कोसी से बचने के लिए नेपाल से दोस्ती जरूरी: मोदी

By: | Last Updated: Tuesday, 18 August 2015 2:28 PM

सहरसा : पिछले साल आज के ही दिन (18 अगस्त) कोसी में प्रलंयकारी बाढ़ आयी थी जिस पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का कहना है कि कोसी नदी से होने वाली त्रासदी से बचाव के लिए नेपाल से दोस्ती जरूरी है, क्योंकि प्रत्येक वर्ष कोसी से आने वाली इस मुसीबत का इलाज नेपाल में ही है.

 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा, “कोसी के कारण प्रत्येक वर्ष इस क्षेत्र के लोगों को मुसीबतों का सामना करना पड़ता है, परंतु जब तक उचित योजना नहीं बनती तब तक इस समस्या का समाधान नहीं हो सकता. इस समस्या का समाधान नेपाल में ही है.”

 

उन्होंने कहा, “नेपाल से दोस्ती मजबूत की जा रही है. समस्याओं के लिए समाधान निकालने पड़ते हैं, रास्ते खोजने पड़ते हैं.” आपको बताते चले कि कोसी नदी के तांडव के चलते हर साल बिहार के कई क्षेत्रों में भारी तबाही होती है.

 

मोदी ने कोसी में आयी  त्रासदी को याद करते हुए कहा, “आज के ही दिन (18 अगस्त) कोसी में प्रलंयकारी बाढ़ आई थी. कुसहा त्रासदी के बाद यहां के भाइयों की मदद के लिए गुजरात के लोगों ने अपनी कमाई से पांच करोड़ रुपये का चेक भेजा था”.

 

मोदी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर कटाक्ष करते हुए कहा, “पांच करोड़ रुपये का चेक भेजा गया, परंतु उनका अहंकार इतना था कि आप दर्द झेलते रहे, लेकिन उन्होंने चेक गुजरात को लौटा दिया.”

 

मोदी ने आगे कहा, “कभी-कभी जनता का दर्द, सामान्य नागरिक की पीड़ा राजनेता नहीं समझ पाते. राजनेताओं का अहंकार सातवें आसमान पर होता है. उसके कारण वे न तो संवेदनाओं को समझ पाते हैं, न ही दर्द का अनुभव कर पाते हैं.”

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Modi_Kosi_Nepal
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: kosi Narendra Modi Nepal PM Modi
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017