मायावती के भाई के खातों से हुआ 2 हजार करोड़ से अधिक का लेद-देन, कसा शिकंजा?

By: | Last Updated: Saturday, 11 April 2015 4:08 PM
mayawati brother

नई दिल्ली: उत्तरप्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती के इर्द-गिर्द फिर शिकंजा कस सकता है. फाइनेंशियल इंटेलीजेंस यूनिट यानि एफआईयू ने मायावती के भाई आनंद कुमार और भाभी विचित्रलता के खिलाफ दो हजार करोड रुपये से ज्यादा के संदेहास्पद लेनदेन की जांच करने को कहा है . एफआईयू के दस्तावेज की कॉपी एबीपी न्यूज के पास मौजूद है . आयकर विभाग औऱ प्रवर्तन निदेशालय इस बारे में जांच करेगे .

 

आनंद कुमार नोएडा के सेक्टर 44 के बी 182 नंबर के शानदार बंगले में रहते हैं. आनंद कुमार और उनकी पत्नी विचित्र लता का एक दस्तावेज में जिक्र है.

 

ये दस्तावेज है फाइनेंशियल इंटेलीजेंस यूनिट यानी एफआईयू की एक ऐसी रिपोर्ट है. जो मायावती के भाई आनंद कुमार के लिए मुश्किल खड़ी कर सकती है. एफआईयू देश से बाहर और देश के अंदर बड़े आर्थिक लेन-देन पर नजर रखती है. और एफआईयू को ऐसे ही एक संदिग्ध लेन-देन का पता चला है जिसका सीधा संबंध मायावती के भाई आनंद कुमार और भाभी विचित्र लता से है.

 

10 बैंक खातों में संदिग्ध लेन-देन

एफआईयू को जांच के दौरान आनंद कुमार और विचित्र लता की कंपनी डीएलए इन्फ्रास्ट्रक्चर प्राइवेट लिमिटेड से जुड़े दस बैंक खातों की जानकारी मिली है. एफआई को जांच में पता लगा कि इन खातों में कुछ ऐसी डील हुई है, जो संदिग्ध है. और जिसकी गहराई से जांच की जरूरत है. एफआईयू रिपोर्ट की कॉपी एबीपी न्यूज के पास मौजूद है.

 

एफआईयू दस्तावेज के मुताबिक जनवरी 2011 से सितंबर 2014 के बीच इन बैंक खातों से कुल 2150 करोड रूपये जमा कराए गए एफआईयू को आरंभिक जांच के दौरान ये भी पता चला है कि इनमें से ज्यादातर लेनदेन चेकों के जरिए भी हुआ है एफआईयू को शक है कि इस लेनदेन में भारी गडबडियां हुई हैं .

 

जमा हुए 2150 करोड़

निकाले गए 2165 करोड़

 

एफआईयू के दस्तावेज से साफ होता है कि डीएलए इन्फ्रास्ट्रक्चर नामक की कंपनी में मायावती के भाई आनंद कुमार और भाभी विचित्र लता डायरेक्टर हैं. रिपोर्ट के मुताबिक तीन साल के लेनदेन के दौरान इन दस खातों में 2150 करोड रूपये जमा कराए गए जबकि 2165 करोड रूपये निकाले गए .

 

फाइनेंशियल इंटेलीजेंस यूनिट ने अपनी रिपोर्ट में उन 10 खातों की जानकारी भी मुहैया कराई है . एफआईयू ने अपनी रिपोर्ट  इनकम टैक्स डिपार्टमेंट औऱ प्रवर्तन निदेशालय को सौंप दी है. एफआईयू रिपोर्ट के आधार पर अब आईटी डिपार्टमेंट और ईडी इस मामले की शुरूआती जांच करने जा रहे हैं.

 

बैंक अकाउंट में कहां से आई रकम ?

सूत्रों का कहना है कि जांच के दौरान ये पता लगाया जायेगा कि इस खाते में पैसा कहां-कहां से और किस मकसद के लिए आया. साथ ही इस बात का भी पता लगाया जाएगा कि एकाउंट में आर्थिक लेन-देन का संबंध कहीं बीएसपी सुप्रीमो मायावती से तो नहीं हैं.

 

साल 2011 में उत्तरप्रदेश की  मुख्यमंत्री मायावती थी और तभी से इन बैंक खातो को संदेहास्पद माना गया है. सूत्रों का कहना है इस मामले की जांच की आंच पूर्व मुख्यमंत्री मायावती तक भी पहुंच सकती है. आनंद कुमार को फायदा पहुंचाने का आरोप पहले भी मायावती पर लग चुका है .

 

एबीपी न्यूज ने एफआईयू की रिपोर्ट के आधार पर आनंद कुमार और विचित्र लता से ईमेल के जरिए संपर्क करने की कोशिश की, लेकिन उनकी ओर से कोई जवाब नहीं आया.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: mayawati brother
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: mayawati mayawati brother
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017