महाराष्ट्र: बीजेपी-शिवसेना में सीट बंटवारे पर बातचीत फिर फेल, बीजेपी के नए फॉर्मूले पर आज शिवसेना ले सकती है फैसला

By: | Last Updated: Sunday, 21 September 2014 2:53 AM

नई दिल्ली: सुलह की दिशा में बात बढ़ने के एक दिन बाद शनिवार को शिवसेना और बीजेपी नेताओं ने महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में सीटों के बंटवारे को लेकर गतिरोध दूर करने के लिए बातचीत की लेकिन वे किसी सहमति पर पहुंचने में विफल रहे और बीजेपी ने शिवसेना के उस फार्मूले को खारिज कर दिया जिसमें उसे 125 सीट पर चुनाव लड़ने की पेशकश की गई थी. बीजेपी ने एक नया फार्मूला सुझाया.

 

बीजेपी की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष देवेन्द्र फड़नवीस ने आज रात शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे से मुलाकात की और उन्हें सीटों के बंटवारे के मुद्दे पर बीजेपी कोर समिति के निर्णय के बारे में सूचित किया. उन्होंने शिवसेना को सीटों के बंटवारे के मुद्दे पर एक नया प्रस्ताव दिया.

 

शिवसेना के पूर्व में पेश प्रस्ताव के तहत वह 155 सीटों पर लड़ना चाहती थी और बीजेपी के लिए उसने 125 सीट छोड़ी थी जबकि शेष सीट छोटे दलों के लिए छोड़े थे. फड़नवीस उपनगरीय बांद्रा में ठाकरे के आवास मातोश्री गए और शिवसेना प्रमुख से सीटों के बंटवारे के बारे में चर्चा की.

 

मातोश्री से बाहर फड़नवीस ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘ मैंने उद्धवजी से कहा कि शिवसेना के प्रस्ताव में सीटों की संख्या हमें स्वीकार्य नहीं है. हम शिवसेना की प्रतिक्रिया का इंतजार करेंगे. हमारी कोर समिति महसूस करती है कि अगर हम शिवसेना का प्रस्ताव मान लेते हैं तब हम पिछले चुनाव से भी कम सीटों पर चुनाव लड़ेंगे.’’ उन्होंने कहा, ‘‘ बैठक के दौरान मैंने सीटों के बंटवारे के बारे में नया प्रस्ताव पेश किया जिस बारे में हमने कोर समिति की बैठक में चर्चा की थी. मुझे उम्मीद है कि शिवसेना हमारे प्रस्ताव पर सहमत होगी और गतिरोध समाप्त होगा. ’’ बहरहाल, राजग के इन दोनों पुराने सहयोगियों ने इस बात पर बल दिया कि वे नहीं चाहते कि गठबंधन टूट जाए.

 

विधानपरिषद में विपक्ष के नेता और वरिष्ठ बीजेपी नेता विनोद तावड़े ने बताया कि शिवसेना ने बीजेपी के लिए 125 सीटें छोड़ते हुए 155 सीटों पर खुद लड़ने एवं विधानसभा की कुल 288 में से बाकी सीटें छोटे सहयोगियों को देने प्रस्ताव दिया है.

 

तावडे ने कहा, ‘‘यह हमें स्वीकार्य नहीं है. (लेकिन) अगले 24 घंटे में इस गठबंधन मुद्दे पर स्पष्टता आ जाएगी. ’’ राज्य में 15 अक्तूबर को होने जा रहे विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन की अंतिम तारीख 27 सितंबर है.

 

कई दिनों की चुप्पी के बाद कल रात शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने बीजेपी के महाराष्ट्र चुनाव प्रभारी ओ पी माथुर से बातचीत के लिए अपने 24 वर्षीय बेटे आदित्य ठाकरे और वरिष्ठ पार्टी नेता सुभाष देसाई को भेजा था और फिर बीजेपी को सीटों के बंटवारे का एक फार्मूला भेजा.

 

प्रदेश बीजेपी की कोर समिति के सदस्यों ने आज दो दौर की बैठक में इस प्रस्ताव पर विचार किया . इस बैठक में माथुर और महाराष्ट्र के पार्टी मामलों के प्रभारी पार्टी महासचिव राजीव प्रताप रूडी भी थे. उधर, देसाई ने भी प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष देवेंद्र फड़नवीस से बातचीत की.

 

इसी बीच शिवसेना ने कहा कि गठबंधन पर निर्णय कल तक हो सकता है.शिवसेना प्रवक्ता और सांसद संजय राउत ने कहा, ‘‘पार्टी ने गठबंधन पर अंतिम निर्णय लेने के लिए उद्धवजी को अधिकृत किया है. शिवसेना की कार्यकारिणी समिति की कल बैठक हो रही है और घोषणा हो सकती है. ’’ तावड़े ने भी कहा कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह चाहते हैं कि गठबंधन जारी रहे.

 

उन्होंने कहा, ‘‘मैंने कल उद्धव ठाकरे से बातचीत की. शनिवार को फड़नवीस और देसाई के बीच भेंटवार्ता हुई. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह भी जोर दे रहे हैं कि गठबंधन कायम रहना चाहिए.

 

तावडे ने कहा, ‘‘हम गठबंधन को अटूट रखने के लिए जो कुछ कर सकते हैं, कर रहे हैं. यह 25 साल पुराना नाता है. हम महसूस करते हैं कि कौन सी पार्टी कितनी ज्यादा सीटें ले पाती है और कौन मुख्यमंत्री बनता है जैसे मुद्दों पर यह (गठबंधन) नहीं टूटना चाहिए. ’’ तावड़े ने कहा कि बीजेपी उन क्रमश: 59 सीटों एवं 19 सीटों पर चर्चा पर जोर दे रही है जहां शिवसेना एवं बीजेपी पिछले पांच चुनाव लड़ीं लेकिन जीत नहीं पायीं.

 

उन्होंने कहा, ‘‘चीजें फिर से व्यवस्थित करने की जरूरत है ताकि जो पार्टी इन सीटों को जीत सकती है, उसे वहां अपने उम्मीदवार उतारना चाहिए. ’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमारा लक्ष्य है कि हम महाराष्ट्र के 11.88 करोड़ लोगों को प्रगतिशील सरकार देने के लिए 288 में कम से कम 200 सीटें जीतें.’’ इस बीच वरिष्ठ शिवसेना नेता अनिल देसाई ने पार्टी प्रमुख के साथ भेंट के बाद कहा, ‘‘हमें यह तथ्य मालूम है कि महायुति महाराष्ट्र के लिए बहुत महत्वपूर्ण है. हमारे बीच गठबंधन निश्चित रूप से बरकरार रहने जा रहा है. (सीटों के) प्रस्ताव से कहीं ज्यादा गठबंधन महत्वपूर्ण है. उद्धवजी 24 घंटे के अंदर अपने फैसले की घोषणा करेंगे. ’’ उन्होंने कहा, ‘‘मीडिया की यह खबर कि हमारा गठबंधन टूट जाएगा, एक कपोल कल्पना है. हम सीटों के बंटवारे के फार्मूले की घोषणा करने से पहले उसकी बारीकियों को अंतिम रूप देने पर काम कर रहे हैं. ’’

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: maharashtra_bjp_shivsena
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017