मेरे नसीब से पेट्रोल-डीजल सस्ता हुआ तो बदनसीब क्यों चाहिए: मोदी

By: | Last Updated: Sunday, 1 February 2015 11:20 AM
modi naseebwala

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली के द्वारका में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि अगर उनके नसीब से पेट्रोल और डीजल के दाम कम हुए तो फिर जनता को बदनसीब क्यों चाहिए?

 

मोदी ने जनता की भीड़ से कहा, “क्या डीजल और पेट्रोल के दाम कम हुए हैं कि नहीं?, क्या आपकी जेब में पैसा बचने लगा की नहीं? अब हमारे विरोधी लोग कहते हैं कि क्योंकि मोदी नसीबबाला है, इसलिए ऐसा हो रहा है तो भाई अगर मोदी का नसीब देश की जनता के काम आता है तो इससे बढिया नसीब की बात क्या हो सकती है? आपको नसीब वाला चाहिए या बदनसीब?”

 

मोदी के इस बयान पर ‘आप’ नेता आशुतोष ने आपत्ति जताई है. उनका कहना था कि मोदी ने पीएम की गरिमा से नीचे आकर इस तरह की बात की है. आशुतोष का कहना था कि मोदी पूरेश देश के पीएम हैं और वे दूसरों को बदसनीब कैसे कह सकते हैं?

 

आपको बता दें कि जब मोदी ने 26 मई को पीएम पद की शपथ ली थी तो दिल्ली में पेट्रोल 71.41 रुपये प्रति लीटर और डीजल 56.71 रुपये प्रति लीटर था. तब अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में कच्चे तेल की कीमत 108.05 रुपये प्रति बैरल थी. आज दिल्ली में पेट्रोल 58.91 रुपये प्रति लीटर और डीजल 48.26 रुपये प्रति लीटर है, जबकि कच्चे तेल की कीमत 46.28 डॉलर प्रति बैरल है.

 

मतलब पीएम मोदी के शासनकाल में पेट्रोल की कीमत में 12.50 पैसे कमी हुई है जबकि डीजल की कीमत में 8.45 पैसे कमी हुई है, जबकि कच्चे तेल की कीमत में 61.77 डॉलर प्रति बैरल की कमी आई हैं.

 

क्या कहा मोदी ने?

 

मोदी ने लोगों से अपील करते हुए कहा, “मुझे आप एक मौका दे. हम दिल्ली को नई ऊंचाई तक ले जाएंगे.”

 

मोदी ने कहा, ” हर आदमी का सपना होता है कि उनके बच्चे अच्छी शिक्षा लें, क्या गरीबों को इज़्जत के साथ रहने का हक नहीं है?”

 

अनियमित कोलनियों के बारे में मोदी ने कहा, “हम हमेशा अनियमित कोलनियों के बारे में सुनते रहते हैं, लेकिन हमने कोलनियों को नियमत किया.”

 

गरीबी के बने रहने के मुद्दे पर मोदी ने कहा, “गरीबी क्यों नहीं मिटती? गरीब को गरीब रखने में ही इनकी राजनीति की सलामती थी. इन लोगों ने आपके जीवन की सलमामती की चिंता नहीं की.”

 

मोदी ने कहा, “हम ने विकास के एजेंडे पर चुनाव लड़ा और मैं देश को उसी एंजेंडे से आगे बढ़ा रहा हूं. विकास ही सभी समस्याओं का हल है.”

 

केजरीवाल पर हमला करते हुए मोदी ने कहा, “टीवी में जगह बनाने के लिए सरकार नहीं चलानी होती है, सरकार चलाना होती है दिलों में जगह पाने के लिए. सरकार चलाना एक गंभीर काम है. भागने से काम नहीं चलता.”

 

इससे पहले सोनिया और अरविंद केजरीवाल ने मोदी सरकार पर हमले किए. जहां सोनिया ने कहा कि मोदी ने अपने कालेधन का वादा क्यों निभाया तो केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में रेप की घटनाएं 30 फीसदी तक बढ़ गई हैं. 

 

संबंधित खबरें:

बीजेपी ने फिर किया केजरीवाल पर विझापन से वार 

केजरीवाल पर बीजेपी सांसद ने की आपत्तिजनक टिप्पणी

एबीपी न्यूज विशेष : अन्ना के कुनबे में महाभारत! 

चुनाव आयोग ने आप को माना आचार संहिता के उल्लंघन का दोषी 

मुझे दिल्ली वालों ने बुलाया है: पीएम मोदी 

दिल्ली में रैलियों का रविवार, पीएम, केजरीवाल समेत सोनिया गांधी की रैली 

मुकुल की तरह सीबीआई को ममता बनर्जी से पूछताछ करनी चाहिए: बीजेपी 

पीएम मोदी को केजरीवाल ने दिया कड़ा जवाब 

कुमार विश्वास के खिलाफ शिकायत दर्ज, किरन बेदी पर अभद्र टिप्पणी का आरोप

दिल्ली चुनाव: 5,000 से अधिक शराब की बोतलें जब्त 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: modi naseebwala
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: election
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017