लाइफ इन ए मेट्रो!

By: | Last Updated: Sunday, 6 September 2015 5:21 PM

नई दिल्लीः मेट्रो माने खुशखबरी. मेट्टो माने आराम. और अब सफर में आराम पाने वालों की लिस्ट में दिल्ली-NCR के चौथे शहर फरीदाबाद का नाम भी शुमार हो गया है. खास बात ये है कि प्रधानमंत्री मोदी खुद बदरपुर से फरीदाबाद मेट्रो में सफर करके उद्घाटन करने पहुंचे थे. फरीदाबाद में पहुंची इस गुड न्यूज के साथ आज हम बात करेंगे लाइफ इन ए मेट्रो की.

 

आप सोच रहे होंगे कि हम आपको ये तस्वीरें क्यों दिखा रहे हैं. यादों पर पड़ी धूल को पोछेंगे तो ये तस्वीरें करीब 13 साल पहले की कहानी सुनाने लगेंगी

 

डीटीसी औऱ ब्लूलाइन बसों के धक्के दिसंबर की सर्दी में ठिठुरते और जून की गर्मी में तपते लोग घंटों बस स्टॉप पर बस का इंतजार करते लोग लेकिन दिसंबर की चिलचिलाती ठंड में 25 दिसंबर 2002 को दिल्ली वालों के लिए मेट्रो सौगात बनकर आई. मेट्रो में सफर करके लोगों ने जाना कि सुविधा क्या होती है, जान जोखिम में बिना डाले सुरक्षित सफर क्या होता है

 

ये सिलसिला चल पड़ा और ऐसा चला कि दिल्ली एनसीआर में 190 किमी पर मेट्रो दौड़ रही है और इस बार 18 लाख आबादी वाले शहर फरीदाबाद की बारी थी. उद्याटन से पहले प्रधानमंत्री मोदी ने भी मेट्रो में सफर किया. बदरपुर से फरीदाबाद के लिए शुरू हुई मेट्रो का उद्घाटन करने पीएम को फरीराबाद जाना था लेकिन उन्होंने इस सफर के लिए सड़क की जगह मेट्रो को चुना.

 

जनपथ स्टेशन पर सुबह 10 बजे मोदी मेट्रो में बैठे थे. संडे था तो भीड़ जरूर कम थी लेकिन जितनी थी उसने मोदी को घेर लिया. प्रधानमंत्री मोदी अपनी जगह पर बैठे रहे लेकिन उनके आसपास भीड़ बदलती रही. और सेल्फी का सिलसिला भी चलता रहा.

 

स बीच एक मां अपनी नन्हीं बच्ची के साथ पहुंची, तो पीएम ने बच्ची को भी खिलाया. फरीदाबाद में बाटा चौक मेट्रो स्टेशन से पीएम ने बदरपुर से फरीदाबाद के मुजेसर तक शुरू हुई मेट्रो ट्रेन को हरी झंडी दिखाई. मेट्रो के कोच से लेकर स्टेशन तक का हर हिस्सा इसलिए नहीं चमक रहा था कि प्रधानमंत्री मोदी पहुंचे हुए थे. ये मेट्रो की खासियत है कि आम लोगों के लिए भी ये उतनी ही साफ सुधरी रहती है जितनी खास लोगों के लिए. मेट्रो सुविधा देने में भेदभाव नहीं करती.

 

मेट्रो का ये नया रूट.. मेट्रो की लाइन 6 यानी वॉयलेट लाइन का ही विस्तार है…इस रूट से अब दिल्ली के कश्मीरी गेट से सीधे फरीदाबाद के मुजेसर तक जा सकते हैं . 2017 तक इसे बल्लभगढ़ से भी जोड़ दिया जाएगा .बदरपुर से मुजेसर रूट पर एक खास बात ये है कि इसके 9 मेट्रो स्टेशन पर पावर सप्लाई सौर ऊर्जा से होती है .

 

मेट्रो का अनुमान है कि करीब 14 किलोमीटर लंबे इस मेट्रो रुट पर रोजाना करीब 2 लाख लोग सफर कर सकेंगे और दिल्ली से फरीदाबाद तक का सफर बेहद आसान हो जाएगा .

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: LIFE IN A METRO
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017