल सच

By: | Last Updated: Monday, 15 May 2017 9:53 PM
know Viral sach of dung warehouse hospital

नई दिल्ली: सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो के जरिए दावा है कि एक अस्पताल को गोबर का गोदाम बना दिया गया है. एक अस्पताल जहां लोगों का इलाज नहीं होता बल्कि लोग यहां गोबर के उपले रखते हैं.

क्या है गोबर के गोदाम वाले अस्पताल का वायरल सच

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे दो मिनट 50 सेकेंड के एक वीडियो में शुरू में सब सामान्य लगता है, लेकिन वीडियो आगे बढ़ने के साथ-साथ कहानी भी आगे बढ़ती है. कुछ कमरे हैं. कमरों में ताले लगे हैं, लेकिन 2 मिनट के बाद जो नजारा दिखता है वो हैरान करने वाला है. एक इमारत के बाहर खुली जगह में गोबर के उपले रखे दिखाई दे रहे हैं.

एक कमरे के बाहर बनी सीढ़ियों के पास जमीन पर गोबर के उपलों का ढेर दिखाई देता है. वीडियो बनाने वाला शख्स सीढ़ियों की तरफ आगे बढ़ता है तो कमरे के अंदर भी उपलों का ढेर नजर आता है.

viral gobar 04

दावा है कि ये वीडियो उत्तर प्रदेश के बलिया जिले के नगपुरा गांव का है. वीडियो में आधी-अधूरी बनी दिख रही इमारत को एक सरकारी अस्पताल बताया जा है. वीडियो के साथ एक मैसेज भी है जिसमें लिखा है, ‘’10 सालों से बंद पड़ा ये सरकारी अस्पताल जिसमें लोग गोबर रखते हैं और हर साल इसमें काम होता है.’’

वायरल सच की टीम ने सच्चाई की तह तक जाने के लिए पड़ताल शुरू की

एबीपी न्यूज़ ने दिल्ली से 944 किलोमीटर दूर उत्तर प्रदेश के बलिया जिले पहुंचकर नगपुरा गांव में गोबर के गोदाम वाले अस्पताल के बारे में तहकीकात शुरु की. हमें इस गांव में गुलाबी रंग की वो इमारत दिखाई दी जिसे वायरल वीडियो में सरकारी अस्पताल बताया गया था. इमारत के बाहर एक बोर्ड भी था जिसमें लिखा था-

‘’प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र नगपुरा, बलिया का शिलान्यास माननीय श्री घूरा राम जी विधायक एवं पूर्व स्वास्थ्य राज्य मंत्री (उ.प्र) के कर कमलों द्वारा दिनांक 15-6-2008 दिन रविवार को सम्पन्न हुआ.’’

viral gobar 02

ये बोर्ड इस बात की गवाही दे रहा था कि अस्पताल का शिलान्यास 9 साल पहले साल 2008 में हुआ था. हम अंदर पहुंचे तो देखा कुछ कमरों में ताला लटक रहा था तो कई कमरों में गोबर के उपले रखे गए थे. सिर्फ कमरों को ही नहीं खुली जगह को भी गोबर के उपले रखने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा था.

नगपुरा गांव के प्रधान ने बताया कि अस्पताल में कभी-कभी तो काम चलता है लेकिन कई महीनों के लिए रुक भी जाता है. यही वजह है कि गांववालों को इलाज के लिए 10-12 किलोमीटर दूर के अस्पताल में जाना पड़ता है.

बलिया के गांव में शुरू हुई पड़ताल में हम इस वीडियो को वायरल करने वाले शख्स तक भी पहुंच चुके थे. ये वीडियो गांव के ही विनय कुमार सिंह ने वायरल किया था.

विनय कुमार सिंह ने बताया, ‘’हर साल मेनटेनेंस का खर्च आता है. लोगों को इलाज के लिए 10 किलोमीटर दूर जाना पड़ता है. लोग यहां अब गोबर रखते हैं. इस वीडियो को इसलिए वायरल किया है कि आपके माध्यम से इसे चलाया जाए. उद्देश्य यही था कि इस अस्पताल को जल्द से जल्द शुरु किया जाए.’’

viral gobar 01

एक इमारत जो गांव के लिए उम्मीद बनकर 9 साल पहले शुरू हुई थी वो अब भी आधी अधूरी है. ये कब पूरी होगी इसका जवाब देने वाला कोई नहीं है.

