आज पीएम नरेंद्र मोदी करेंगे 'प्रधानमंत्री जन धन योजना' की शुरूआत

By: | Last Updated: Thursday, 28 August 2014 1:15 AM

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज ‘प्रधानमंत्री जन धन योजना’ लॉन्च करेंगे. प्रधानमंत्री जन धन योजना को सफल बनाने के लिए सरकार ने इसके तहत दिया जाने वाला बीमा कवर बढ़ाकर दो लाख रुपए करने का फैसला किया है. बशर्ते बैंक खाता योजना शुरू होने के पहले 100 दिन में खुलवाया जाता है.

 

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभी को बैंकिंग से जोड़ने की यह योजना आज से शुरू हो रही है. इसका उद्देश्य बैंकिंग और वित्तीय सेवाओं को शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में घर-घर तक पहुंचाना है. दिल्ली में नरेंद्र मोदी योजना लॉन्च करेंगे, लेकिऩ इसके अलावा देश भर में 76 अलग-अलग कार्यक्रम आयोजित किए गए हैं. यह कार्यक्रम राज्यों की राजधानी व अन्य बड़े शहरों में आयोजित किए जाएंगे. पब्लिक सेक्टर बैंक देश भर में करीब 60 हजार कैंप लगाएंगे. इस योजना के शुभारंभ के अवसर पर कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्रियों और राज्य के मुख्यमंत्रियों को भी शिरकत करने के लिए कहा गया है.

 

वित्त मंत्रालय ने एक बयान में कहा, “बुधवार को दिन लगभग एक करोड़ बैंक खाते खुलने का अनुमान है. ये शिविर सफल साबित होंगे, क्योंकि नए खाताधारकों से आवश्यक सूचनाएं हासिल करने के लिए शुरुआती शिविरों का आयोजन पहले ही किया जा चुका है.”

 

बयान के मुताबिक, “पहले कदम के तहत हर खाताधारक को एक रुपे डेबिट कार्ड और एक लाख रुपये का दुर्घटना बीमा कवर दिया जाएगा. आगे चलकर उन्हें बीमा और पेंशन उत्पादों के दायरे में लाया जाएगा.”

 

प्रधानमंत्री ने सभी बैंक अधिकारियों को तकरीबन 7.25 लाख ई-मेल भेजे थे. यह योजना वित्तीय समावेश पर एक राष्ट्रीय मिशन है, जिसका उद्देश्य देश में सभी परिवारों को बैंकिंग सुविधाएं मुहैया कराना और हर परिवार का एक बैंक खाता खोलना है.

 

इस योजना के तहत कम-से-कम 7.5 करोड़ परिवारों को कवर किये जाने का अनुमान है.

 

वित्त मंत्रालय ने कहा, “एक बैंक खाता खुल जाने के बाद हर परिवार को बैंकिंग और कर्ज की सुविधाएं सुलभ हो जाएंगी. इससे उन्हें साहूकारों के चंगुल से निकलने, आपातकालीन जरूरतों के चलते पैदा होने वाले वित्तीय संकटों से खुद को दूर रखने और तरह-तरह के वित्तीय उत्पादों से लाभान्वित होने का मौका मिलेगा.”

 

प्रधानमंत्री जन धन योजना योजना की मुख्य बातें –

 

  • यह मिशन दो चरणों में लागू होगा.

  • पहला चरण 15 अगस्त 2014 से 14 अगस्त 2015 तक होगा.

  • पूरे देश में सभी परिवारों को उचित दूरी के अंदर किसी बैंक की शाखा या निर्धारित प्वाइंट ‘बिजनेस कॉरसपोंडेंट’ के माध्यम से बैंकिंग सुविधाओं की वैश्विक पहुंच उपलब्ध कराना.

  • रुपे डेबिट कार्ड के साथ कम से कम एक मूल बैंकिंग खाता उपलब्ध कराना.

  • सभी परिवारों को एक लाख रुपये का दुर्घटना बीमा कवर.

  • दूसरा चरण 15 अगस्त 2015 से 14 अगस्त 2018 तक होगा.

  • लोगों को माइक्रो-बीमा उपलब्ध कराना.

  • बिजनेस कॉरसपोंडेंट (बीसी) के माध्यम से स्वाबलंबन जैसी गैर-संगठित क्षेत्र पेंशन योजनाएं शुरू करना.

  • शहरी और ग्रामीण दोनों क्षेत्रों को कवर किया जाएगा

 

मोदी ने स्वतंत्रता दिवस पर अपने संबोधन में इस महत्वाकांक्षी योजना की घोषणा की थी. इस योजना को सरकार मिशन के रूप में आगे बढ़ाएगी. इसके तहत अगस्त, 2018 तक 7.5 करोड़ परिवारों को दो बैंक एकाउंट उपलब्ध कराएगी.

 

इस योजना की विशेषताओं में आधार कार्ड आधारिक एकाउंट में 5,000 रुपये ओवरड्राफ्ट की सुविधा, रुपे डेबिट कार्ड जिसके साथ अब दो लाख रुपये का एक्सीडेंट कवर तथा एकाउंट होल्डर व बैंक के बीच अंतिम संपर्क की भूमिका निभाने वाले बिजनेस कॉरस्पेंडेंट को न्यूनतम मासिक 5,000 रुपये का भुगतान शामिल है. यह नई योजना पूर्ववर्ती संप्रग सरकार के वित्तीय समावेशी कार्यक्रम का सुधरा रूप है.

 

कुछ विशेषज्ञों का कहना है कि पहले की योजना में परिवारों व शहरी वित्तीय समावेशी पर ध्यान नहीं दिया गया था. इसके अलावा इसमें जटिल अपने ग्राहक को जानिये औपचारिकता थी, जिससे खाता खोलने में दिक्कत आती.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: modi_jandhan_plan
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017