दिल्ली में कूड़े के लिए बीजेपी जिम्मेदार: मनीष सिसोदिया

By: | Last Updated: Thursday, 28 January 2016 9:17 PM
MCD workers dump garbage outside Sisodia’s house

नई दिल्ली : राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में केजरीवाल सरकार और दिल्ली नगर निगम में रस्साकशी के बीच आज सफाई कर्मचारियों की हड़ताल का दूसरा दिन है. हड़ताल की वजह से न स्कूलों में पढ़ाई हो पा रही है और न ही सड़कों पर सफाई. हाल ये है कि कूड़े घरों में कूड़ा कचरा भरा हुआ है. लेकिन मामला तब गरमा गया जब नगर निगम के कई सफाई कर्मचारियों ने आज उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के सरकारी आवास के बाहर प्रदर्शन किया और कूड़ा फेंक डाला.

इस प्रदर्शन के बाद सिसोदिया मीडिया के सामने आए और कहा कि कूड़े पर राजनीति हो रही है. उनका कहना था कि इस कूड़े के लिए बीजेपी और केंद्र सरकार जिम्मेदार है.

सिसोदिया का कहना है कि दिल्ली सरकार पर एमसीडी का कोई बकाया नहीं है और दिल्ली सरकार 12 महीने का वेतन दे चुकी है. उन्होंने मांग कि आखिर जांच होनी चाहिए कि ये 12 महीने का पैसा कहां गया, आखिर निगम कर्मचारियों को वेतन क्यों नहीं दिया जा रहा है.

डिप्टी सीएम ने कहा कि अगर एमसीडी की मौजूदा बॉडी काम नहीं कर पा रही है तो केंद्र सरकार को चाहिए कि वहां दोबारा चुनाव कराएं जाएं.

mcd

नगर निगम के कई सफाई कर्मचारियों ने आज उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के यहां स्थित अधिकारिक आवास के बाहर प्रदर्शन किया. उन्होंने वेतन के लिए ‘तत्काल’ राशि जारी करने की मांग की. कर्मचारियों ने अपनी मांगों को पूरा नहीं करने पर ‘अनिश्चिकाल’ के लिए काम को बंद रखने की धमकी भी दी. इसके साथ ही उनके कार्य़ालय के अंदर कूड़ा भी फेंक दिया.

मजदूर विकास समयुक्ता मोर्चा के अध्यक्ष संजय गहलोत ने बताया, ‘कर्मचारियों को दो-तीन महीनों से उनका वेतन नहीं मिला है. बार-बार आग्रहों के बावजूद हमारी मांगें नहीं सुनी गयी.’ उन्होंने कहा, ‘ऐसे में, हम लोग यहां पर प्रदर्शन कर रहे हैं. अगर हमारी मांग नहीं मानी जाती है तो हम अनिश्चितकाल के लिए अपना काम बंद रखेंगे.’

del mcd 3

गहलोत ने दावा किया कि तीनों नगर निकायों के कर्मचारी इस हड़ताल में शामिल हैं. वेतन के अलावा, कर्मचारी बकायों का भुगतान, अनुबंधित कर्मचारियों को नियमित करने और तीन निगमों के एकीकरण की मांग कर रहे हैं. पूर्वी दिल्ली नगर निगम से जुड़े कर्मचारी पिछले साल अक्तूबर में इसी तरह की मांग को लेकर हड़ताल पर चले गये थे.

लेकिन, उच्च न्यायालय के आदेश के बाद यह हड़ताल वापस ले ली गयी थी. इस हड़ताल का सबसे ज्यादा खामियाजा दिल्ली वालों को भुगतना होता है. कर्मचारी कूड़ा उठाते तो हैं ही नहीं, बल्कि बाहर से कूड़ा लाकर घरों के सामने और सड़कों पर जमा कर देते हैं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: MCD workers dump garbage outside Sisodia’s house
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017