लॉटरी से होगा मोदी के सार्वजनिक स्वागत समारोह में शरीक होने वाले प्रतिभागियों का निर्णय

By: | Last Updated: Wednesday, 3 September 2014 3:52 AM
Lottery_modi_welcome

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अमेरिका आगमन पर 28 सितंबर को न्यूयार्क सिटी में प्रतिष्ठित मैडिसन स्क्वायर गार्डन में उनके सार्वजनिक स्वागत समारोह में शामिल होने वाले प्रतिभागियों का चयन लॉटरी प्रणाली के जरिए किया जाएगा.

 

मोदी के स्वागत समारोह के आयोजकों ने यह जानकारी दी. इस उद्देश्य के लिए हाल ही में गठित भारतीय अमेरिकी कम्युनिटी फाउंडेशन को सोमवार की मध्य रात्रि तक देश भर से करीब 20,000 आवेदन मिले हैं. आवेदन सुदूर अलास्का और हवाई से भी आए हैं.

 

भारतीय-अमेरिकी समुदाय के 407 संगठनों और धार्मिक संस्थानों के सदस्यों के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की समय सीमा सोमवार तक थी. ये सभी मोदी के सार्वजनिक स्वागत समारोह में मेजबान की भूमिका अदा करेंगे.

 

मंगलवार को फांउडेशन ने समारोह के लिए आम लोगों से ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किए थे. मैडिसन गार्डन में करीब 20,000 लोगों के बैठने की क्षमता है.

 

आम लोगों के लिए इस समारोह में शामिल होने की खातिर ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तारीख 7 सितंबर है. आयोजकों को उम्मीद है कि इस दौरान हजारों लोग समारोह में शामिल होने की खातिर ऑनलाइन आवेदन करेंगे.

 

मोदी के सार्वजनिक स्वागत समारोह में शामिल होने के लिए बड़ी संख्या में आवेदन मिलने के कारण, आयोजकों ने लॉटरी प्रणाली के जरिये यह फैसला करने का निर्णय किया कि इस अति विशिष्ट समारोह में कौन कौन भाग लेंगे. इस आयोजन से संबद्ध वेबसाइट ने कल कहा कि टिकट किसे दी जानी है, यह लॉटरी के जरिये तय किया जाएगा.

 

अमेरिका की प्रतिष्ठित जॉर्जटाउन यूनिवर्सिटी में वैज्ञानिक अंजू प्रीत ने कहा, ‘‘वर्ष 1893 में जब स्वामी विवेकानंद (नरेंद्र नाथ दत्त) ने शिकागो में अपना भाषण दिया था तब मैं वहां उपस्थित नहीं थी. लेकिन अब मैं न्यूयार्क में दूसरे ‘नरेंद्र’ के ऐतिहासिक भाषण को सुनने का मौका नहीं गंवाना चाहती.’’ अंजू का वहां जाना टिकटों की उपलब्धता पर निर्भर करता है लेकिन उनकी योजना समारोह में अपने बेटों को भी ले जाने की है.

 

कार्यक्रम के लिए टिकट पर कोई शुल्क नहीं है.

 

लोगों की उत्साहजनक प्रतिक्रिया से आयोजक चकित नहीं हैं. एक आयोजक ने कहा, ‘‘हमें इसकी उम्मीद थी. मोदी की लोकप्रियता को देखते हुए 60,000 से 70,000 लोगों के बैठने की क्षमता रखने वाला स्टेडियम भी आकार में छोटा ही पड़ता.’’ उन्होंने प्रेस ट्रस्ट को बताया, ‘‘न्यूयार्क, न्यूजर्सी में दो स्टेडियम लेने के लिए हमने अपनी ओर से पूरी कोशिश की लेकिन खेलों के लिए दोनों ही स्टेडियम बुक थे. यही वजह है कि इस दिन के लिए सबसे बड़े आयोजन स्थल के रूप में मैडिसन स्क्वायर गार्डन ही हमें मिल पाया.’’

 

समुदाय के नेता ने नाम न जाहिर करने के अनुरोध पर कहा कि समारोह को कवर करने के लिए अमेरिका और भारत के मीडिया की गहरी दिलचस्पी है. तैयारियां जोर शोर से हो रही हैं और कई बातों पर अंतिम निर्णय अभी किया जाना है. बहरहाल, आयोजन से जुड़े लोगों को यह पूर्ण विश्वास है कि यह समारोह एक ‘‘यादगार समारोह’’ होगा.

 

स्वागत समारोह में सहभागी बनने के लिए 700 भारतीय अमेरिकी संगठनों ने अपनी रूचि दिखाई है.

 

‘‘वेलकम पार्टनर्स फॉर द कम्युनिटी रिसेप्शन’’(सामुदायिक स्वागत के लिए स्वागतकर्ता सहयोगी) बनना भी आसान नहीं था. कड़ी जांच से गुजरने के बाद अब तक 407 भारतीय-अमेरिकी संगठनों ने पंजीकरण कराया है. ये सभी संगठन जरूरी मानदंडों जैसे काम करने की अवधि, गैर लाभकारी होना, धार्मिक संस्थान और वाषिर्क आयकर भरना आदि को पूरा करते हैं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Lottery_modi_welcome
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: America lottery MODI welcome
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017