जापान के पीएम शिंजो आबे और मोदी की दोस्ती की कहानी

By: | Last Updated: Thursday, 28 August 2014 3:57 PM
modi will go japan

नई दिल्ली : बतौर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहली बार जापान दौरे पर गये हैं लेकिन जापान से मोदी का दोस्ताना काफी साल पुराना है. जापान का ये दौरा इस दोस्ती कुछ नए अध्याय जोड़ेगा लेकिन हम आपको बता रहे हैं मोदी के उस सपने की तस्वीर जो वह जापान से लेकर आए थे. 

 

क्या आपने कभी मोदी को सपने देखते हुए देखा है. क्या कभी आंखों में आने वाले कल की तस्वीर को भरते हुए देखा है. नहीं देखा तो अब देखिए. खुली आंखों से नरेंद्र मोदी के सपने देखने की तस्वीर. ये सपना है बुलेट ट्रेन का. जो वह भारत में पूरा होता हुआ देखना चाहते हैं.

 

शायद देश में बुलेट ट्रेन दौड़ाने का सपना मोदी जापान से लेकर ही आए थे. साल 2012 में जब मोदी जुलाई के आखिरी हफ्ते में दो दिन के दौरे पर जापान गए थे. जापान के अधिकारियों के साथ मोदी रेलवे स्टेशन पहुंचे. पहले एस्केलेटर और फिर सीढ़ियों से होते हुए वह प्लेटफॉर्म तक पहुंचे.

 

प्लेटफॉर्म पर जापानी भाषा में लगे हुए बोर्ड को निहार रहे थे और स्टेशन पर बुलेट ट्रेन के आने का इंतजार कर रहे थे. कुछ देर बाद जब बुलेट ट्रेन आई तो मोदी बड़े गौर से ट्रेन को देखते रहे शायद मोदी उस सपने को आंखों में भर लेना चाहते थे. बुलेट ट्रेन रुकी और मोदी सपने की बुलेट ट्रेन में सवार हो गए.

 

दो दिन के दौरे में मोदी कई बार बुलेट ट्रेन में दिखाई दिए. साल 2012 में नरेंद्र मोदी दूसरी बार जापान दौरे पर गए थे. तब मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री हुआ करते थे. इससे पहले साल 2007 में मोदी पहली बार जापान दौरे पर गए थे. दूसरी बार जापान जाने का मौका 5 साल बाद आया था लेकिन जापान से मोदी के रिश्तों की गर्माहट कभी कम नहीं हुई.

 

इस बार नरेंद्र मोदी बतौर प्रधानमंत्री जापान के दौरे पर जा रहे हैं मोदी 30 अगस्त को जापान दौरे पर रवाना होने वाले हैं. मोदी के जापान दौरे की तमाम तैयारियां की जा रही हैं. ये दौरा भारत और जापान के रिश्तों को नई ऊंचाई तक ले जाएगा.

 

मोदी का सिर्फ जापान से ही नहीं बल्कि जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे से भी खास रिश्ता है. दोनों की दोस्ती कई साल पुरानी है . साल 2007 में बतौर गुजरात के सीएम जब मोदी पहली जापान गए थे तब शिंजो आबे ही जापान के प्रधानमंत्री थे. शिंजो आबे जापान के सबसे युवा प्रधानमंत्री माने जाते थे. और यहीं से कायम हुआ था नरेंद्र मोदी और शिंजो आबे के बीच दोस्ती का रिश्ता.

 

मोदी दोबारा साल 2012 में जापान दौरे पर गए तब शिंजो आबे सत्ता से बाहर थे लेकिन दोनों की मुलाकात जरूर हुई. साल 2012 में आबे ने जब सत्ता में दोबारा वापसी की तो आबे को सबसे पहले बधाई देने वालों में मोदी का नाम भी शामिल था.

 

26 जनवरी 2014 जापान के पीएम शिंजो आबे गणतंत्र दिवस के मौके पर विशेष अतिथि बनकर भारत आए थे लेकिन प्रोटोकॉल की वजह से आबे गुजरात नहीं जा सकते थे इसलिए मोदी आबे से मिलने के लिए दिल्ली आए थे और उनके साथ वक्त बिताया था.

 

जापान के पीएम शिंजो आबे से मोदी की दोस्ती की एक मिसाल उनके ट्विटर अकाउंट पर भी दिखाई दी. मोदी ने ट्वीट किया- ‘जापानी मित्र चाहते थे कि मैं वहां के लोगों से सीधे जापानी में ही संवाद करूं. मैं जापानी में अनुवाद के लिए भी उनका धन्यवाद व्यक्त करता हूं.’

 

इधर से नरेंद्र मोदी ने जापानी में ट्वीट किया तो उधर से जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने भी अंग्रेजी में ट्वीट किया. मेरे दिल में भारत की खास जगह है.. मैं बड़ी उत्सुकता से आपके क्योटो पहुंचने का इंतजार कर रहा हूं. बतौर प्रधानमंत्री जापान की पहली यात्रा हमारे कूटनीतिक रिश्तों में नए अध्याय जोड़ेगी. दुनिया में शांति और समृद्धि के लिए साथ-साथ हम बहुत कुछ कर सकते हैं.

 

जापान के पीएम शिंजो आबे का ये ट्वीट इसलिए खास है क्योंकि आबे अपने निजी अकाउंट से अंग्रेजी भाषा में ट्वीट नहीं करते. बीते काफी वक्त में आबे ने सिर्फ दो बार अंग्रेजी में ट्वीट किया था और दोनों ट्वीट मोदी के लिए थे. शिंजो आबे सिर्फ 3 लोगों को फॉलो करते हैं उनमें से एक नरेंद्र मोदी हैं. शिंजो आबे की लिस्ट में मोदी का नाम तब से है जब वह गुजरात के सीएम थे.

 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: modi will go japan
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Japan PM Narendra Modi
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017