कनाडा में पीएम मोदी का भारतीयों के बीच भव्य कार्यक्रम, कहा-10 महीने में बदला देश का जन-मन, विश्वास का बना माहौल

By: | Last Updated: Thursday, 16 April 2015 6:20 AM
modi_in_canada_speech

टोरंटो/नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज इस बात पर जोर दिया कि भारत में उनके सत्ता संभालने के बाद करीब 10 माह में विश्वास का एक नया माहौल बना है. उन्होंने विकास को हर समस्या का समाधान बताते हुए दूसरों द्वारा छोड़ी गई गंदगी को साफ करने का संकल्प जताया.

 

मोदी ने यहां रिको कोलीजियम में 10,000 से अधिक भारतीय मूल के लोगों को हिंदी में दिए गए अपने संबोधन में कहा ‘‘हमारे देश में विश्वास का नया माहौल है… हम कहते हैं ‘जन गण मन अधिनायक’ मतलब ‘जन मन’ बदला है.’’ प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत के सामने मौजूद सभी समस्याओं का समाधान विकास है. उन्होंने कहा कि देश के पास वह सभी क्षमताएं हैं जिनकी उसे जरूरत है, अब सिर्फ अवसरों की आवश्यकता है.

 

पूर्ववर्ती सरकारों पर हमला बोलते हुए मोदी ने कहा ‘‘जिनको गंदगी करनी थी, गंदगी कर के चले गए, हम सफाई करके जाएंगे.’’ उन्होंने कहा ‘‘वैश्विक विकास को उर्जा देने के लिए भारत कार्यबल मुहैया कराएगा. हमारा मिशन ‘स्किल इंडिया’ है न कि ‘स्कैम इंडिया’.’’

 

प्रधानमंत्री के संबोधन के दौरान वहां मौजूद लोग उत्साहित हो कर बार बार ‘‘मोदी, मोदी’’ के नारे लगा रहे थे. ऐसे में उन्होंने कहा कि जो कुछ भी हो रहा है वह उनके कारण नहीं बल्कि भारत के लोगों के कारण हो रहा है. उन्होंने बॉलीवुड का एक गीत याद करते हुए कहा कि 10 माह पहले भारत में सरकार बदली थी और अब लोगों की प्रकृति बदल गई है.

 

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत की सबसे बड़ी निधि उसके युवा हैं और उनका लक्ष्य उन्हें ‘‘रोजगार सृजित करने वालों’’ के रूप में देखना है.

 

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘‘ 80 करोड़ की युवा आबादी, 80 करोड़ सपने, 160 करोड़ मजबूत हाथ… ऐसा क्या है जो हम हासिल नहीं कर सकते? ’’ उन्होंने कहा कि वह युवाओं को रोजगार की तलाश करने वाले नहीं बल्कि रोजगार सृजित करने वाले लोगों के रूप में देखना चाहते हैं.

 

कनाडा और उसके प्रधानमंत्री स्टीफन हार्पर ने जो उत्साह और प्यार दिखाया, उसके लिए मोदी ने उनका धन्यवाद दिया और कहा कि दोनों देशों के बीच संबंध ‘‘ बहुत लंबे एवं उपयोगी’’ होंगे.

 

मोदी ने कहा, ‘‘ जब मैं गुजरात का मुख्यमंत्री था, तभी से कनाडा के साथ काम करने का मेरा अनुभव हमेशा अच्छा रहा है. कनाडा ने 2003 में गुजरात के साथ काम किया था. ’’ पिछले 42 साल में कनाडा की द्विपक्षीय यात्रा करने वाले मोदी पहले भारतीय प्रधानमंत्री हैं.

