अनिल गोस्वामी की छुट्टी के बाद नए गृह सचिव एल सी गोयल ने लिया चार्ज

By: | Last Updated: Thursday, 5 February 2015 9:05 AM
lc_goyal_new_home_secretary

नई दिल्ली: वरिष्ठ आईएएस अधिकारी एल सी गोयल ने आज गृह सचिव के रूप में पदभार संभाल लिया. उन्होंने अनिल गोस्वामी का स्थान लिया, जिन्हें सारदा घोटाले के आरोपी मतंग सिंह की सीबीआई द्वारा गिरफ्तारी में अड़ंगा लगाने के उनके कथित प्रयासों के मद्देनजर कल रात बाहर का रास्ता दिखा दिया गया था.

 

गोयल वर्ष 1979 बैच के केरल कैडर के आईएएस अधिकारी हैं. वह अभी तक ग्रामीण विकास सचिव थे. उनका दो साल का कार्यकाल होगा.

 

गोयल ने कार्यभार संभालने के तुरंत बाद गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की.

 

गोयल ने कहा, ‘‘मैं इस बड़ी जिम्मेदारी से विनम्र महसूस कर रहा हूं. मैं पूरी ईमानदारी, प्रतिबद्धता, परिश्रम और जवाबदेही की गहरी समझ के साथ इस जिम्मेदारी का निर्वाह करूंगा. ऐसा करने में सक्षम होने के लिए, मैं सभी हित धारकों से सक्रिय समर्थन और सहयोग की इच्छा रखता हूं.’’

 

क्यों हटाए गए गोस्वामी?

पूर्व गृह सचिव अनिल गोस्वामी को पद से हटाए जाने के मामले में एक बड़ा खुलासा हुआ है. सीबीआई ने जब मतंग सिंह को सीबीआई के कोलकाता दफ्तर में बुलाया था तो मतंग सिंह ने गिरफ्तारी से पहले अपने फोन से गृह सचिव को फोन किया था. जिसके बाद उसी फोन पर गृह सचिव ने सीबीआई अफसरों से बात की जो रिकॉर्ड की  जा रही थी. यही फोन गोस्वामी को हटाये जाने के लिए फंदा बना.

मतंग सिंह ने सीबीआई से कहा कि मेरे बड़े लोगों से संबंध हैं. मतंग सिंह ने सीबीआई अधिकारियों से कहा कि मैं अपने फोन का इस्तेमाल करना चाहता हूं. सीबीआई ने आपत्ति की तो मतंग सिंह ने कहा कि, ”आपने मुझे अभी गिरफ्तार नहीं किया है, मुझे अपना फोन इस्तेमाल करने का अधिकार है.”

 

फिर मतंग सिंह ने अनिल गोस्वामी को फोन किया. मतंग सिंह ने अपने फोन से गोस्वामी की बात सीबीआई अधिकारी से भी कराई. चूंकि मतंग सिंह का फोन पहले से ही सर्विलांस पर था इसलिए कॉल रिकॉर्ड हो गई. सीबीआई ने ये रिकॉर्डिंग गृह मंत्रालय के सामने पेश कर दी जिसे पीएमओ के सामने रखा गया. आखिरकार ये रिकॉर्डिंग ही गोस्वामी की कुर्सी जाने की वजह बनी.

 

कौन हैं एल.सी. गोयल

साल 1979 बैच के केरल कैडर के आईएएस अधिकारी और अभी ग्रामीण विकास सचिव के पद पर तैनात एल सी गोयल को कैबिनेट की नियुक्ति समिति ने दो साल की अवधि के लिए नया गृह सचिव नियुक्त किया है. देर रात हुई एक आधिकारिक घोषणा के मुताबिक उनका कार्यकाल उनके पदभार ग्रहण करने की तारीख से प्रभावी होगा.

 

साल 1978 बैच के जम्मू-कश्मीर कैडर के अधिकारी गोस्वामी को जब इस्तीफा देने के लिए कहा गया तो उन्होंने तत्काल प्रभाव से स्वैच्छिक सेवानिवृति देने का अनुरोध किया और सरकार ने उनका अनुरोध मान लिया.

 

घोषणा के मुताबिक, ‘‘अनुरोध मान लिए जाने के बाद अब गृह सचिव के तौर पर गोस्वामी के कार्यकाल में तत्काल प्रभाव से कटौती हो गई है.’’ गोस्वामी को यूपीए सरकार ने 2013 में गृह सचिव नियुक्त किया था. वह पिछले महीने 60 साल के हुए थे और उनका कार्यकाल 30 जून तक था.

