मोदी सरकार सबसे बड़ी बुद्धिजीवी विरोधी सरकार: रामचंद्र गुहा

By: | Last Updated: Friday, 22 January 2016 10:37 PM
Modi govt most anti-intellectual dispensation: Ramchandra Guha

मुंबई: प्रसिद्ध विद्वानों और लेखकों की हाल में हुई हत्या और प्रशासन द्वारा इस गुंडागर्दी को रोकने में ‘अक्षमता’ की आलोचना करते हुए मशहूर इतिहासविद् रामचंद्र गुहा ने कहा कि मोदी सरकार देश की अब तक की ‘‘सबसे बड़ी बुद्धिजीवी विरोधी’’ सरकार है.

अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता को बढ़ते खतरे पर चिंता जाहिर करते हुए गुहा ने लेखक समुदाय के प्रति ‘‘वैमनस्य ’’ के लिए भाजपा नीत सरकार की कड़ी आलोचना की. गुहा ने कल शाम मुंबई विश्वविद्यालय में विजय तेंदुलकर स्मारक व्याख्यान में कहा, ‘‘यह सरकार अब तक की सबसे बड़ी बुद्धिजीवी विरोधी सरकार है.’’

बहरहाल गुहा ने कहा कि इस तरह का व्यवहार मोदी सरकार के लिए अजूबा नहीं है. उन्होंने आरोप लगाए, ‘‘सभी तीनों (बुद्धिजीवी नरेन्द्र दाभोलकर, भाकपा नेता गोविंद पानसरे और लेखक एवं विद्वान एम एम कलबुर्गी) की हत्या दक्षिणपंथी हिंदुत्ववादी समूहों ने उनके विचार व्यक्त करने को लेकर की थी.’’

उन्होंने कहा, ‘‘कांग्रेस और भाजपा दोनों इन हत्याओं को रोक सकते थे क्योंकि तीनों हत्याएं तब हुईं जब राज्य या केंद्र में कांग्रेस या भाजपा सत्ता में थी.’’ किसी भी चीज को प्रतिबंधित करने की बढ़ती संस्कृति के बारे में इतिहासविद ने चेतावनी दी कि देश में ‘‘अराजकता फैली हुई है’’ . गुहा ने आरोप लगाए कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने सलमान रश्दी की पुस्तक सैटेनिक वर्सेज पर 1980 के दशक में प्रतिबंधित कर दिया था जहां से देश में ‘प्रतिबंध की संस्कृति’ शुरू हुई.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Modi govt most anti-intellectual dispensation: Ramchandra Guha
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ramchandra guha
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017