सांप्रदायिक हिंसा को लेकर सोनिया के बाद ममता का मोदी सरकार पर निशाना, आज संसद में हो सकती है चर्चा

By: | Last Updated: Wednesday, 13 August 2014 2:45 AM
mamta_sonia_bjp

नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के बाद अब पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बीजेपी पर निशाना साधा है. ममता ने कहा कि कुछ पार्टियां हिंदू-मुस्लिम दंगा करवाना चाहती हैं.

 

ममता बनर्जी ने दक्षिण दियांजपुर (Dianjpur) जिले में जनसभा को संबोधित करते हुए बीजेपी पर निशाना साधा. ममता बनर्जी ने लोगों से कहा कि आप दंगों में शामिल न हों. ममता ने कहा कि दंगा फैलाने वालों के खिलाफ उनकी सरकार सख्त कार्रवाई करेगी.

 

इससे पहले मंगलवार को ही तिरुअनंतपुरम में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मोदी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा था कि बीजेपी के सत्ता में आने के बाद सांप्रदायिक दंगे बढ़े.

 

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के बाद अब पार्टी की अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार पर मंगलवार को सीधा हमला किया और कहा कि समाज को बांटने के लिए उत्तर प्रदेश तथा महाराष्ट्र में जानबूझकर सांप्रदायिक हिंसा की गई है. केंद्र सरकार ने सोनिया के आरोपों को खारिज कर दिया और उन्हें ‘निराधार’ बताया. केरल की राजधानी स्थित प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में पार्टी नेताओं को संबोधित करते हुए सोनिया ने कहा, “उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र एवं कुछ अन्य राज्यों में सांप्रदायिक हिंसा की घटनाओं में नई सरकार के सत्ता में आने के 11 सप्ताह के दौरान बाढ़-सी आ गई है.”

 

“और यह ऐसी बात है जो हम सभी के लिए गंभीर चिंता का विषय है.”

 

उन्होंने कहा, “संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन की दोनों सरकारों के कार्यकाल के दौरान मुश्किल से ऐसी घटनाएं हुईं. लेकिन अत्यंत कम अवधि में उत्तर प्रदेश में साम्प्रदायिक हिंसा की 600 घटनाए घटी हैं और संभवत: महाराष्ट्र में भी इतनी ही घटनाएं हुई हैं. इससे हमें हैरत होती है और हम यह सोचने पर मजबूर होते हैं कि आखिर भाजपा के सत्ता में आते ही सांप्रदायिक हिंसा में बाढ़ क्यों आई..”

 

उन्होंने आगे कहा, “..और तब हमारा यह मानना है और कई घटनाओं में एक बात जो साफ है वह यह कि ये घटनाएं जानबूझकर समाज को धार्मिक आधार पर बांटने के लिए की जा रही हैं.”

 

सोनिया के इस हमले से पहले राहुल ने इसी मुद्दे पर केंद्र की घेरेबंदी की थी. लोकसभा में छह अगस्त को उन्होंने हंगामेदार विरोध किया था.

 

मोदी ने पार्टी की राष्ट्रीय परिषद की बैठक में राहुल की चुटकी लेते हुए कहा था कि आम चुनाव में जिनकी करारी शिकश्त हो चुकी है वे अभी भी पुरानी वोट बैंक की राजनीति से बाज नहीं आ रहे.

 

सोनिया गांधी ने गाजा पट्टी में जारी घटनाक्रमों पर भी मोदी सरकार के रवैए की आलोचना की.

 

सोनिया ने कहा, “लोकसभा में हमारी स्थिति चर्चा शुरू कराने की नहीं थी, लेकिन राज्यसभा में हम इस मुद्दे को चर्चा के लिए उठाने में सक्षम थे और हमने इसे उठाया. हमने हमेशा फिलिस्तीन के साथ एकजुटता दिखाई है.”

 

शिव सेना के प्रवक्ता संजय राउत ने कहा, “मोदी सरकार उत्तर प्रदेश में जो हो रहा है उसके लिए जिम्मेवार नहीं है. सोनिया गांधी को समझना चाहिए कि राज्य को कौन चला रहा है और वहां की स्थिति क्या है.”

 

मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के सीताराम येचुरी ने सोनिया गांधी के विचारों से सहमति जताई.

 

लोकसभा में आज सांप्रदायिक हिंसा पर नियम 193 के तहत चर्चा होगी. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के साथ साथ आरजेडी, टीएमसी और समाजवादी पार्टी के सांसदों ने भी इसकी मांग की थी.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: mamta_sonia_bjp
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017