मांझी ने सवर्णो को बताया 'विदेशी'

By: | Last Updated: Thursday, 13 November 2014 4:04 AM

पटना: अपने विवादित बयानों से सुर्खियों में रहने वाले बिहार के मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी एक बार फिर सवर्ण जाति को ‘विदेशी’ बताकर विवाद में फंसते नजर आ रहे हैं. भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने मुख्यमंत्री के इस बयान को बिहार में जातीय तनाव फैलाने वाला और समाज को जाति के नाम पर बांटने वाला बताकर मुख्यमंत्री पर निशाना साधा है. मांझी ने मंगलवार की शाम पश्चिम चंपारण के होटल वाल्मीकि विहार परिसर में आयोजित स्वागत समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि सवर्ण जाति के लोग विदेशी हैं. यहां के मूल निवासी आदिवासी, अनुसूचित जाति और गरीब लोग हैं.

 

बिहार के सीएम जीतन राम मांझी का विवादित बयान, कहा-गरीबों से खिलवाड़ करने वाले डॉक्टरों के हाथ काट देंगे 

 

उन्होंने लोगों से राजनीतिक चेतना जगाते हुए अपनी सरकार खुद बनाने का आह्वान भी किया. इधर, बीजेपी के वरिष्ठ नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने मुख्यमंत्री के इस बयान को लेकर हमला बोल दिया है. मोदी ने बुधवार को कहा कि मांझी ऐसे बयान देकर बिहार में जातीय तनाव फैलाना चाहते हैं तथा समाज को जाति के नाम पर बांटना चाहते हैं.

 

बिहार के सीएम मांझी के फिर बिगड़े बोल, दलितों से कहा- दिन में नहीं रात में पिया करें शराब 

 

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री मांझी ने पिछले दिनों मधुबनी के दौरे के बाद महादलित परिवार के लोगों के साथ भेदभाव का आरोप लगाया था. उन्होंने कहा था कि मधुबनी में एक मंदिर में उनके प्रवेश के बाद मंदिर को धोया गया. इसके बाद पूरे मामले की जांच के लिए एक समिति का गठन किया गया. मोदी ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री चर्चा में रहने के लिए ऐसे बयान देते रहते हैं.

 

बिहार के सीएम जीतन राम मांझी ने फिर दिया है एक विवादास्पद बयान 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: manjhi says only indigenous people, sc’s and poor are originally Indians
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Indian indigenous people manjhi poor SC
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017