महाराष्ट्र: पुणे जिले में जमीन धंसने से पूरा गांव दबा, दो की मौत

By: | Last Updated: Wednesday, 30 July 2014 7:14 AM

नई दिल्ली: महाराष्ट्र के पुणे के पास भीमाशंकर ज्योतिर्लिंग से 30 किलोमीटर दूर जमीन धंसने से मालिन नाम का पूरे का पूरा गांव दब गया है. इस मलबे में लगभग 40 घरों के दबे होने की आशंका है. यह हादसा सुबह छह बजे के करीब हुआ है.

 

दबे घरों के मलबे में 100-150 लोगों के फंसे होने की आशंका है. अब तक दो लोगों के शव बाहर निकाले जा चुके हैं. गांव के दूर-दराज का पहाड़ी  इलाके में होने की वजह से पुलिस और प्रशासन को मौके पर पहुंचने में खासी दिक्कत हुई लेकिन अब स्थानीय लोगों की मदद से राहत और बचाव कार्य किया जा रहा है.

 

राष्ट्रीय आपदा राहत बल (एनडीआरएफ) की दो टीमें पुणे के एक गांव में राहत कार्य के लिए भेजी गई हैं. एनडीआरएफ के प्रवक्ता अनिल शर्मा ने बताया कि शुरुआती रिपोर्ट के अनुसार भूस्खलन भारी बारिश के कारण हुआ है.

शर्मा ने बताया, “पुणे के जिलाधिकारी ने हमें भूस्खलन की सूचना दी और हमने घटनास्थल पर तत्काल दो टीमें रवाना कर दी है.” उन्होंने बताया कि 17 अतिरिक्त टीमें तैयार की गई हैं और जरूरत पड़ने पर उन्हें भेजा जाएगा. प्रवक्ता ने बताया, “घटनास्थल पर टीम के पहुंचने के बाद वास्तविक स्थिति का पता चलेगा.”

 

पुणे में पिछले दो-तीन दिनों से लगातार बारिश हो रही थी. अब तक यह हादसा हुए साढ़े छह घंटे से ज्यादा का समय बीत चुका है.

 

NDRF के 80 जवानों के अलावा फायर ब्रिगेड की टीम और जिला प्रशासन के लोग मौके पर पहुंच चुके हैं. गांव एक रिमोट एरिया में आता है और पुणे से 130-140 किलोमीटर दूर है.