कौन हैं नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी?

By: | Last Updated: Friday, 10 October 2014 10:34 AM

नई दिल्ली: नॉर्वेजियन नोबेल कमेटी ने शांति के नोबेल पुरस्कार के लिए कैलाश सत्यार्थी को चुना है. ये सम्मान उन्हें संयुक्त रुप से दिया जाएगा. उनके साथ ही मलाला यूसुफजई को भी इस सम्मान से नवाज़ा जाएगा.

 

बाल अधिकारों के लिए काम करने वाले कैलाश सत्यार्थी का नाम किसी पहचान का मोहताज नहीं है. वे 1980 से ही बाल मजदूरी के खिलाफ अभियान चला रहे हैं.  सत्यार्थी के संगठन बचपन बचाओ आंदोलन ने देश के अलग अलग हिस्सों से अब तक 80 हज़ार बच्चों को बाल मजदूरी से छुड़वाया है और उन्हें पूनर्वास भी करवाया है.

 

सत्यार्थी ने बच्चों से जुड़े सामाजिक मुद्दों को वैश्विक स्तर पर उठाया. वे ग्लोबल मार्च अंगेस्ट चाइल्ड लेबर से भी जुड़े रहे हैं. सत्यार्थी ने इंटरनेश्नल सेंटर ऑन चाइल्ड लेबर एंड एजुकेशन के लिए भी काम किया है.

 

सत्यार्थी ने बाल मजदूरी को मानवाधिकार के साथ-साथ बच्चों के कल्याण के तौर पर उठाया. उनका तर्क था कि गरीबी, बेरोज़गारी, अशिक्षा, जनसंख्या वृद्धि और दूसरे सामाजिक मुद्दों की के बारे में समाज को पता होना चाहिए और उससे निजात दिलाने के लिए कार्य करने चाहिए.

 

वे दिल्ली में रहते हैं. उनके परिवार में केवल उनकी पत्नी, बेटी और एक बेटा ही नहीं है. इसके अलावा बाल मजदूरी से छुड़ाए गए अनेक बच्चों का पालन-पोषण भी वह करते है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Malala Yousafzai and Kailash Satyarthi win Nobel peace
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017