BSP, NCP और CPM से छिन सकता है राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा!

By: | Last Updated: Monday, 30 June 2014 7:09 AM
loksabha_national_parties

नई दिल्ली: हो सकता है जल्दी ही भारत में सिर्फ तीन राष्ट्रीय पार्टियां ही बचें. लोकसभा चुनाव 2014 में कई राष्ट्रीय पार्टियों को उम्मीद से बहुत कम सीटें मिली, जबकि बीजेपी ने सबसे ज्यादा सीटें जीत कर रिकॉर्ड कायम किया. लेकिन (राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी)एनसीपी, (बहुजन समाज पार्टी) बीएसपी और कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (सीपीएम) को अपने अस्तित्व बचाना भी मुश्किल हो गया. मायावती की पार्टी बीएसपी तो अपने गढ़ यूपी में 80 में से एक भी सीट नहीं जीत पाई.

 

खबर है कि भारतीय चुनाव आयोग ने दो हफ्ते पहले इन तीनों पार्टियों को कारण बताओ नोटिस जारी कर सफाई मांगी है कि लोकसभा चुनावों में खराब प्रदर्शन को मद्देनजर रखते हुए आखिर इन पार्टियों का राष्ट्रीय पार्टी होने का दर्जा क्यों न रद्द किया जाए.

 

राष्ट्रीय पार्टी होने के लिए जरूरी मापदंडों के मुताबिक एक राष्ट्रीय पार्टी को चार राज्यों में अलग-अलग  छह प्रतिशत वोट मिलने चाहिए या कम से कम तीन प्रदेशों में कुल लोकसभा सीट की दो प्रतिशत, या कम से कम चार प्रदेशों में क्षेत्रीय पार्टी का दर्जा होना चाहिए.

 

आम चुनावों के बाद एनसीपी, बीएसपी और सीपीआई राष्ट्रीय पार्टी बनने के लिए जरूरी इन सबमें से कोई भी मापदंड पूरा नहीं करती हैं.

 

इन तीनों पार्टियों को चुनाव आयोग को 27 जून तक सफाई देनी थी. अगर इन पार्टियों का राष्ट्रीय दर्जा खत्म कर दिया जाता है तो देश में सिर्फ बीजेपी, कांग्रेस और सीपीआई(एम) ही राष्ट्रीय स्तर की पार्टियां होंगी. इसके अलावा 1968 में जारी किए गए चुनाव चिन्ह कानून के तहत राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा खत्म होने पर कोई पार्टी पूरे देश में चुनावों के दौरान एक ही चुनाव चिन्ह के साथ चुनाव नहीं लड़ सकती.

 

अगर इस नियम को लागू किया गया तो बीएसपी सिर्फ उन्हीं राज्यों में हाथी चुनाव चिन्ह का प्रयोग कर पाएगी जहां उसे राज्य स्तरीय पार्टी का दर्जा प्राप्त है.

इसके साथ ही एनसीपी, बीएसपी और सीपीआई से राष्ट्रीय पार्टी के तौर पर मिलने वाली ऑल इंडिया रेडियो और दूरदर्शन पर ब्रॉडकास्टिंग और मतदाता सूची की फ्री कॉपियों की सुविधा भी छिन जाएगी.  

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: loksabha_national_parties
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ????? ?????? ?????? ????? 2014
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017