महाराष्ट्र में राजनीतिक हलचल बढ़ी, पवार ने मध्यावधि चुनाव होने की आशंका जताई

By: | Last Updated: Tuesday, 18 November 2014 6:16 AM

नई दिल्ली: महाराष्ट्र में अपने पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए एनसीपी के अध्यक्ष शरद पवार ने कहा है कि महाराष्ट्र में कभी भी मध्यावधि चुनाव हो सकते हैं. पवार ने अपने कार्यकर्ताओं को इसके लिए तैयार रहने को कहा है.

 

शरद पवार की पार्टी एनसीपी अभी बीजेपी की सरकार को बिना शर्त समर्थन दे रही है. पवार की पार्टी ने ये कहते हुए बीजेपी को समर्थन दिया था कि राज्य में स्थायी सरकार के लिए उन्होंने समर्थन दिया है. लेकिन अब खुद शरद पवार चुनाव की भविष्यवाणी कर रहे हैं.

 

एनसपी अध्यक्ष का बयान ऐसे समय में आया है जब बीजेपी और शिवसेना की दोस्ती होने की खबर एक बार फिर सुर्खियों में है. चर्चा है कि आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत दोनों दलों की दूरियां खत्म करने में जुटे हैं. शायद इस दोस्ती की आहट पाकर ही शरद पवार अपने पैंतरे बदल रहे हों. एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने यह भी कहा कि महाराष्ट्र में एमआईएम के बढ़ने में बीजेपी के ही कुछ नेताओं का हाथ है।

 

वहीं शिवसेना की तरफ से बीजेपी के लिए राहत भरी खबर है. शिवसेना के संजय राउत ने कहा है कि, ”शरद पवार को अपने पहले के बयान को जांचना चाहिए जब उन्होंने कहा था कि स्थिर सरकार के लिए वो बीजेपी का साथ दे रहे हैं. अब वो कह रहे हैं कि सरकार पांच साल नहीं चलेगी. लेकिन राज्य में सरकार की चाबी शिवसेना के पास है. शिवसेना बड़ा दल है और शिवसेना तय करेगी कि मध्यावधि चुनाव होंगे या नहीं, सरकार स्थिर रहेगी या अस्थिर. फिलहाल शिवसेना महाराष्ट्र सरकार को अस्थिर नहीं होने देगी.”

 

 

बीजेपी-शिवसेना का रिश्ता

उद्धव के साथ महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, साथ में पंकजा मुंडे दिखाई दिए थे. वैसे बाला साहेब ठाकरे की पुण्यतिथि होने की वजह से ये मेल मुलाकात बहुत खास नहीं मानी जानी चाहिए लेकिन बदले राजनीतिक माहौल की वजह से ये मुलाकात खास बन सकती है.

 

दरअसल सूत्रों के मुताबिक आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत शिवसेना और बीजेपी के बिगड़े रिश्ते को दूरूस्त करने में जुट चुके हैं.

 

शिवसेना अभी अपने पत्ते खोलने के लिए तैयार नहीं हैं लेकिन सूत्रों की मानें तो उद्धव ठाकरे और देवेंद्र फडणवीस की ये मुलाकात 22 नवंबर तक राजनीतिक दोस्ती में तब्दील हो सकती है . इस बात का संकेत महाराष्ट्र के शिक्षा मंत्री विनोद तावड़े ने भी दिया है. उन्होंने कहा- मुझे मोहन भागवत और उद्धव ठाकरे के बीच बातचीत की कोई जानकारी नहीं है, लेकिन बीजेपी ये जरूर चाहती है कि शिवसेना सरकार में शामिल हो.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: maharashtra_politics
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017