इंसाफ: कोपार्डी मामले में दोषियों को फांसी की सजा, बलात्कार के बाद की थी नाबालिग की हत्या

इंसाफ: कोपार्डी मामले में दोषियों को फांसी की सजा, बलात्कार के बाद की थी नाबालिग की हत्या

नाबालिग लड़की की बलात्कार के बाद हत्या कर दी गयी थी, इस घटना को लेकर पूरे राज्य और खासकर मराठा समुदाय में बहुत अधिक आक्रोश देखने को मिला था.

By: | Updated: 29 Nov 2017 12:12 PM
Kopardi rape and murder case, Three convicts get death sentence

नई दिल्ली: महाराष्ट्र के चर्चित कोपार्डी दुष्कर्म और हत्या मामले में विशेष अदालत ने तीनों आरोपियों बाबूलाल शिंदे, संतोष गोरख भावल और नितिन गोपीनाथ भाईलुमे को फांसी की सजा सुनाई है.


अदालत ने कोपार्डी गांव में पिछले साल 15 वर्षीय लड़की से बलात्कार और उसकी हत्या के मामले में बाबूलाल शिंदे, संतोष गोरख भावल और नितिन गोपीनाथ भाईलुमे को बलात्कार, हत्या और आपराधिक साजिश रचने का दोषी करार दिया था.


सरकारी वकील उज्ज्वल निकम ने इसे ‘दुर्लभतम मामला’ बताते हुए तीनों दोषियों को फांसी की सजा देने की मांग की थी. मराठा समुदाय से ताल्लुक रखने वाली पीड़िता का शव 13 जुलाई 2016 को अहमदनगर जिले के कोपार्डी गांव में मिला था.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Kopardi rape and murder case, Three convicts get death sentence
Read all latest Crime News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story मोदी सरकार के लिए गुड न्यूज़: UN ने भारतीय अर्थव्यवस्था के विकास को सकारात्मक बताया