Madhya Pradesh: 'Mahakal bhasm aarti' performed at Ujjain's Mahakaleshwar Temple उज्जैन: महाकाल मंदिर में आज शिवलिंग पर कपड़ा लपेटकर और बिना शक्कर के हुई भस्म आरती

उज्जैन: महाकाल मंदिर में आज शिवलिंग पर कपड़ा लपेटकर और बिना शक्कर के हुई भस्म आरती

महाकाल ज्योतिर्लिंग को पहुंच रहे नुकसान को रोकने के लिए कोर्ट ने एक विशेषज्ञ कमिटी का गठन किया था. जिसपर सुप्रीम कोर्ट ने भी सहमति जताई है.

By: | Updated: 28 Oct 2017 11:11 AM
Madhya Pradesh: ‘Mahakal bhasm aarti’ performed at Ujjain’s Mahakaleshwar Temple
उज्जैन: मध्य प्रदेश में उज्जैन के महाकाल मंदिर में आज शिवलिंग पर कपड़ा लपेटकर भस्म आरकी की गई है. इतना ही नहीं आज बिना शक्कर के ही भस्मारती हुई है, जबकि पहले शक्कर, दूध, दही, शहद और जल से अलग-अलग स्नान कराया जाता था. बता दें कि कल सुप्रीम कोर्ट ने मंदिर में जल और पंचामृत चढ़ाने की सीमा तय कर दी है.

दरअसल, महाकाल ज्योतिर्लिंग को पहुँच रहे नुकसान को रोकने के लिए कोर्ट ने एक विशेषज्ञ कमिटी का गठन किया था. कमिटी ने गर्भगृह में श्रद्धालुओं की संख्या सीमित करने, जल और दूध से बने पंचामृत की मात्रा कम करने जैसी कई सिफारिशें की थी.

temple 2

मंदिर प्रबंधन के प्रस्ताव के मुताबिक-

  • मंदिर में हर श्रद्धालु को सिर्फ आधा लीटर जल चढ़ाने दिया जाएगा.



  • शिवलिंग पर चढ़ाने के लिए RO पानी का इस्तेमाल होगा.



  • हर श्रद्धालु को सवा लीटर तक पंचामृत चढ़ाने दिया जाएगा.



  • भस्म आरती के समय शिवलिंग को सूखे सूती कपड़े से ढंका जाएगा.



  • हर शाम 5 बजे जलाभिषेक खत्म होने के बाद गर्भगृह और शिवलिंग को सुखाया जाएगा.



  • शिवलिंग पर चीनी का पाउडर लगाने पर रोक लगेगी. इसके बदले खंडसारी का इस्तेमाल होगा.



  • गर्भगृह को सूखा रखने और शिवलिंग तक हवा आने देने के बंदोबस्त किए जाएंगे.



  • मंदिर में सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट बनाया जाएगा.


जस्टिस अरुण मिश्रा और एल नागेश्वर राव की बेंच ने मंदिर मैनेजमेंट के प्रस्ताव पर संतोष जताया. बेंच ने कहा-"हम मैनेजमेंट के सुझावों की सराहना करते हैं. ये ख़ुशी की बात है कि सालों बाद ही सही कुछ अच्छे कदम उठाए जा रहे हैं."

हालांकि, याचिकाकर्ता सारिका गुरु के वकील ने इन प्रस्तावों को नाकाफी बताते हुए एतराज़ जताया. कोर्ट ने उन्हें और दूसरे पक्षों को आपत्ति और सुझाव देने के लिए 15 दिन का समय दिया. मामले पर अगली सुनवाई 30 नवंबर को होगी.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Madhya Pradesh: ‘Mahakal bhasm aarti’ performed at Ujjain’s Mahakaleshwar Temple
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story ‘ब्लू व्हेल चैलेंज’ के खेल में फंस गयी है कांग्रेस, 18 दिसंबर को देखेगी आखिरी एपिसोड: पीएम मोदी