 

विदेश सचिव पद से सुजाता सिंह को हटाए जाने के बाद पिछले एक हफ्ते में यह दूसरे शीर्ष नौकरशाह को हटाए जाने की घटना है. सुजाता ने जब पद से इस्तीफा देने से इनकार किया था तो बुधवार को उनकी सेवा में कटौती कर दी गई थी. पूर्व विदेश सचिव के खिलाफ किसी कदाचार का आरोप तो नहीं था लेकिन बताया जाता है कि सरकार मंत्रालय में उनकी अगुवाई से खुश नहीं थी.

 

गृहमंत्री ने किया था तलब

गोस्वामी को पद पर बनाए रखना उस वक्त मुश्किल हो गया जब उन्होंने गृह मंत्री राजनाथ सिंह के समक्ष माना कि उन्होंने शनिवार को कोलकाता में मतंग सिंह की गिरफ्तारी से पहले सीबीआई अधिकारियों से बात की थी. मतंग सिंह की गिरफ्तारी में गोस्वामी के दखल से सीबीआई नाखुश थी. एजेंसी ने इस मुद्दे पर गोस्वामी और सीबीआई के एक संयुक्त निदेशक स्तर के अधिकारी के बारे में पीएमओ को एक रिपोर्ट दी थी.

 

मंगलवार को दिल्ली पहुंचे राजनाथ ने गोस्वामी से बात की थी. गोस्वामी ने बातचीत में कबूल किया कि उन्होंने सारदा घोटाले की जांच कर रहे अधिकारियों को सिंह की गिरफ्तारी के मामले में फोन किया था.

 

मंत्री ने मंगलवार रात इस मुद्दे के बारे में प्रधानमंत्री को बताया था. बुधवार को उन्होंने सीबाआई निदेशक अनिल सिन्हा के साथ बैठक के बाद गोस्वामी को मुलाकात के लिए बुलाया.

 

दोनों अधिकारियों ने गृह मंत्री से अपनी मुलाकात के बारे में कुछ भी कहने से इनकार कर दिया.

 

साल 1978 बैच के जम्मू-कश्मीर कैडर के अधिकारी गोस्वामी को यूपीए सरकार ने 2013 में गृह सचिव के पद पर नियुक्त किया था. बताया जाता है कि गोस्वामी असम के विवादित नेता मतंग सिंह के काफी करीब थे. मतंग सिंह पी वी नरसिम्हा राव की सरकार में गृह राज्य मंत्री के पद पर थे.

 

मंतग सिंह का नाम पश्चिम बंगाल के शारदा घोटाले में आया था. हालांकि सीबीआई ने आखिरकार मतंग सिंह को गिरफ्तार कर ही लिया.

 

कांग्रेस ने पीएम मोदी को बताया तानाशाह

कांग्रेस प्रवक्ता पी. सी. चाको ने कहा कि वरिष्ठ अधिकारियों की ‘‘बर्खास्तगी’’ से नौकरशाही में भी ‘‘अकुलाहट’’ है.

 

उन्होंने कहा, ‘‘यह पहली घटना नहीं है जो दिखाती है कि प्रधानमंत्री तानाशाह बन रहे हैं. दिलचस्प बात यह है कि वरिष्ठ अधिकारियों को बख्रास्त किया जाना सिर्फ भीषण आपदा की शुरूआत है. नौकरशाही भी अकुला रही है. हमारे पास कई खबरें हैं.’’ चाको ने कहा कि सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष और अन्य सदस्यों के इस्तीफे के बाद सरकार के पास कहने को कुछ नहीं था बल्कि वह कमजोर बहाने बना रही थी.

 

उन्होंने कहा, ‘‘वे सभी बहुत सम्मानित व्यक्ति हैं और उनका किसी राजनीतिक दल से कोई लेना-देना नहीं है.उन्होंने स्वतंत्रता पूवर्क काम करने की अनुमति नहीं मिलने पर इस्तीफा दिया. काम करने का वातावरण और स्वतंत्रता वहां नहीं थी. इस कारण उन्होंने इस्तीफा दिया. सरकार की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आयी.’’

