मोदी सरकार ने तैयार कर लिया है दाऊद इब्राहिम की बर्बादी का पूरा प्लान

By: | Last Updated: Wednesday, 15 July 2015 6:30 AM

नई दिल्ली: मोदी सरकार ने भारत के मोस्ट वांटेड अपराधी दाऊद इब्राहिम की बर्बादी का पूरा प्लान तैयार कर लिया है. आठ अलग-अलग देशों से दाऊद को घेरने की तैयारी है, दाऊद तक पहुंचने के लिए उसके कारोबार को खत्म करने की योजना है.

 

दाऊद इब्राहिम के ऊपर कानूनी तौर पर तो 1993 में हुए मुंबई बम धमाकों का इल्जाम है लेकिन हत्या, वसूली, तस्करी, मैच फिक्सिंग और हथियारों की सप्लाई जैसे हर काले धंधे में उसके हाथ रंगे हुए हैं. अपने इन्हीं काले धंधों की बदौलत दाऊद ने काली कमाई से पूरा साम्राज्य खड़ा कर लिया है. मोदी सरकार इसी काली कमाई के जरिए दाऊद पर शिकंसा कसती जा रही है शुरुआत मोरक्को से होने वाली है.

 

अफ्रीका के उत्तर पश्चिम में बसा एक छोटा सा लेकिन बेहद खूबसूरत देश है मोरक्को. लेकिन मोरक्को फिलहाल अपनी खूबसूरती के लिए नहीं बल्कि दाऊद से जुड़ी जानकारियों की वजह से खुफिया एजेंसियों की जुबान पर है. प्रवर्तन निदेशालय की एक टीम बहुत जल्द मोरक्को रवाना होने वाली है. दरअसल मोरक्को में अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद के कारोबार से जुड़े बेहद अहम इन्वेस्टमेंट के बारे में खुफिया जानकारी मिली है.

 

जानकारी के मुताबिक पिछले दो साल में इस खूबसूरत देश मोरक्को के बड़े होटल में दाऊद इब्राहिम ने पैसा लगाया है. भारत का ये मोस्ट वांटेड अपराधी अब सिर्फ दो हजार करोड़ का आसामी नहीं है.

 

भारत सरकार की तमाम सुरक्षा एजेंसियों को जो नए सबूत मिले हैं उसके मुताबिक दाऊद का कारोबार अब एक लाख करोड़ के आसपास पहुंच चुका है. सालों पहले भारत से भागा दाऊद इब्राहिम दुनिया के चार महाद्वीपों के आठ अलग-अलग देशों में अपने कारोबार का जाल फैला चुका है लेकिन इसका केंद्र दुबई और लंदन है.

 

कैसे बनाया साम्राज्य ?

दाऊद ने फिरौती, तस्करी, नशीले पदार्थो की तस्करी, नकली करेंसी के धंधे और हवाला के साथ-साथ ज़मीन और प्रॉपर्टी से जो पैसा बनाया वो भारत के बाहर आठ देशो में होटल और रियल स्टेट के कारोबार में लगाया और दाऊद की काली कमाई के इस कारोबार को फैलाने में उसकी मदद की इक़बाल मिर्ची ने.

 

खुफिया एजेंसियों को जो जानकारी हाथ लगी है उसके मुताबिक अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद ने 8 अलग-अलग देशो में पिछले बीस सालो में अरबो की संपत्ति खरीदी है

 

एक के बाद एक होटल फ्लैट खरीदते जाओ और अपना नाम भी मत बताओ यही तरीका है दाऊद का. वो प्रॉपर्टी का मालिक तो बन जाता है लेकिन उसका नाम सामे नहीं आता. दाऊद ने मोरक्को में होटल  इकबाल मिर्ची के करीबियों की मदद से खरीदा.

 

दुबई और लंदन का कारोबार दाऊद का सबसे करीबी माना जाने वाला इकबाल मिर्ची देखता था लेकिन इकबाल मिर्ची की मौत के बाद ये कारोबार उसके करीबी देखने लगे. 63 साल के इकबाल मिर्ची की साल 2013 में लंदन में मौत हो गई थी.

 

अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम ने अपना ये कारोबार दूसरी फ्रंट कंपनियों के ज़रिये बढाया है खुफिया सूत्रों के मुताबिक एशिया से लेकर यूरोप और फिर अफ्रीका होते हुए ऑस्ट्रेलिया तक दाऊद ने ज़मीन और होटलो में अपना पैसा इन्वेस्ट किया जिसकी बाज़ार में कीमत एक लाख करोड़ तक हो सकती है

 

अभी कुछ दिनों पहले ही दाऊद के करीबी छोटा शकील ने ऑस्ट्रेलिया में दाऊद के दुश्मन छोटा राजन को मारने की कोशिश की बात सामने आई थी.

 

सनसनी | दाऊद इब्राहिम की बर्बादी का प्लॉन 

ये घटना कहीं ना कहीं इस बात पर भी मुहर लगाती है कि ऑस्ट्रेलिया में दाऊद में अपना नेटवर्क पहला रखा है और ये वो कागज हैं जहां तमाम देशों में फैले दाऊद के साम्राज्य का पूरा पता-ठिकाना दर्ज है. फ्लैट नंबर से लेकर होटल के नाम तक सबकुछ. अब इन्हीं पतों पर प्रवर्तन निदेशालय अलग-अलग टीम भेजने वाला है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Modi Sarkar is well prepared to destroy Dawood Ibrahim
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017