बाढ और बारिश से बेहाल आधा हिंदुस्तान, मणिपुर से गुजरात तक बरपा कहर

By: | Last Updated: Sunday, 2 August 2015 11:29 AM
landslide leaves 20 dead in Manipur village near Myanmar border

नई दिल्ली : बाढ और बारिश से आधा हिंदुस्तान बेहाल है. मणिपुर में जमीन धसने से 20 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है, जबकि गुजरात, राजस्थान, पश्चिम बंगाल और ओडिशा में भी मुसलाधार बारिश और बाढ ने कहर बरपा कर रखा है.

उत्तराखंड के नैनीताल और उत्तरकाशी, राजस्थान के माउंट आबू, गुजरात के पाटन और सुरेंद्र नगर पश्चिम बंगाल के कोलकाता, मिदनापुर और बांकुरा ओडिशा के बालासोर और मणिपुर के चंदेल में बारिश उफान पर है.

 

मणिपुर का हाल

 

मणिपुर के कई इलाक़ों में कोमेन तूफ़ान की वजह से भारी बारिश हो रही है. चंदेल ज़िले में बारिश की वजह से हुए भूस्खलन से 20 लोगों की मौत हो गई है.

 

वहीं लगभग पूरी इंफाल घाटी बाढ़ की चपेट में है. नेशनल हाइवे 37 पर इंफाल की ओर जा रहे लकड़ी से लदे करीब 300 ट्रक फंसे हुए हैं. इसके अलावा उखरुल ज़िले में मडस्लाइड में करीब 300 मकान बह गए हैं.

 

इंफ़ाल और म्यांमार सीमा को जोड़ने वाली सड़क भी जगह-जगह पर टूट चुकी है, जिसकी वजह से बाक़ी इलाक़ों से संपर्क टूट गया है.

मणिपुर में तबाही का वीडियो 

गुजरात

गुजरात में इस हफ्ते भारी बारिश से बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं और मृतकों की संख्या 70 हो गई है. अधिकारियों ने आज कहा कि इनमें से 28 लोग सबसे बुरी तरह प्रभावित बनासकांठा जिले में मारे गए. राज्य आपदा नियंत्रण कक्ष के अधिकारियों ने कहा, ‘मृतक संख्या 70 हो गई है जिनमें बुरी तरह प्रभावित बनासकांठा में मारे गये 28 लोग शामिल हैं.’ वहीं बंगाल में मरने वालों की संख्या 40 पहुंच गई है.

 

मध्यप्रदेश

 

मध्यप्रदेश में शनिवार से हो रही लगातार बारिश से जनजीवन बेहाल है. भोपाल के निचले इलाकों में भरा पानी हुआ है.

 

भोपाल में बारिश हाल ये हो चुका है कि मकानों के बीच बनी सड़क नदी बन गई है.  निचले इलाके में रहने वाले लोगों के घऱों में भी पानी घुस गया है. वहीं घर के बाहर सड़क पर भी  पानी भरने से लोगों की जिंदगी मुहाल हो गई है.   प्रदेश में अभी तक सामान्य से 12 फीसदी अधिक बारिश हो चुकी है.

 

उत्तराखंड में बारिश

 

उत्तराखंड में बारिश और जमीन खिसकने से तीर्थ यात्री परेशान हैं. उत्तरकाशी के नालुपानी के पास जमीन धंसने से चारधाम यात्रा रोकी गई है. उत्तरकाशी के नालुपानी के पास जमीन धंस गई, जिससे चार धाम यात्रा पर जाने वाले यात्रियों के लिए मुश्किल खड़ी हो गई.

 

लोग जहां तहां फंसे हुए हैं. गंगोत्री जाने वाला नेशनल हाइवे भी ब्लॉक हो गया. जिससे यात्रियों की मुश्किलें और बढ़ गई.

 

राजस्थान का हाल

 

भारी बारिश से राजस्थान का इकलौता हिल स्टेशन माउंटआबू भी बेहाल है. माउंट आबू और आबूरोड के बीच पेड़ गिरने और सड़क  धंसने से रास्ता बंद हो गया है. इससे यहां आये पर्यटक फंसे हुए हैं. बिजली सप्लाई सामान्य नहीं होने से लोगों को खासी परेशानी हो रही है. दूध, सब्जी जैसी रोजमर्रा की जरूरत की चीजों के दाम भी दोगुने हो चुके हैं.

 

माउटंआबू में 1990 के बाद बारिश का रिकार्ड टूट गया है. जून और जुलाई में यहां 1623 मिलीमीटर बारिश हुई.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: landslide leaves 20 dead in Manipur village near Myanmar border
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017