सूखे का डर, जानें- कम बारिश हुई तो क्या होगा?

By: | Last Updated: Tuesday, 2 June 2015 4:46 PM

नई दिल्ली: देश के किसानों के लिए तो बुरी खबर है ही लेकिन अगर आप किसान नहीं हैं तो भी आप इसके असर से बच नहीं पाएंगे. खबर ये है कि इस साल मॉनसून ना सिर्फ देर से आ रहा है बल्कि बारिश भी कम होगी. 12 से 16 फीसदी तक कम बारिश हो सकती है यानी किचन से लेकर कारोबार तक हर चीज पर पड़ेगा सीधा असर.

 

आपकी थाली में परोसे जाने वाली दाल और मंहगी हो सकती है. सब्जी मंडी जाने में आपकी जेब को पसीने छूट सकते हैं. हो सकता है कि आप इस गर्मी में पंखे की हवा भी ना खा पाएं क्योंकि बिजली भी गुल सकती है. यही नहीं दफ्तर जाने के लिए ठंडे सूती कपड़ों के दाम भी आसमान छू सकते हैं क्योंकि कॉटन महंगा हो जाएगा. यानी जब भी आप बाजार जाएंगे तो आपको याद आएगी हमारी ये खबर.

बाजार को भी डर लग रहा है क्योंकि देश के विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री ने कहा है कि इस बार मॉनसून का दूसरा अनुमान पहले से भी ज्यादा चिंता में डालने वाला है. इससे चिंता क्यों होनी चाहिए ये समझने के लिए आपको पिछले चालीस सालों में मॉनसून की बारिश का आँकड़ा दिखाते हैं. इस दौर में देश में पांच बार सूखा पड़ा था.

  • साल 1972 में 24 फीसदी बारिश कम हुई

  • साल 1979 में 19 फीसदी बारिश कम हुई

  • साल 1987 में भी 19 फीसदी बारिश कम हुई

  • साल 2002 में भी 19 फीसदी बारिश कम हुई

  • और साल 2009 में 24 फीसदी बारिश कम हुई

 

यानी इन पांच बरस में से तीन बार 19 फीसदी बारिश कम हुई. साल दो हजार बारह में भी पहले दो महीनों में 19 फीसदी सूखे जैसे हालात बन गए थे जो बाद के दो महीनों की बारिश से पूरे तो हो गए लेकिन पैदावार नहीं सुधरी.

 

ऑटोमोबाइल पर असर

 

अब बात करें गाड़ियों की तो आप चौंक जाएंगे.भला बारिश का गाड़ियों से क्या लेना देना.शहर में बिकने वाली गाड़ियों पर भले ही कम असर हो लेकिन गांव में बिकने वाली गाड़ियों पर बेहद बुरा असर होगा.फसल नहीं तो पैसे नहीं- पैसे नहीं तो गाड़ी नहीं.

 

कोई भी काम हो गांवों में हर मर्ज की दवा है ट्रैक्टर. बुवाई से लेकर ढुलाई तक हर काम करने वाले इस ट्रैक्टर को खरीदने के लिए चाहिए पैसे लेकिन अगर बारिश कम हुई तो खेत सोना नहीं उगलेंगे फिर कैसे खरीदेंगे किसान ये सौ मर्जों की एक दवा.

 

कम बारिश का सबसे ज्यादा खतरा पश्चिमी और उत्तरी भारत मे है. ऐसे में ट्रैक्टर की मांग पर अभी से असर दिख रहा है. साल 2013-14 में ट्रैक्टर की कुल बिक्री का 15 फीसदी सिर्फ पश्चिम भारत में खऱीदे गए लेकिन साल 2014-15 में इसमें 3 से 5 फीसदी की कमी आ चुकी है.

 

यही नहीं साल 2013-14 में उत्तर भारत में कुल बिक्री के 28 फीसदी ट्रैक्टर खरीदे गए थे लेकिन इस बार इसमें 5 से 7 फीसदी की कमी आ चुकी है.

 

यानी ऑटोमोबाइल उद्योग पर असर अभी से दिखने लगा है. गांव में बसने वाले भारत की जेब में पैसा ना हो तो दुपहिया वाहन और कारों पर भी असर होगा क्योंकि एक तिहाई ऐसी गाड़ियां तो गांवों में ही बिकती हैं.

 

  • कंपनियों के आंकड़े देख लीजिए

  • मारुति की 28 फीसदी कारें

  • हुंडई की 30 फीसदी कारें

  • टाटा मोटर्स की 45 फीसदी कारें

  • और महिंद्रा और महिंद्रा की 30 फीसदी कारें गावों में ही बिकती हैं.

 

गांवो के किसानों की पसंद मोटरसाइकिलों की बात करें तो हीरो मोटो की 46 फीसदी मोटरसाइकिलें, बजाज ऑटो की 40 फीसदी मोटरसाइकिलें और होंडा की 35 फीसदी कारें गावों में ही बिकती हैं.

 

यानी अगर खेती करने वाले गावों में कम बारिश हुई तो फसल नहीं होगी और जाहिर है सीधा असर देश के ऑटोमोबाइल उद्योग पर होगा.

 

 

टेक्सटाइल पर असर

मॉनसून में कमी आई तो आपके कपड़ों पर भी असर पड़ेगा.उन नए कपड़ों पर जो आप इस साल खरीदने वाले हैं. क्योंकि कम बारिश इस साल खरीफ की उन फसलों पर असर डालेगी जिनमें कॉटन भी आता है.

