मेहदी IS के लिए कैम्पेन चलाता था, पर नहीं करता था भर्ती: राजनाथ

By: | Last Updated: Monday, 15 December 2014 10:09 AM

नई दिल्ली: इराक और सीरिया में सक्रिय आतंकी संगठन आईएसआईएस का ट्विटर हैंडल चलाने के आरोप में गिरफ्तार मेहदी मसरूर पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने संसद में कहा कि वो ISIS के लिए कैम्पेन चलाता था लेकिन भर्ती नहीं करता था.

 

राजनाथ सिंह ने कहा, “मेहदी मसरुर बिस्वास से पूछताछ में इस बात के इशारे मिले हैं कि उसकी सक्रियता महज़ कैम्पेन तक सिमित थी और ट्विटर हैंडल और दूसरे सोशल साइट्स पर आईएसआईएस से जुड़ी चीज़ें डालता था.”

 

गृह मंत्री ने आज संसद में कहा, “केंद्रीय एजेंसियों ने कर्नाटक पुलिस की मदद से मेहदी मसरुर बिस्वास को लेकर जानकारियां इकट्ठा की हैं. वो अक्सर आईएस से जुड़े साइट्स पढ़ता था, जो ज्यादातर अरबी में थे और फिर उसे अंग्रेजी में अनुवाद करके उसे ट्विटर पर डालता था.”

 

राजनाथ ने आगे कहा, “पूछताछ के दौरान मेहदी ने बताया कि उसके 60 फीसद से ज्यादा फॉलोअर्स नॉन मुस्लिम थे और वे पश्चिमी देशों से थे. मुस्लिम फॉलोअर्स में ज्यादातर पश्चिमी देशों खासकर ब्रिटेन से हैं. उसने अपने कॉलेज के दौर में सीरिया, इराक और अफ़ग़ानिस्तान की घटनाओं पर नज़र रखनी शुरू कर दी थी और 2009 से ही सोशल मीडिया पर सक्रिय है. कुछ समय बाद उसने जेहाद को लेकर सोशल साइट पर लोगों से बात करनी शुरू कर दी.”

 

आपको बता दें कि चैनव-4 के मुताबिक @ShamiWitness ट्विटर हैंडल के करीब 18 हज़ार फॉलोअर्स थे. जिसे मेहदी मसरुर बिस्वास चलाता था.

 

मेहदी का संबंध कोलकाता के एक मध्य वर्गीय परिवार से है. उसने गुरु नानक देव इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नॉलोजी से इलेक्ट्रीकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई की है. आईटीसी ने कैंपस सलेक्सशन के दौरान उसे सलेक्ट किया था.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Mehdi has denied recruiting anyone for IS: Rajnath Singh
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017