संबंधित खबरें-

गृह मंत्री के सामने अनिल गोस्वामी ने मतंग सिंह मामले में दी सफाई 

अनिल गोस्वामी को सरकार ने हटाया, एलसी गोयल बने नये गृह सचिव  

गृह सचिव अनिल गोस्वामी की भी हो सकती है छुट्टी

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: lc_goyal_new_home_secretary
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

बड़ी खबर: जल्द बीजेपी में शामिल हो सकते हैं कांग्रेस के बड़े नेता नारायण राणे
बड़ी खबर: जल्द बीजेपी में शामिल हो सकते हैं कांग्रेस के बड़े नेता नारायण...

मुंबई: महाराष्ट्र की राजनीति में एक बड़ा भूकंप आने की तैयारी में है. महाराष्ट्र में कांग्रेस...

JDU की बैठक में बड़ा फैसला, चार साल बाद फिर NDA में शामिल हुई नीतीश की पार्टी
JDU की बैठक में बड़ा फैसला, चार साल बाद फिर NDA में शामिल हुई नीतीश की पार्टी

पटना: बिहार की राजनीति में आज का दिन बेहद अहम माना जा रहा है. पटना में नीतीश की पार्टी की जेडीयू...

यूपी: मदरसों को लेकर योगी सरकार का दूसरा बड़ा फैसला, अब जरुरी होगा रजिस्ट्रेशन
यूपी: मदरसों को लेकर योगी सरकार का दूसरा बड़ा फैसला, अब जरुरी होगा...

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने एक अहम फैसले के तहत शुक्रवार से प्रदेश के सभी...

बाढ़ का कहर जारी: बिहार में अबतक 153  तो असम में 140 से ज्यादा की मौत
बाढ़ का कहर जारी: बिहार में अबतक 153 तो असम में 140 से ज्यादा की मौत

पटना/गुवाहाटी: बाढ़ ने देश के कई राज्यों में अपना कहर बरपा रखा है. बाढ़ से सबसे ज्यादा बर्बादी...

CM योगी का राहुल गांधी पर निशाना, बोले- 'गोरखपुर को पिकनिक स्पॉट न बनाएं'
CM योगी का राहुल गांधी पर निशाना, बोले- 'गोरखपुर को पिकनिक स्पॉट न बनाएं'

गोरखपुर: उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज स्वच्छ यूपी-स्वस्थ...

नेपाल, भारत और बांग्लादेश में बाढ़ से ‘डेढ़ करोड़’ से अधिक लोग प्रभावित: रेड क्रॉस
नेपाल, भारत और बांग्लादेश में बाढ़ से ‘डेढ़ करोड़’ से अधिक लोग प्रभावित: रेड...

जिनेवा: आईएफआरसी यानी   ‘इंटरनेशनल फेडरेशन आफ रेड क्रॉस एंड रेड क्रीसेंट सोसाइटीज’ ने...

‘डोकलाम’ पर जापान ने किया था भारत का समर्थन, चीन ने लगाई फटकार
‘डोकलाम’ पर जापान ने किया था भारत का समर्थन, चीन ने लगाई फटकार

बीजिंग:  चीन ने शुक्रवार को जापान को फटकार लगाते हुए कहा कि वह चीन, भारत सीमा विवाद पर ‘बिना...

यूपी: मथुरा में कर्जमाफी के लिए घूस लेता लेखपाल कैमरे में कैद, सस्पेंड
यूपी: मथुरा में कर्जमाफी के लिए घूस लेता लेखपाल कैमरे में कैद, सस्पेंड

मथुरा: योगी सरकार ने साढ़े 7 हजार किसानों को बड़ी राहत देते हुए उनका कर्जमाफ किया है. सीएम योगी...

बिहार: सृजन घोटाले में बड़ा खुलासा, सामाजिक कार्यकर्ता का दावा- ‘नीतीश को सब पता था’
बिहार: सृजन घोटाले में बड़ा खुलासा, सामाजिक कार्यकर्ता का दावा- ‘नीतीश को सब...

पटना:  बिहार में सबसे बड़ा घोटाला करने वाले सृजन एनजीओ में मोटा पैसा गैरकानूनी तरीके से सरकारी...

यूपी: वाराणसी में लगे PM मोदी के लापता होने के पोस्टर, देर रात पुलिस ने हटवाए
यूपी: वाराणसी में लगे PM मोदी के लापता होने के पोस्टर, देर रात पुलिस ने हटवाए

वाराणसी: उत्तर प्रदेश में वाराणसी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र है. यहां पर कुछ...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017