 

आंकड़ों की बात करें तो हम आपको बता चुके हैं की साल 2012 में मॉनसून में हुई देरी से ही बड़ा असर पड़ा था. साल 2011 में अनुमान से सिर्फ 12 फीसदी कॉटन कम पैदा हुआ था लेकिन देर से आए मॉनसून ने साल 2012 में इसके उत्पादन में 21 फीसदी की कटौती कर दी थी.

 

ऐसा ही इस बार भी हो सकता है क्योंकि बारिश साथ नहीं देने वाली.जाहिर है कॉटन कम होगा तो उसकी मांग बढ़ जाएगी.दूसरी तरफ कॉटन का एक्सपोर्ट भी कम हो जाएगा.

 

साल 2011-12 के मुकाबले साल 2012-13 में यानी जब मॉनसून देर से आया था तब कॉटन के एक्सपोर्ट में 37 फीसदी की गिरावट आई थी.

 

जाहिर एक तरफ सरकार डीजल पर ज्यादा विदेशी मुद्रा खर्च करनी पड़ेगी वहीं कॉटन का एक्सपोर्ट कम होने से विदेशी मुद्रा की कमाई भी कम हो जाएगी.कपड़ा बाजार में जो महंगाई आएगी वो अलग से.

 

कम बारिश हुई तो क्या होगा? 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: MANSOON
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: drought India monsoon
First Published:

Related Stories

बाढ़ से रेलवे की चाल को लगा 'ग्रहण', सात दिनों में करीब 150 करोड़ का नुकसान
बाढ़ से रेलवे की चाल को लगा 'ग्रहण', सात दिनों में करीब 150 करोड़ का नुकसान

नई दिल्ली: असम, पश्चिम बंगाल, बिहार और उत्तर प्रदेश में आई बाढ़ की वजह से भारतीय रेल को पिछले सात...

चीन के साथ डोकलाम विवाद पर विदेश मंत्रालय ने कहा- समाधान के लिए करते रहेंगे बातचीत
चीन के साथ डोकलाम विवाद पर विदेश मंत्रालय ने कहा- समाधान के लिए करते रहेंगे...

नई दिल्ली: बॉर्डर पर चीन से तनातनी और नेपाल में आई बाढ़ को लेकर शुक्रवार को विदेश मंत्रालय ने...

15 अगस्त को राष्ट्रगान नहीं गाने वाले मदरसों के खिलाफ होगी कार्रवाई, यूपी सरकार ने मंगवाए वीडियो
15 अगस्त को राष्ट्रगान नहीं गाने वाले मदरसों के खिलाफ होगी कार्रवाई, यूपी...

लखनऊ: स्वतंत्रता दिवस के मौके पर योगी सरकार ने राज्य के सभी मदरसों में राष्ट्रगान गाए जाने का...

ब्रिक्स सम्मेलन: तनातनी के बीच सितंबर के पहले हफ्ते में चीन जाएंगे पीएम मोदी
ब्रिक्स सम्मेलन: तनातनी के बीच सितंबर के पहले हफ्ते में चीन जाएंगे पीएम मोदी

नई दिल्ली: डोकलाम विवाद को लेकर चीन युद्ध का माहौल बना रहा है. इस तनाव के माहौल में पीएम नरेंद्र...

गोरखपुर ट्रेजडी: इलाहाबाद HC ने योगी सरकार से पूछा सवाल, बच्चों की मौत कैसे हुई ?
गोरखपुर ट्रेजडी: इलाहाबाद HC ने योगी सरकार से पूछा सवाल, बच्चों की मौत कैसे...

इलाहाबाद: गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में बच्चों की मौत के मामले की न्यायिक जांच की मांग को...

योगी के बयान पर बोले अखिलेश- थानों में पहले भी मनती थी जन्माष्टमी, हमने रोक नहीं लगाई
योगी के बयान पर बोले अखिलेश- थानों में पहले भी मनती थी जन्माष्टमी, हमने रोक...

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव ने मुख्यमंत्री...

ABP न्यूज़ का खुलासा: सृजन NGO में बाहर से सामान मंगाकर सिर्फ पैकिंग होती थी
ABP न्यूज़ का खुलासा: सृजन NGO में बाहर से सामान मंगाकर सिर्फ पैकिंग होती थी

भागलपुर:  बिहार में जिस सृजन घोटाले को लेकर राजनीति गरम है उसको लेकर बड़ा खुलासा किया है. एबीपी...

CCTV में कैद दिल्ली का 'दुशासन': 5 स्टार के सिक्योरिटी मैनेजर ने की महिला से छेड़खानी
CCTV में कैद दिल्ली का 'दुशासन': 5 स्टार के सिक्योरिटी मैनेजर ने की महिला से...

नई दिलली: राजधानी दिल्ली के एक फाइव स्टार होटल में महिला से छेड़खानी का एक सनसनीखेज मामला सामने...

आज हर कीमत पर चुनाव जीतना चाहती हैं राजनीतिक पार्टियां: चुनाव आयुक्त
आज हर कीमत पर चुनाव जीतना चाहती हैं राजनीतिक पार्टियां: चुनाव आयुक्त

गुरुवार को एडीआर के एक कार्यक्रम में चुनाव आयुक्त ने कहा, जब चुनाव निष्पक्ष और साफ सुथरे तरीके...

भारत को मिला जापान का साथ, डोकलाम में सेना की तैनाती को सही ठहराया
भारत को मिला जापान का साथ, डोकलाम में सेना की तैनाती को सही ठहराया

नई दिल्ली: डोकलाम को लेकर चीन से तनातनी के बीच भारत को जापान का समर्थन मिला है. जापान ने डोकलाम...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017