लखवी की रिहाई पर अमेरिका भारत के साथ

By: | Last Updated: Saturday, 11 April 2015 1:26 AM
LAKHVI GOT BAIL FROM JAIL_Rajnath Singh_America_France_

फाइल फोटो- मुंबई हमलों का मास्टरमाइंड जकीउर रहमान लखवी.

वॉशिंगटन: मुंबई हमले के मास्टरमाइंड जकी.उर.रहमान लखवी की रिहाई पर गहरी चिंता जताते हुए अमेरिका ने आज कहा कि उसने पाकिस्तान से 26/11 के पीड़ितों के लिए न्याय सुनिश्चित करने की उसकी प्रतिबद्धता पर आगे बढ़ने के लिए बार बार कहा है.

 

विदेश मंत्रालय के कार्यकारी प्रवक्ता जेफ राथके ने यहां संवाददाताओं से कहा ‘‘हम मुंबई हमलों के कथित मास्टरमाइंड लखवी की जमानत पर रिहाई को लेकर बहुत चिंतित हैं.’’ उन्होंने कहा कि महीनों से चले आ रहे और हालिया तथा कल के घटनाक्रम को लेकर उन्होंने अपनी चिंताओं से पाकिस्तान के वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत करा दिया था.

 

राथके ने कहा ‘‘आतंकी हमले सभी देशों की सामूहिक सुरक्षा और संरक्षा पर हमला हैं. पाकिस्तान ने मुंबई आतंकी हमले के षड्यंत्रकारियों, फायनेन्सरों और प्रायोजकों को न्याय के दायरे में लाने के लिए सहयोग का संकल्प जताया और हम पाकिस्तान से उस प्रतिबद्धता का पालन करने का आग्रह करते हैं ताकि छह अमेरिकियों सहित हमले में मारे गए 166 बेकसूर लोगों के लिए न्याय सुनिश्चित हो सके.’’

सवालों का जवाब दे रहे राथके ने लखवी को रिहा कर अपनी प्रतिबद्धता का पालन न करने के लिए पाकिस्तान को भुगतने वाले नतीजों के बारे में टिप्पणी करने से इंकार कर दिया.

 

उन्होंने कहा ‘‘हम इस घटनाक्रम के बारे में बहुत चिंतित हैं.’’

 

राथके ने कहा ‘‘मैं :षड्यंत्रकारियों को न्याय के दायरे में लाने के लिए: समय सीमा तय नहीं करने जा रहा. लेकिन निश्चित रूप से मुंबई आतंकी हमलों के षड्यंत्रकारियों को न्याय के दायरे में लाना एक मुख्य प्राथमिकता है और हम इस पर कायम हैं. इसलिए हम इस दिशा में काम करते रहेंगे, लेकिन फिलहाल मेरे पास बताने के लिए कुछ खास नहीं है.’’

 

छह साल तक हिरासत में रहने के बाद 55 वर्षीय लखवी आज जेल से बाहर आ गया. कल ही पाकिस्तान की एक अदालत ने उसे रिहा करने का आदेश दिया था. उस पर आरोप है कि 26.11 के मुंबई हमले के दौरान वह पाकिस्तान में नियंत्रण कक्ष में बैठकर लश्कर ए तैयबा के आतंकियों को निर्देश दे रहा था.

 

लश्कर ए तैयबा के संस्थापक और जमात उद दवा के प्रमुख हाफिज सईद के रिश्तेदार लखवी को दिसंबर, 2008 में गिरफ्तार किया गया था. उसे 26.11 के हमले के सिलसिले में 25 नवंबर, 2009 को अ5यारोपित किया गया था. इस हमले में 166 लोगों की जान चली गयी थी. इस मामले की सुनवाई 2009 से चल रही है.

 

सवालों का जवाब दे रहे राथके ने लखवी को रिहा कर अपनी प्रतिबद्धता का पालन न करने के लिए पाकिस्तान को भुगतने वाले नतीजों के बारे में टिप्पणी करने से इंकार कर दिया. उन्होंने कहा ‘‘हम इस घटनाक्रम के बारे में बहुत चिंतित हैं.’’

 

राथके ने कहा ‘‘मैं :षड्यंत्रकारियों को न्याय के दायरे में लाने के लिए: समय सीमा तय नहीं करने जा रहा. लेकिन निश्चित रूप से मुंबई आतंकी हमलों के षड्यंत्रकारियों को न्याय के दायरे में लाना एक मुख्य प्राथमिकता है और हम इस पर कायम हैं. इसलिए हम इस दिशा में काम करते रहेंगे, लेकिन फिलहाल मेरे पास बताने के लिए कुछ खास नहीं है.’’

 

छह साल तक हिरासत में रहने के बाद 55 वर्षीय लखवी आज जेल से बाहर आ गया. कल ही पाकिस्तान की एक अदालत ने उसे रिहा करने का आदेश दिया था. उस पर आरोप है कि 26.11 के मुंबई हमले के दौरान वह पाकिस्तान में नियंत्रण कक्ष में बैठकर लश्कर ए तैयबा के आतंकियों को निर्देश दे रहा था.

 

लश्कर ए तैयबा के संस्थापक और जमात उद दवा के प्रमुख हाफिज सईद के रिश्तेदार लखवी को दिसंबर, 2008 में गिरफ्तार किया गया था. उसे 26.11 के हमले के सिलसिले में 25 नवंबर, 2009 को अ5यारोपित किया गया था. इस हमले में 166 लोगों की जान चली गयी थी. इस मामले की सुनवाई 2009 से चल रही है.

 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: LAKHVI GOT BAIL FROM JAIL_Rajnath Singh_America_France_
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: America bail France Lakhvi rajnath singh
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017