Many dead and injured in truck Accident on Pune Satara highway near Khandala in Maharashtra

महाराष्ट्र: सतारा में हाईवे पर ट्रक पलटा, कई मजदूर समेत 18 की मौत

खंडाला पुलिस थाने के अस्सिटेंट इंस्पेक्टर युवराज हांदे ने कहा कि ट्रक पर कंस्ट्रक्शन वर्कर के परिवार वाले सवार थे. अंदेशा है कि ड्राइवर ने हाई स्पीड की वजह से ट्रक पर नियंत्रण खो दिया होगा. हादसे में कई बच्चों समेत 18 लोगों की मौत हो गई.

By: | Updated: 10 Apr 2018 09:35 AM
Many dead and injured in truck Accident on Pune Satara highway near Khandala in Maharashtra

पुणे: महाराष्ट्र के सतारा जिले के खंडाला में एक बड़े सड़क हादसे में कम से कम 18 लोगों की मौत हो गई और 14 अन्य जख्मी हो गए. मरने वालों में ज्यादातर मजदूर और बच्चे हैं. हादसा मुंबई-बेंगलुरू हाईवे पर हुआ, जब एक ट्रक कर्नाटक के बीजापुर से पुणे के शिरवल जा रहा था. इसी दौरान सतारा में खंबाटकी सुरंग के पास ट्रक बैरिकेड तोड़कर दुर्घाटनाग्रस्त हो गया.


परगांव खंडाला पुलिस थाने के अस्सिटेंट इंस्पेक्टर युवराज हांदे ने कहा कि ट्रक पर कंस्ट्रक्शन वर्कर और उनके परिवार वाले सवार थे. सभी प्रोजेक्ट साइट पर जा रहे थे.


उन्होंने कहा, ''अंदेशा है कि ड्राइवर ने हाई स्पीड की वजह से ट्रक पर नियंत्रण खो दिया होगा. हाईवे पर मोड़ और ढलान भी है. हादसे में कई बच्चों समेत 18 लोगों की मौत हो गई.''


उन्होंने कहा कि इस इलाके में कई बड़े हादसे पहले भी हो चुके हैं. जिसमें काफी जानमाल का नुकसान उठाना पड़ा.


2014 में फरवरी और मार्च के बीच इसी जगह पर हुए कई हादसे में कम-से-कम 20 लोगों की मौत हो गई थी और 50 अन्य जख्मी हो गए थे. जिसके बाद सतारा पुलिस ने नेशनल हाईवे ऑथरिटी ऑफ इंडिया और सड़क बनाने वाली कंपनी के अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज किया था. पुलिस का आरोप था कि सड़क के गलत डिजाइन की वजह से हादसे हुए और जानें गई.


कांगड़ा में खाई में गिरी स्कूल बस, 29 बच्चों समेत 32 की मौत, पीएम मोदी ने जताया दुख

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Many dead and injured in truck Accident on Pune Satara highway near Khandala in Maharashtra
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story CJI के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव खारिज, जानें विपक्ष का अगला कदम क्या हो सकता है?