लंदन: प्रत्यर्पण मामले में कोर्ट में आज पेश होंगे विजय माल्या-London: Vijay Mallya will be present in court today in extradition case

लंदन: प्रत्यर्पण मामले में कोर्ट में आज पेश होंगे विजय माल्या

भारत की अर्जी पर दो बार गिरफ्तार हो चुके विजय माल्या 6.5 लाख पौंड के जमानत बांड पर फिलहाल बाहर हैं. भारत ने फरवरी 2017 में ब्रिटेन सरकार से इस भगोड़े उद्योगपति का प्रत्यर्पण का आग्रह किया था.

By: | Updated: 11 Jan 2018 09:19 AM
London: Vijay Mallya will be present in court today in extradition case

नई दिल्ली: विजय माल्या प्रत्यर्पण मामले में सुनवाई के लिये आज लंदन में वेस्टमीनिस्टर मजिस्ट्रेट की कोर्ट में पेश होंगे. वह भारत में धोखाधड़ी और 9,000 करोड़ रुपये के मनी लांड्रिंग मामले में वांछित हैं. लंदन की वेस्टमिनिस्टर कोर्ट में भारत सरकार की तरफ से मुम्बई का आर्थर रोड जेल में कैदियों के लिए सुविधाओं पर एक स्पष्टीकरण अदालत में पेश किया जाना है.


अदालत ने 14 दिसंबर को हुई पिछली सुनवाई में मा्ल्या की दलील पर मुम्बई की आर्थर रोड जेल के बारे में उपलब्ध सुविधाओं पर जवाब मांगा था, जहाँ प्रत्यर्पित किया जाने का बाद उसे रखा जाना प्रस्तावित है. गौरतलब है कि 9000 करोड़ रुपए की वित्तीय अनियमितता और कर चोरी मामले में भगोड़े करार उद्योगपति विजय माल्या के प्रत्यर्पण के लिए भारत की दरख्वास्त पर 4 दिसंबर से सुनवाई चल रही है.


भारत की अर्जी पर दो बार गिरफ्तार हो चुके विजय माल्या 6.5 लाख पौंड के जमानत बांड पर फिलहाल बाहर हैं. भारत ने फरवरी 2017 में ब्रिटेन सरकार से इस भगोड़े उद्योगपति का प्रत्यर्पण का आग्रह किया था. किंगफिशर एअरलाइन की देनदारियों और विभिन्न बैंकों के उधार समेत करीब 9000 करोड़ रुपये के कर्ज को लेकर दाखिल अदालती मामलों में वांछित माल्या मार्च 2016 में ब्रिटेन चले गए थे. माना जा रहा है कि भारत सरकार द्वारा पेश किये गये सबूत की स्वीकार्यता से जुड़े मामले में यह अंतिम सुनवाई हो सकती है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: London: Vijay Mallya will be present in court today in extradition case
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story यूपी सरकार का प्रदेश में अवैध लाउडस्पीकरों पर कार्रवाई का आदेश