एबीपी न्यूज की पड़ताल में गोबर के गोदाम वाला अस्पताल सच साबित हुआ है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: know Viral sach of dung warehouse hospital
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Viral Sach viral sach on ABP NEWS
First Published:

Related Stories

20 महीने तक चला महागठबंधन का कार्यकाल, हुए ये 6 बड़े बवाल...!
20 महीने तक चला महागठबंधन का कार्यकाल, हुए ये 6 बड़े बवाल...!

नई दिल्ली: नीतीश कुमार के सीएम पद से इस्तीफे के साथ ही बिहार में जेडीयू, आरजेडी और कांग्रेस के...

नीतीश कुमार के इस्तीफे को कांग्रेस ने बताया निराशाजनक
नीतीश कुमार के इस्तीफे को कांग्रेस ने बताया निराशाजनक

नई दिल्ली: कांग्रेस पार्टी ने बुधवार को बिहार के मुख्यमंत्री के रूप में नीतीश के इस्तीफे पर...

बीजेपी संसदीय बोर्ड में बड़ा फैसला, गुजरात से राज्यसभा जाएंगे अमित शाह और स्मृति ईरानी
बीजेपी संसदीय बोर्ड में बड़ा फैसला, गुजरात से राज्यसभा जाएंगे अमित शाह और...

नई दिल्ली: दिल्ली में आज बीजेपी संसदीय बोर्ड की बैठक में बड़ा फैसला लिया गया. बीजेपी ने पार्टी...

महागठबंधन को बचाने के लिए लालू का फॉर्मूला, विधायक दल के सदस्य करें नए CM का चुनाव
महागठबंधन को बचाने के लिए लालू का फॉर्मूला, विधायक दल के सदस्य करें नए CM का...

पटना: मुख्यमंत्री पद से नीतीश कुमार के इस्तीफे के बाद आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद ने नीतीश के...

एबीपी न्यूज़ पर दिनभर की बड़ी खबरें
एबीपी न्यूज़ पर दिनभर की बड़ी खबरें

एबीपी न्यूज़ पर दिनभर की बड़ी खबरें 1. *बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने आज राज्यपाल को अपना इस्तीफा...

बिहार में मध्यावधि चुनाव के पक्ष में नहीं बीजेपी : सुशील मोदी
बिहार में मध्यावधि चुनाव के पक्ष में नहीं बीजेपी : सुशील मोदी

पटना: बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने मुख्यमंत्री...

जानें नीतीश कुमार के इस्तीफे के पीछे की दस बड़ी वजहें
जानें नीतीश कुमार के इस्तीफे के पीछे की दस बड़ी वजहें

नई दिल्ली: बिहार की राजनीति पिछले कुछ दिनों से गरमायी हुई थी. सियासी पारा तब और ज्यादा चढ़ गया जब...

यहां पढ़ें: नीतीश के इस्तीफा देने के बाद अब बिहार में क्या होगा?
यहां पढ़ें: नीतीश के इस्तीफा देने के बाद अब बिहार में क्या होगा?

नई दिल्ली: बिहार के सियासत में अचानक ही सियासी पारा चढ़ गया है. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश...

निजता पर सरकार का रुख थोड़ा नरम, सुप्रीम कोर्ट ने पूछा- क्या बंद कर दें सुनवाई?
निजता पर सरकार का रुख थोड़ा नरम, सुप्रीम कोर्ट ने पूछा- क्या बंद कर दें...

नई दिल्ली : केंद्र सरकार ने आज ये माना कि निजता के कुछ पहलू मौलिक अधिकार के दायरे में हैं....

हमारे पास 132 विधायकों का समर्थन, सुबह 10 बजे होगा शपथ ग्रहण: सुशील मोदी
हमारे पास 132 विधायकों का समर्थन, सुबह 10 बजे होगा शपथ ग्रहण: सुशील मोदी

नई दिल्ली: बिहार में चार साल बाद बीजेपी की सत्ता में वापसी होगी. महागठबंधन टूटने के बाद नीतीश...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017