 

मोदी ने हार्पर के साथ द्विपक्षीय वार्ताओं और इसके बाद समझौतों पर हुए हस्ताक्षर का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘ हमने आज जो निर्णय लिए हैं, वे मैत्रीपूर्ण माहौल में लिए गए हैं. हमारा साथ लंबा और लाभदायी रहने वाला है.’’ इससे पहले हार्पर ने इसी समारोह में कहा, ‘‘ हम भारत और कनाडा की विशेष मित्रता का जश्न मनाने आज यहां आए हैं. यह ऐसी दोस्ती है जो वास्तव में हमारे लिए अहमियत रखती है.’’ कनाडा भारतीय परमाणु संयंत्रों के लिए 25 करोड़ 40 लाख डॉलर के पांच वर्षीय समझौते के तहत अधिक उर्जा की मांग वाले भारत को तीन हजार मीट्रिक टन यूरेनियम की आपूर्ति करने पर सहमत हुआ है . भारत के परमाणु कार्यक्रम को लेकर करीब चार दशक पहले इस क्षेत्र में द्विपक्षीय संबंध खत्म हो गए थे .

 

भारत और कनाडा के बीच लंबी बातचीत के बाद 2013 में हुए असैन्य परमाणु समझौते के पश्चात यूरेनियम आपूर्ति का यह समझौता हुआ है जिस पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उनके कनाडाई समकक्ष के बीच व्यापक वार्ता के बाद दस्तखत हुए .

 

रूस और कजाखस्तान के बाद कनाडा तीसरा देश है जो भारत को यूरेनियम की आपूर्ति करेगा. आपूर्ति अंतरराष्ट्रीय परमाणु उर्जा एजेंसी :आईएईए: के सुरक्षा मानकों के तहत होगी .

 

मोदी ने स्वच्छ भारतीय अभियान का जिक्र करते हुए कहा कि केवल सरकार ही नहीं बल्कि लोग भी अपने आस पास को साफ करने की पहल के साथ आगे आ रहे हैं. उन्होंने इस संबंध में मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के प्रयासों का जिक्र किया. उन्होंने कहा, ‘‘ यह जन मन में बदलाव का संकेत है. काफी गंदगी साफ की जानी है . यह काफी लंबे समय से पड़ी हुई थी.’’ उन्होंने स्कूलों में खासकर लड़कियों के लिए शौचालय बनाए जाने के सरकार के कदमों का जिक्र किया.

 

मोदी ने कहा, ‘‘ लोग सोचेंगे कि क्या प्रधानमंत्री को ऐसी चीजों पर बात करनी चाहिए?.. अन्य लोग अलग हो सकते हैं लेकिन मैं ऐसी छोटी चीजांे के बारे में बात करूंगा.. इन छोटे कदमों के जरिए भारत का रूप बदल जाएगा.’’ प्रधानमंत्री मोदी ने एलपीजी सब्सिडी देने संबंधी मुहिम के बारे में बात की और कहा कि गरीबों को गैस कनेक्शन मुहैया कराए जाएंगे, जिससे प्रदूषण नियंत्रण और पर्यावरण संरक्षण में मदद मिलेगी.

 

उन्होंने कहा, ‘‘ सभी समस्याओं का एक समाधान है और यह समाधान मोदी नहीं बल्कि विकास है. विकास हमें आगे लेकर जाएगा. हमारे पास ताकत है. हमें केवल अवसर की आवश्यकता है.’’ मोदी ने कहा कि उनकी सरकार ढांचागत विकास जैसे कि सड़कों के निर्माण आदि पर ध्यान केंद्रित कर रही है.

उन्होंेने कहा कि भारतीय लोगों के मन में ‘‘ श्रम के लिए सम्मान’’ पैदा करना होगा.

 

उन्होंने ‘मंगलयान’ का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘ हम पहली कोशिश में मंगल पर पहुंचने वाले पहले देश हैं. हमारे मंगल अभियान में लगी लागत एक हॉलीवुड फिल्म के निर्माण में लगने वाली लागत से भी कम है. ’’ मोदी ने कहा कि भारतीय लोगों में प्रतिभा है लेकिन उन्हें नवोन्मेष पर ध्यान देने की आवश्यकता है. सरकार ने इस संबंध में एक बड़ी पहल शुरू की है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: modi_in_canada_speech
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Canada Narendra Modi PM speech
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017