नीतीश कुमार से नाराज IAS ने दी वीआरएस की अर्जी

By: | Last Updated: Saturday, 27 February 2016 9:07 AM
Miffed senior Bihar IAS officer offers to quit

पटना: बिहार में पंचायती राज विभाग के प्रधान सचिव आईएएस अधिकारी सुधीर कुमार राकेश ने वीआरएस के लिए सरकार को अर्जी दी है. राकेश बिहार विकास मिशन में उपेक्षा से दुखी है. सूत्रों के मुताबिक सुधीर कुमार नीतीश के सलाहकार प्रशांत किशोर के तहत काम करने को तैयार नहीं हैं. नीतीश ने सात वादे पूरे करने के लिए मिशन बनाया है. Abp न्यूज से बातचीत में सुधीर कुमार ने दावा किया है कि वो व्यक्तिगत और स्वास्थ्य कारणों से वीआरएस ले रहे हैं.

राकेश 1983 बैच के अधिकारी हैं. वह कल देर शाम मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह से मिले और इस्तीफा देने की पेशकश की. इस बारे में पूछे जाने पर राकेश ने कहा, ‘मैंने निजी स्वास्थ्य कारणों से इस्तीफा देने की पेशकश की है.’ आईएएस अधिकारी विधानसभा के बाहर मुख्य सचिव के साथ देखे गए और दोनों ने विषय पर ज्यादा बात नहीं की और चले गए.

इस बारे में पूछे जाने पर मुख्य सचिव ने सिर्फ इतना कहा कि राज्य सरकार मामले को देखेगी. राकेश पंचायती राज विभाग के प्रधान सचिव हैं. वह इससे पहले मुख्य निर्वाचन अधिकारी के तौर पर सेवा दे चुके हैं और हाल में उन्हें गृह सचिव बनाया गया था. राकेश को अगस्त 2017 में सेवानिवृत्त होना है.

बिहार विकास मिशन में निदेशक के तौर पर एक कनिष्ठ अधिकारी की नियुक्ति ने बिहार के कई वरिष्ठ आईएएस अधिकारियों को गुस्सा ला दिया है. यह नोडल एजेंसी है जो अगले पांच साल में मुख्यमंत्री के ‘सात संकल्पों’ को तामील करेगा. कई विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों को मिशन के तहत काम करना पड़ेगा, जिसे चुनाव रणनीतिज्ञ प्रशांत किशोर देखेंेगे.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Miffed senior Bihar IAS officer offers to quit
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017