शिवराज की साख पर जनता की मुहर, निकाय चुनाव में मिली बंपर जीत

By: | Last Updated: Sunday, 16 August 2015 7:40 AM
madhyapradesh ELECTION RESULT

नई दिल्लीः मध्य प्रदेश में शिवराज सिंह चौहान की साख पर व्यापम घोटाले का असर नहीं दिखा. स्थानीय निकाय चुनाव में दस में से आठ पर बीजेपी ने बाजी मारी है. इसके साथ ही बीजेपी मुख्यालय पर समर्थकों की भारी भीड़ जमा हो गई. जीत का जश्न मनाते हुए कार्यकर्ताओं ने मुख्यालय पर पटाखे भी फोड़े.  बड़ी बात ये है कि पांच सीटें बीजेपी ने कांग्रेस से छीनी है.

 

इस मौके पर प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बीजेपी के बड़े नेताओं और सभी कार्यकर्ताओं को जीत की बदाई दी. शिवराज ने कहा, ”ये हजारों कार्यकरताओं की मेहनत का परिणाम है.” व्यापम पर बोलते हुए शिवराज सिंह ने कहा, ”ये मध्यप्रदेश को बदनाम करने की साजिश है यहां के लोग भोले भाले हैं. मध्यप्रदेश को लेकर नकारात्मक अफवाहें फलाई जा रहीं.”

 

शिवराज ने इशारों इशारों में दिग्विजय सिंह पर भी निसाना साधा. शिवराज ने कहा, “पूर्व मुख्यमंत्री कहते थे कि मध्यप्रदेश मत जाना, चाय मत पीना, पता नहीं लौट कर आओगे या नहीं. इस तरह की बेकार की बातें की गईँ.”

 

मध्‍यप्रदेश के उज्‍जैन और मुरैना सहित 10 नगरों में आज यानी रविवार को सुबह 9 बजे से वोटों की गिनती शुरू हुई. इन चुनावों में आधे से ज्यादा सीटों पर बीजेपी शुरुआत से ही आगे रही. बीजेपी ने दस में से आठ पर जीत दर्ज की.

 

दस में से दो नगर निगम मुरैना और उज्जैन में बीजेपी जीती है जबकि तीन नगर पालिका में से विदिशा और हरदा पर बीजेपी को जीत मिली सिर्फ सांरगपुर नगरपालिका पर कांग्रेस जीती है. इसके अलावा पांच में से चार नगर पंचायत बीजेपी के खाते में गई है

 

घोटालों के आरोपों से घिरी बीजेपी के लिए ये जीत कितनी बड़ी राहत देने वाली है इसका अंदाजा आपको प्रधानमंत्री नरेंद्र के ट्वीट से लग सकता है. पीएम ने ट्विटर पर लिखा है कि ‘एमपी नगरीय चुनाव के नतीजे बेहद खुश करने वाले हैं, मध्यप्रदेश की जनता का धन्यवाद जिसने बीजेपी पर अपना विश्वास दिखाया. पार्टी के नेताओं और  कार्यकर्ताओं की मेहनत को सलाम’

 

एबीपी न्यूज ने 14 अगस्त को जो सर्वे कराया था उसमें पीएम आज भी देश में लोकप्रियता के पैमाने पर सबसे आगे हैं.  52 फीसदी लोगों का झुकाव अब भी एनडीए की तरफ है, जबकि यूपीए काफी पीछे है, सिर्फ 17 फीसदी लोगों का रुझान है.

 

संसद के मानसूत्र सत्र में विरोधी घोटाले के आरोपों को लेकर सरकार को घेर रहे थे. व्यापम घोटाले के बहाने कांग्रेस शिवराज का इस्तीफा मांग रही थी. तो ललित मोदी विवाद में सुषमा और वसुंधरा को घेर रही थी. अब मध्य प्रदेश की ये जीत बीजेपी को राहत तो देगी ही बिहार चुनाव में भी पार्टी इस जीत को भुनाने की कोशिश करेगी.

 

मंदसौर सुवासरा नगर पंचायत अध्‍यक्ष पद पर बीजेपी प्रत्‍याशी  मगनलाल सूर्यवंशी जीते. मगनलाल सूर्यवंशी ने कांग्रेस के संदीप वर्मा को 125वोटों  से हराया. सुवासरा नगर परिषद में बोर्ड पर भी बीजेपी ने कब्‍जा जमा लिया. कुल 15 पार्षदों में से 9 बीजेपी, 5 कांग्रेस और एक निर्दलीय की जीत हुई है. रीवा की चाकघाट में नगरीय पंचायत चुनाव में बीजेपी प्रत्‍याशी मीनाक्षी गुप्‍ता ने 873 मतों से जीत दर्ज की. बीजेपी को कुल 2378 मत मिले वहीं कांग्रेस को 1518 मतों से संतोष करना पड़ा.

 

सतना की कोटर नगर पंचायत में बीजेपी की शांति शर्मा जीतीं. छतरपुर की घुवारा में निर्दलीय प्रत्‍याशी अरुणा राजे ने जीत दर्ज की. उन्‍होंने बीजेपी उम्‍मीदवार को 4535 मतों से हराया.

 

हरदा नगर पालिका अध्‍यक्ष पद पर बीजेपी की साधना जैन ने जीत दर्ज की. सारंगपुर नगर पालिका में कांग्रेस की रूपल पटेल ने जीतीं.

 

प्रदेश में 12 अगस्‍त को उज्जैन, मुरैना नगर निगम के अलावा विदिशा, सारंगपुर, सुवासरा, घुवारा, चाकघाट और कोटर में महापौर, अध्यक्ष और पार्षद के लिए मतदान हुआ था.

 

हरदा और भैंसदेही में सिर्फ अध्यक्ष पद के लिए उपचुनाव हुए थे. मुरैना के वार्ड 47 में ईवीएम में गलती की वजह से 14 अगस्‍त को पुनर्मतदान करवाया गया था. उज्‍जैन में 54 वार्डो के लिए मतदान हुआ वहीं मुरैना में 47 वार्डों के लिए मतदान हुआ था.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: madhyapradesh ELECTION RESULT
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017